आल टाइम भारतीय XI बनाम ऑस्ट्रेलियन XI - Sportzwiki
एडिटर च्वाइस

आल टाइम भारतीय XI बनाम ऑस्ट्रेलियन XI

  • भारत और ऑस्ट्रेलिया दो ऐसे देश है जिनका क्रिकेट इतिहास समृद्ध रहा है और दोनों चिर प्रतिद्वंद्वी भी माने जाते हैं. ऑस्ट्रेलिया ने क्रिकेट जगत में वर्ष 2000-2010 के बीच अपना दबदबा कायम रहा, लेकिन अब भारतीय टीम, ऑस्ट्रेलियाई टीम की बादशाहत को हासिल करने में लगी हुई हैं.

    इस पोस्ट में हम कुछ स्पेशल निर्माण की कोशिश करेगे, दोनों देशो की आल-टाइम XI टीम के बीच एकदिवसीय सीरीज रखी गयी हैं. इस उच्च कोटि की सीरीज के लिए निष्पक्ष स्थान रखे गए जिस से किसी भी देश अन्य को फायदा ना मिल पायें. 4 मैचो की  द्विपक्षीय सीरीज लॉर्ड्स (इंग्लैंड), गाले (श्रीलंका), एंटीगुआ (वेस्ट-इंडीज), जोहान्सबर्ग (दक्षिण-अफ्रीका) में होगी.

    भारतीय एकादश

    1) वीरेंद्र सहवाग
    2) सचिन तेंदुलकर
    3) सौरव गांगुली(C)
    4) विराट कोहली
    5) राहुल द्रविड़
    6) युवराज सिंह
    7) एमएस धोनी (wk)
    8) कपिल देव
    9) जवागल श्रीनाथ
    10) हरभजन सिंह
    11) ज़हीर खान

    रिजर्व :- अनिल कुंबले, मोहिंदर अमरनाथ, वीवीएस लक्ष्मण, अजित अगरकर

    ऑस्ट्रलियन एकादश

    1) मार्क वाँ
    2) एडम गिलक्रिस्ट(WK)
    3) रिकी पोंटिंग
    4) ग्रेग चैपल
    5) स्टीव वाँ (C)
    6) एंड्रू साइमंड्स
    7) माइकल बेवन
    8) शेन वार्न
    9) ब्रेट ली
    10) डेनिस लिली
    11) ग्लेंन मैकग्राथ

    रिजर्व:- मिचेल जॉनसन, माइकल क्लार्क, माइकल हसी, मैथ्यू हेडन

    भारतीय टीम की रणनीति

    भारतीय टीम हमेशा से अपनी मजबूत बल्लेबाजी के लिए जानी जाती है और ज्यादातर मौको पर देखा भी गया कि भारतीय बल्लेबाज़ भारत को मैच जीताते हैं. ऑस्ट्रेलिया के आल टाइम XI के विरुद्ध भारतीय टीम टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी हुए मजबूत बल्लेबाजी की मदद से कम से कम 280-290 के करीब स्कोर बोर्ड पर लगाएगी.

    कपिल और ज़हीर के स्विंग गेंदबाजी के बाद श्रीनाथ पहले बदलाव के तौर पर गेंदबाजी करेगे और हरभजन पॉवरप्ले के बाद. लक्ष्य का पीछा करने के लिए भारतीय टीम के स्टार विराट कोहली अच्छी शुरुआत देगे और कूल एमएस धोनी मैच को फिनिश करेगे.

    टीम के ट्रम्प कार्ड प्लेयर हरभजन और कोहली होंगे, दोनों खिलाड़ी हरभजन और कोहली ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध अच्छा प्रदर्शन करते आते हैं.

    ऑस्ट्रेलिया की रणनीति

    ऑस्ट्रेलिया के पास वो सब है जिसकी मदद से यह विश्व एकादश टीम को भी हरा सकते हैं. आल-टाइम ऑस्ट्रेलिया XI अगर पहले बल्लेबाज़ी करते है तो वह सिर्फ आक्रमण, आक्रमण, और आक्रमण ही करेगी. गिलक्रिस्ट और मार्क वाँ जैसे सलामी बल्लेबाजी किसी भी गेंदबाजी को तहस-नहस करने में सक्षम हैं.

    अगर ऑस्ट्रेलिया पहले गेंदबाजी करती है तो उनका मुख्य लक्ष्य होगा कि सचिन को जल्दी आउट किया जाए जिससे देखा गए है कि ज्यादातर मौको पर भारतीय बल्लेबाजी दवाब में आ जाती हैं. सहवाग और कोहली की विकेट भी बेहद महत्वपूर्ण होगी.

    संभावित नतीजा

    4 मैचो की सीरीज में ऑस्ट्रेलिया 3-1 से जीत सकती हैं, ऑस्ट्रेलिया लॉर्ड्स, जोहान्सबर्ग पर एंटीगुआ में जीत हासिल करेगे जबकि भारत को गाले में जीत मिलेगी.

    संभावित मैन ऑफ़ दी सीरीज:
    कप्तानी के दवाब से मुक्त ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ रिकी पोंटिंग भारतीय आल टाइम XI के विरुद्ध सीरीज में मैन ऑफ़ दी सीरीज होगे.

    संभावित, सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी
    ऑस्ट्रेलिया के पास विश्वस्तर के गेंदबाजी होने के बावजूद सचिन के बल्ले को खामोश रखना उनके लिए आसान नहीं होगी. सचिन सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज़ होगे.

    धोनी की सीरीज की हार के लिए दोषी ठहराया जायेगा क्यूंकि वह मैच को अच्छे तरीके से खत्म नहीं कर पायें जब भारत को अंतिम 11 गेंदों में 20 रनों की जरुरत थी और अंतिम गेंद पर छक्के की. अगर सीरीज भारत जीतती तो सचिन तेंदुलकर मैन ऑफ़ दी सीरीज हो सकते थे. सचिन और पोंटिंग के बाद कोहली तीसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज़ होते.

    सबसे ज्यादा विकेट लेने वाला गेंदबाज़

    ग्लेंन मैकग्राथ और हरभजन सिंह संयुक्त रूप से सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज होंगे. मैकग्राथ पूरी सीरीज अच्छी गेंदबाजी करेगे जबकि गाले में 6 विकेट लेकर हरभजन मैकग्राथ के बराबर विकेट लेने वाले गेंदबाज़ बनेगे. डेनिस लिली को एंटीगुआ में शानदार हैट-ट्रिक के लिए मोस्ट वैल्यूबल प्लेयर चुना जायेगा.

     

     

    डिस्क्लेमर: यह पोस्ट राइटर की कल्पना पर आधारित है, इस पोस्ट से आप असहमत भी हो सकते हैं.

    sw

    Most Popular

    Top