युवराज सिंह के बारे में 12 अज्ञात और रोमांचक बाते - Sportzwiki
क्रिकेट

युवराज सिंह के बारे में 12 अज्ञात और रोमांचक बाते

  • भारत के बाये हाथ के स्टाइलिश आलराउंडर बल्लेबाज युवराज सिंह हमेशा चर्चा में रहते है, युवराज सिंह को विश्वकप 2011 का हीरो माना जाता है, लेकिन इस साल 2015 में उनके द्वारा पिछले किये गये पिछले कुछ सालो के खराब प्रदर्शन की वजह से टीम में शामिल नहीं किया गया, लेकिन अभी हाल ही में हुयी आईपीएल की नीलामी में जब दिल्ली डेयरडेविल्स ने युवराज को 16 करोड़ के रिकार्ड दाम पर खरीदा तो एक बार फिर से युवराज के चर्चे तेज हो गये.

    यहाँ हम युवराज के बारे में 12 रोमांचक तथ्य प्रकट कर रहे है, क्यूंकि युवराज का लकी नम्बर भी 12 है:

    1.युवराज सिंह के पिता योगराज सिंह भारत के पूर्व तेज गेंदबाज और पंजाबी फिल्मो के एक्टर रह चुके है.

    2.युवराज सिंह, सचिन तेंदुलकर के बाद अकेले भारतीय है, जिन्हें इंग्लिश काउन्ट्री यार्कशायर ने साइन किया है.

    3.युवराज सिंह को माइक्रोसॉफ्ट ने ब्रांड एम्बेसडर के रूप में साइन किया है.

    4.युवराज सिंह ने बचपन में रास्ट्रीय U-14 रोलर स्कैटरिंग चैम्पियनशिप जीती थी.

    5.युवराज सिंह का जन्मदिन 12 दिसम्बर को है, इसलिये वो 12 नम्बर की जर्सी पहनते है. उनका लकी नम्बर 12 है.

    6.युवराज सचिन के बचपन से फैन रहे है, इसका खुलासा उन्होंने सचिन के साथ एक लम्बी साझेदारी निभाने के बाद 2008 में कहा था.

    7.युवराज सिंह ने अपने बचपन की शिक्षा चंडीगढ़ के DAV स्कूल में प्राप्त की थी.

    8.युवराज सिंह ने 10 साल की उम्र में अपनी माँ से जिद कर के साइकल खरीदवाया था, और पहली बार में ही एक रिक्सा वाले से लद गये थे, जिसमे उन्हें 10 खरोंचे आई थी.

    9.बचपन में युवराज सिंह के एक दोस्त ने एक एयर गन लिया था, उसे कोई चलाना नहीं जनता था तब युवराज ने बोला उन्हें आता है, और उन्होंने उस गन से अपने दोस्त के पेट पर फायर कर दिया था, लेकिन भगवान का सुक्र था, कि उसे कोई चोट नहीं आई थी.

    10.हम सभी युवराज के कैंसर के बारे में जानते है, लेकिन यह किसी को नहीं पता होगा, कि एक किटाणु ने उनके फेफड़े में छेद कर दी थी, जिसके वजह से  युवराज की यूएस में 3 बार सिमोथरैपी करानी पड़ी थी.

    11.युवराज सिंह ने अक्षय कुमार निर्मित एक एनिमेसन फिल्म में अपनी आवाज दी थी, उस फिल्म का नाम “जम्बो” है.

    12.कैंसर से उबरने के बाद युवी कैंसर पीडितो की मदद के लिये एक संस्था चलाते है, जिसका नाम है “YouWeCan”

     

     

    sw
    Click to comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Most Popular

    Top