क्रिकेट प्रशंसकों के लिए ये एक बड़ा आश्चर्य था जिसमें जिम्बाब्वे दौरे के लिए भारतीय टीम के लिए कप्तान के रूप में अजिंक्य रहाणे का नाम घोषित किया गया था. शीर्ष खिलाड़ियों में से कई को आराम दिया गया था, जिस कारण अजिंक्य को यह मौका मिला. ऐसा कोई पहली बार नहीं था जब किसी भारतीय खिलाडी को अचानक वनडे टीम का कप्तान बनने का अवसर मिला हो. विभिन्न परिस्थितियों में इस दुर्लभ और प्रतिष्ठित अवसर को पाने वाले और भी कई खिलाडी रहे हैं,

आइये देखते हैं कौन थे वे खिलाडी-

# 5 अजिंक्य रहाणे
अजिंक्य जिन्हे की इस मौके से सिर्फ दो सप्ताह पहले बांग्लादेश के खिलाफ अंतिम दो मैचों के लिए टीम से हटा दिया गया था उन्हें ही भारतीय टीम के कप्तान के रूप में नियुक्त किया गया. महेंद्र सिंह धोनी , विराट कोहली और अन्य महत्वपूर्ण खिलाड़ियों को विश्व कप और आईपीएल सहित इस साल काफी क्रिकेट खेले जाने के कारण आगामी सीरीज के लिए आराम दिया गया था. इसी वजह से टीम में अजिंक्य को ही कप्तान के पद के लिए सही विकल्प मानते हुए उन्हें टीम की कमान सौंपी गयी थी.

# 4 गौतम गंभीर
विश्व कप 2011 से पहले 2010 में न्यूजीलैंड के खिलाफ श्रृंखला में जब धोनी को विराम दिया गया था तब गौतम गंभीर को कप्तान बनाया गया था. कप्तानी करते हुए गंभीर ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 5 और वेस्ट इंडीज के खिलाफ 1 सहित सभी 6 मैच जीते थे. खराब फार्म के कारण वह अब काफी समय से भारतीय टीम से बाहर हैं. और हाल ही में अपने अंतरराष्ट्रीय करियर को दोबारा शुरू करने के लिए जस्टिन लैंगर के नेतृत्व में ट्रेनिंग ले रहे थे.

 

# 3 सुरेश रैना
सुरेश रैना ने जिम्बाब्वे के खिलाफ 2010 में टीम इंडिया के कप्तान के रूप में अहम भूमिका निभाई थी. उस दौरान सभी बड़े खिलाडियों को खेल से आराम दिया गया था ऐसे में रैना को कप्तान पद सँभालने का मौका मिला. हालाँकि उनका यह दौर कुछ खास अच्छा नहीं रहा था, भारत तीन देशों के टूर्नामेंट के फाइनल में जगह नहीं बना पाया था. लेकिन फिर वेस्टइंडीज के खिलाफ 2011 में अगले मैच में एक कप्तान के रूप में सुरेश रैना ने अपने प्रदर्शन में सुधार किया और 3-2 से सीरीज में जीत हासिल की.

# 2 वीरेंद्र सहवाग
2003 में बांग्लादेश दौरे के दौरान सचिन तेंदुलकर और राहुल द्रविड़ जैसे बड़े खिलाड़ी व्यक्तिगत कारणों से श्रृंखला से बाहर थे जबकि कप्तान सौरव गांगुली को तीसरे वनडे के लिए आराम दिया गया था ऐसे में चयनकर्ताओं के पास सहवाग के अलावा कोई विकल्प नहीं था. सहवाग की कप्तानी में भारत ने 4 विकेट से मैच जीत लिया था. वीरू को पूरी श्रृंखला के लिए नेतृत्व करने का मौका कभी नहीं मिला लेकिन एक उप कप्तान होने के नाते, कप्तान की अनुपस्थिति में इन्हे टीम का नेतृत्व करने के लिए नियुक्त किया गया था.

# 1 अनिल कुंबले
अनिल कुंबले ने केवल 2002 में इंग्लैंड के खिलाफ एक एकदिवसीय मैच में भारतीय टीम की कप्तानी की थी. भारतीय कप्तान सौरव गांगुली घायल हो गए थे जिस वजह से अनिल को श्रृंखला के तीसरी वन डे में टीम की अगुवाई करने का मौका मिला. भारत 4 विकेट से यह मैच जीत गया था.

  • SHARE
    sportzwiki हिंदी सभी प्रकार के स्पोर्ट्स की सभी खबरे सबसे पहले पाठकों तक पहुँचाने के लिए प्रतिबद्ध है. हमारी कोशिस यही रहती है, कि हम लोगो को सभी प्रकार की खबरे सबसे पहले प्रदान करे.

    Related Articles

    INDvNZ: जिस खिलाड़ी की वजह से किया ऑस्ट्रेलिया फतह पहले वनडे मैच से उसका...

    भारत और न्यूजीलैण्ड के बीच खेले जाने वाले तीन वनडे मैचों की सीरीज का पहला एकदिवसीय मैच कल,यानि 22 अक्टूबर को मुम्बई के वानखेड़े...

    RUMOUR: रोमन रेन्स के TLC से हटने के बाद, खत्म होगी शील्ड!

    रोमन रेन्स इस बार की TLC से बाहर हो गये हैं और उनके बाहर होते ही शील्ड के फैन्स भी मायूस हो गये हैं....

    श्रीलंका के लीजेण्ड क्रिकेटर कुमार संगकारा ने चुनी आल टाइम ड्रीम्स टीम, सचिन को...

    श्रीलंका क्रिकेट टीम के दिग्गज खिलाड़ी कुमार संगकारा ने हालिया समय में अपनी वर्ल्ड इलेवन ड्रीम्स टीम को चुना है, जिसमें आॅस्ट्रेलिया के विस्फोटक...

    पहले वनडे से ठीक पहले कोहली ने साफ की अजिंक्य रहाणे का बल्लेबाजी क्रम,...

    कंगारुओं के भारत दौरे से वापस अपने हमवतन जानें के बाद अब न्यूजीलैण्ड की क्रिकेट टीम भारत की सरजर्मी पर पहुंच चुकी है, जिसकों...

    वीडियो: सचिन के बेटे अर्जुन तेंदुलकर ने की विराट को ऐसी खतरनाक गेंद कोहली...

    क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने अपने जबरदस्त और असाधारण बल्लेबाजी के दम पर जो ख्याति अर्न्तराष्ट्रीय क्रिकेट जगत में बटोरी...