भारत में वैसे तो बहुत से खेल खेले जाते हैं घरेलु , राष्ट्रिय व् अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर जैसे की फुटबॉल, हॉकी , बैडमिंटन, टेनिस ,कबड्डी लेकिन मुख्य रूप से क्रिकेट को लेकर लोगो में उत्साह देखने लायक होता है . आइये जानते हैं आखिर क्रिकेट ही इतना लोकप्रिय क्यों है कि ख़ास मैचों में यहाँ का माहौल त्यौहार जैसा लगता है.

1. सबसे पहले तो ये कि यहाँ बच्चा बच्चा भी गली में क्रिकेट खेलता देखा जा सकता है यह इतना सरल व् लोकप्रिय बन चुका है कि लोग किसी मैदान में जाने का इंतज़ार भी नहीं करते ,छोटी सी छोटी जगह हो या सड़क क्रिकेट का भरपूर आनंद लिया जा सकता है.

2. अन्य खेलों के मुकाबले भारत में क्रिकेट के अधिक कोचिंग सेंटर्स हैं. ये एक बड़ा कारण है जो युवाओं को इस खेल के प्रति ज्यादा प्रेरित करता है और बेहद लोकप्रिय है.

3. अब तक भारत ने दो आईसीसी क्रिकेट विश्व कप, दो चैम्पियंस ट्राफी, एक ट्वेंटी 20 विश्व कप जीता है. और समय के साथ साथ भारत का क्रिकेट जगत में रुतबा बढ़ ही रहा है. लेकिन अगर बात करे हॉकी और फुटबॉल की तो भारत इन खेलों में अपनी कुछ ख़ास पहचान नहीं बना पाया है. 208 फीफा से मान्यता प्राप्त राष्ट्रों में से भारत की मौजूदा फीफा रैंकिंग 156 है.

4. एक अन्य प्रमुख कारण ये है कि भारतीयों फुटबॉल, हॉकी, एथलेटिक्स या टेनिस जैसे खेलों में अन्य देशों के साथ प्रतिस्पर्धा करने में कुछ हद तक असमर्थ लगता है क्योंकि शायद हम महत्वपूर्ण शारीरिक शक्ति, अच्छी ऊंचाई और मैच के लिए पर्याप्त फिटनेस में उतने दक्ष नहीं हैं लेकिन क्रिकेट के खेल में खिलाडियों का आपसी शारीरिक संघर्ष ज्यादा नहीं होता जिस वजह से ये खेल प्रतिभा व् कौशल के बल पर खेला जाता है.

5. कई सालों से भारत से कई उच्च दर्जे के खिलाडी सामने आये हैं .चाहे बल्लेबाज हो ,या गेंदबाज या फिर ऑलराउंडर…भारत के कई दिग्गज खिलाडियों जैसे कि कपिल देव , सचिन तेंदुलकर, महेंद्र सिंह धोनी, सौरव गांगुली , युवराज सिंह ने क्रिकेट को नै उचाईयों पर पहुँचाया है.

6. भारत में क्रिकेट का एक कुशल, अमीर व् अच्छी तरह से संगठित और व्यवस्थित परिषद है जो बीसीसीआई द्वारा संचालित है. क्रिकेट के लिए यह एक मज़बूत संगठन है जो समय समय पर क्रिकेट को बढ़ावा देने के लिए कदम उठता रहता है.

7. क्रिकेट में पैसा ,नाम व् शोहरत बहुत है जो सीधे सीधे लोगो को अपनी ओर खींचती है. चाहे यह वेतन हो, पुरस्कार राशि हो या सरकार की तरफ से कोई पहल की जाती हो.

8. भारत में क्रिकेट एक ऐसा खेल है जो हमेशा प्रायोजकों और विज्ञापनों की एक विस्तृत श्रृंखला को आकर्षित करता है. वे क्रिकेट पर बेहद पैसा लगते हैं सिर्फ इतना ही नहीं खिलाडी भी विज्ञापनों में लाखों रूपए की कमाई करते हैं .

9. आईपीएल का बढ़ता क्रेज…शुरुवात से ही आईपीएल ने क्रिकेट को और अधिक बढ़ावा दिया और लोगो में क्रिकेट का चस्का और रफ़्तार पकड़ता गया.

10. और एक सबसे महत्वपूर्ण कारण “सचिन तेंदुलकर” जिन्हे कि क्रिकेट का भगवन कहा जाता है. लोग जितने क्रिकेट के दीवाने उतने ही सचिन के . इन्होने क्रिकेट को एक नए व् ऊँचे मुकाम पर पहुँचाया.

  • SHARE

    sportzwiki हिंदी सभी प्रकार के स्पोर्ट्स की सभी खबरे सबसे पहले पाठकों तक पहुँचाने के लिए प्रतिबद्ध है. हमारी कोशिस यही रहती है, कि हम लोगो को सभी प्रकार की खबरे सबसे पहले प्रदान करे.

    Related Articles

    भुवनेश्वर कुमार के नाम दर्ज है अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट का सबसे शर्मनाक रिकाॅर्ड

    भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार कल यानि 23 नवंबर को शादी के बंधन में बंधने जा रहे हैं। श्रीलंका के खिलाफ...

    बड़ी खबर: अनुष्का शर्मा से अफेयर के बीच दिसम्बर में इस माँ की पसंद...

    इन दिनों भारतीय टीम के खिलाड़ियों का शादी का सीजन चल रहा है. 23 नवंबर को ही भारतीय टीम के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार...

    यह भारतीय खिलाड़ी नहीं चाहता अब धोनी आगे किसी सीरीज में हो भारतीय टीम...

    भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और बल्लेबाज-विकेटकीपर महेन्द्र सिंह धोनी ने अपने खेल के दमदार प्रदर्शन के दम पर अर्न्तराष्ट्रीय क्रिकेट जगत में...

    भारतीय क्रिकेटर्स करोड़पति परिवार के है दामाद, जाने क्या करते है इनके ससुराल वाले

    क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर की पत्नी अंजली तेंदुलकर आज अपना 49वाँ जन्मदिन माना रही हैं. वर्ष 1995 में सचिन-अंजली ने...

    ये हैं क्रिकेट की दुनिया के 10 सबसे बदनाम और चरित्रहीन खिलाड़ी, इनके कारनामे...

    क्रिकेट को जेंटलमैन गेम के नाम से जाना जाता है, जबकि भारत जैसे बड़े क्रिकेटिंग देश में क्रिकेट को भारत में धर्म की तरह...