स्वास्थ्य खेल के किसी भी रूप में महत्वपूर्ण है. एक खिलाडी को चाहे वह कोई भी खेल खेलता हो उसे सामान्य व्यक्ति की तुलना में अधिक फिट रहने की जरुरत होती है. पहले के दौर में खेल में फिटनेस को इतनी तवज्जो नहीं दी जाती थी. लेकिन आज वक्त बदल चुका है और खिलाडी अपने स्वस्थ पर पूरा ध्यान देते हैं और अच्छा व् पौष्टिक खाना लेते हैं . हालाँकि कुछ खिलाडियों का अपना ही मापदंड है. स्वस्थ सेहत में , ख़राब खानपान , अनुचित प्रशिक्षण व् आलसीपन बाधा डालते हैं. यह हम लेकर आये हैं सभी समय के शीर्ष 7 आलसी खिलाडियों की सूची.

इंज़माम उल हक़ –


एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय मैचों में पाकिस्तान के लिए अग्रणी रन बनाने वाले और पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इंजमाम अपनी प्रतिभा के अलावा अन्य चीज़ों की वजह से भी लोकप्रिय रहे. उनमे से एक कारन उनका अधिक वजन और अलसी होना था. वे एक बेहतर फील्डर नहीं थे. वे विकेट्स के बीच में दौड़कर रन लेने में असमर्थ रहते थे और जल्द ही ज्यादातर इसी कारण आउट होते थे.  इंजमाम 40 बार रन आउट हुए जो कि क्रिकेट के इतिहास में दूसरा रिकॉर्ड है.

क्रिस गेल –


वेस्ट इंडीज का ये खिलाडी बढ़िया बल्लेबाज़ तो है लेकिन सुस्तपने के चलते वह एक या दो रन लेने में आलास करता है. क्रिस का मानना है कि विकेट्स के बीच में दौड़कर ऊर्जा बेकार करने वाली बात है. इन्होने अपने करियर के आधे मैच तो पूरी तरह तंदरुस्त व् फिट न होते हुए ही खेले हैं.

मुनाफ पटेल –


बरोदा का जन्मा यह भारतीय तेज़ गेंदबाज अपने अलसी और निष्क्रिय फील्डिंग के कारण खबरों में बना. गंभीर छोटे लगने के बाद  मुनाफ की फील्डिंग में और बाधा होने लगी और उसकी गति धीमी पड़ने लगी. साधारण फील्डिंग और प्रयास की कमी के कारण भी मुनाफ का क्रिकेट करियर मंद रहा.

मोहम्मद इरफ़ान –


पाकिस्तान का दुबला तेज़ गेंदबाज फील्डिंग के क्षेत्र में लोगों का पसंदीदा रहा. इरफ़ान को लेकर गेंद को उठाने के लिए झुकने या कूदने के बारे में तो भूल ही जाओ. इरफ़ान की लम्बी भरी टांगों ने भी इस काम को आसान नहीं किया. क्रिकेट जगत में इस खिलाडी के आलसीपन व् सुस्त रवैय  कि वजह से उपहास भी हुआ.

नासिर जमशेद –


आंकड़ों का आंकलन करने वाले नासिर की तुलना में अधिक कैच छोड़ने वाले किसी अन्य खिलाडी को खोजने का संघर्ष कर रहे हैं. खिलाडी की सिर्फ फील्डिंग ही नहीं विकेट के बीच दौड़ कर रन लेने में भी कमी है. पाकिस्तान क्रिकेट में सबसे ख़राब फील्डिंग के लिए बिना किसी शक के  नासिर, इरफ़ान को टक्कर देता है.

ड्वेन लेवेरॉक –


ड्वेन का उपनाम स्लग्गो है. यह खिलाडी क्रिकेट की पिच पर कदम रखने वाला सबसे भरी खिलाडी है. अपनी राष्ट्रिय टीम बरमूडा के लाइट यह अल्ल्रौन्देर खिलाडी रहा है.जब 2007 में ICC विश्व कप हुआ था तब ड्वेन का वजन लगभग 280 पौंड था. इस खिलाडी ने कभी अपने स्वास्थ पर ध्यान नहीं दिया.

युसूफ पठान –


क्रिकेट के मैदान पर यह भारतीय हरफनमौला सबसे बड़ी प्रेरक शक्ति नहीं है. वह एक एक रन लेने की बजाये ग्राउंड के बहार गेंद को हिट कर रन बनाने में यकीन करता था. अपनी फर्नेस को युसूफ भी उतना सजग नहीं था.

  • SHARE

    sportzwiki हिंदी सभी प्रकार के स्पोर्ट्स की सभी खबरे सबसे पहले पाठकों तक पहुँचाने के लिए प्रतिबद्ध है. हमारी कोशिस यही रहती है, कि हम लोगो को सभी प्रकार की खबरे सबसे पहले प्रदान करे.

    Related Articles

    अगरकर, मो. कैफ सहित इन 10 खिलाड़ियों ने धर्म की सीमाएं तोड़कर की दुसरे...

    कई ऐसे क्रिकेटर्स हैं, जो हिंदू हैं लेकिन उन्होंने शादी मुस्लिम लड़की से की हैं. तो कई ऐसे भी क्रिकेटर्स हैं जो मुसलमान हैं,...

    वनडे क्रिकेट में सबसे अधिक चौके लगाने वाले टॉप 8 बल्लेबाजो में 3 भारतीय...

    वनडे क्रिकेट की बात करे, तो वनडे क्रिकेट में चौके और छक्के हमेशा सबसे ज्यादा लगते हैं. क्रिकेट का कोई भी फ़ॉर्मेट हो उसमे...

    टी10 टूर्नामेंट : सहवाग की टीम मराठा अरेबियंस ने पंजाबी लैजेंड्स को हरा सेमीफाइनल...

    टी10 टूर्नामेंट में आज शुक्रवार को दिन का तीसरा मैच व टूर्नामेंट का 9वां मैच वीरेंद्र सहवाग की कप्तानी वाली मराठा अरेबियंस और मिस्बाह...

    ये है वो 10 टीम जिनके नाम है अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन...

    क्रिकेट एक ऐसा खेल है, जो लोकप्रिय होने के साथ साथ काफी खेला भी जाता है. लगभग हर टीम के सालभर में कई दूसरे...

    सैंड आर्टिस्ट सुदर्शन पटनायक ने रेत से ये कलाकृति बना दिया विराट-अनुष्का को शादी...

    विराट कोहली और अनुष्का शर्मा ने अपने शादी की घोषणा ट्वीटर के माध्यम से की। इटली के टस्कनी शहर में हुई इस शादी की...