EAST LONDON, SOUTH AFRICA - OCTOBER 22: Aiden Markram of South Africa during the 3rd Momentum ODI match between South Africa and Bangladesh at Buffalo Park on October 22, 2017 in East London, South Africa. (Photo by Richard Huggard/Gallo Images)

भारतीय टीम ने साउथ अफ्रीका की धरती पर वनडे सीरीज के शुरूआती तीन मुकाबले बड़े ही आसानी से जीत लिये थे. हालाँकि, केपटाउन में खेले गये चौथे वनडे मैच में भारतीय टीम को बारिश के चलते हार का सामना करना पड़ा था और भारतीय टीम का विजय अभियान भी रुका था, लेकिन अब भारतीय टीम का विजय अभियान एक बार फिर से चल चुका है, क्योंकि भारतीय टीम ने साउथ अफ्रीका की टीम को उसी की धरती में 6 मैचों की सीरीज का पांचवा वनडे मैच 73 रन से हरा दिया है और इतिहास रचते हुए पहली बार साउथ अफ्रीका में सीरीज अपने नाम कर ली है.

अच्छी बल्लेबाजी करते हुए खड़ा किया सम्मानजनक स्कोर 

भारत ने पहले खेलते हुए इस मैच में एक सम्मानजनक स्कोर बनाया. भारत के लिए इस मैच में रोहित शर्मा ने 115 रन का शतक लगाया. जबकि कप्तान कोहली ने 36 शिखर धवन ने 34 व श्रेयस अय्यर ने 30 रन का योगदान दिया. भारत इन सभी पारी के चलते निर्धारित 50 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 275 रन का एक सम्मानजनक स्कोर बनाने में कमयाब रही.

एक बार फिर भारतीय गेंदबाजो के बेबस नजर आये अफ़्रीकी बल्लेबाज 

सीरीज के और मैचों की तरह इस मैच में भी साउथ अफ्रीका के बल्लेबाज भारतीय गेंदबाजो के आगे बेबस नजर आये साउथ अफ्रीका के 7 बल्लेबाज तो ऐसे रहे जो दहाई का आँकड़ा भी पार नहीं कर पाये. साउथ अफ्रीका टीम शुरूआत से ही अपने विकेट गंवाती रही और अंत में महज 42.2 ओवर में 201 रन पर आल आउट हो गई.

मैच हारने के बाद ये कहा साउथ अफ्रीका के कप्तान ने 

हारने के बाद साउथ अफ्रीका के कप्तान एडियन मार्करम ने अपने बयान में कहा, “भारतीयों खिलाड़ियों को क्रेडिट जाता है, वे आज बहुत अच्छी तरह से खेले हैं. हमारी बल्लेबाजी टिक कर नहीं खेल पाई और जब आप विकेट गंवाते हैं तो रन-रेट को अच्छा बरकरार रखना मुश्किल हो जाता है.

भारतीय टीम के पास वनडे के कुछ बहुत ही क्वालिटी वाले खिलाड़ी है. इसलिए हम उन्हें जीत का श्रेय देते हैं, उन्होंने अपनी योजनाओं को अच्छी तरीके से अंजाम दिया.

लुंगी नागीदी ने हमारे लिए अच्छी शुरुआत की और हमें मध्य में कुछ विकेट भी दिलाये. हमने भारतीय टीम को कम से कम रन पर रोका ,इसलिए हम इस लक्ष्य का पीछा करने के लिए खुश थे.

हमें सिर्फ कुछ अच्छी साझेदारी की जरूरत थी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. हमे अपने ऊपर से दबाव हटाने के लिए साझेदारी बनाने की जरुरत थी.

भारतीय गेंदबाजो ने अच्छी गेंदबाजी की है, इसलिए उनकी गेंदबाजी को भी श्रेय जाता है. खासतौर भारतीय रिस्ट स्पिनरों को. हम अब सेंचुरियन में होने वाले आखिरी वनडे मैच को जीतना चाहेंगे और सीरीज का अच्छा अंत करना चाहेंगे. अब हम अगले मैच में अच्छा करने की ओर देखेंगे.”

  • SHARE

    Related Articles

    अगले शीतकालीन ओलम्पिक मेंभी संयुक्त कोरियाई आइस हॉकी टीम!

    गांगनेयुंग (दक्षिण कोरिया), 19 फरवरी; आइस हॉकी की वैश्विक संस्था ने सोमवार को कहा कि वह अगले शीतकालीन ओलम्पिक खेलों में दोनों कोरियाई देशों की...

    खेलों इंडिया स्कूल गेम्स को पहले संस्करण को मिले 10 करोड़ दर्शक

    मुंबई, 19 फरवरी; खेल मंत्रालय द्वारा आयोजित और स्टार स्पोर्ट्स द्वारा प्रसारित खेलो इंडिया स्कूल गेम्स के पहले संस्करण ने अद्वितीय सफलता हासिल की। इस...

    एफए कप : टॉटेनहम ने कड़े मुकाबले में रोचडाले से ड्रॉ खेला

    रोचडाले, 19 फरवरी; इंग्लिश क्लब टॉटेनहम हॉटस्पर ने एफए कप के पांचवें दौर में रविवार को रोचडाले एफसी से 2-2 से ड्रॉ ख्ेाला। बीबीसी के...

    डब्ल्यूटीए रैंकिंग : कतर ओपन जीतकर शीर्ष-10 में लौटीं क्वितोवा

    मेड्रिड, 19 फरवरी; चाकू से हुए हमले में चोटिल होने के कारण काफी समय तक टेनिस से बाहर रहने के बाद पिछले साल चेक गणराज्य...

    स्पोर्ट्स राउंड अप: एक नजर में पढ़े 19 फरवरी 2018 की खेल जगत से...

    हम आपके खेल के प्रति प्रेम को बहुत अच्छे से समझते है और इसलिए हम रोज की तरह आपकी भाग-दौड़ भरी जिन्दगी में अपने...