क्रिकेट डेस्‍क। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने सोमवार को श्रीलंका के खिलाफ 9 फरवरी से शुरू होने वाली तीन टी-20 मैचों की सीरीज के लिए भारतीय टीम की घोषणा कर दी है। ऑस्ट्रेलिया दौरे पर शानदार प्रदर्शन करने वाले और मैन ऑफ द सीरीज चुने जाने वाले विराट कोहली को इस सीरीज में आराम देने का फैसला किया गया है। वहीं दूसरी ओर दिल्ली के बाएं हाथ के स्पिनर पवन नेगी टीम में नए चेहरे के रूप में शामिल हुए।

श्रीलंका सीरीज के लिए जिस टीम इंडिया का चुनाव किया गया है, उसके खिलाडि़यों के बारे में हम आपको विस्तार से जानकारी देंगे। इसके साथ ही उनकी ताकत और कमजोरियों की भी चर्चा करेंगे-

1- महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान)
महेंद्र सिंह धोनी ने अपने जीवन में कई मुकाम हासिल किए है और ऑस्ट्रेलिया को उसी की जमी पर क्लीन स्वीप से मात देने वाले वह पहले भारतीय क्रिकेट कप्तान है। माही की सबसे बड़ी खासियत अपने खिलाडि़यों पर विश्वास करना है। लेकिन इस समय उनकी बल्लेबाजी प्रशंसकों और क्रिकेट विशेषज्ञों के लिए चिंता का विषय बनी हुई है। ऐसा भी माना जा रहा है कि टी-20 सीरीज में ऑस्ट्रेलिया को हराने के बाद धोनी का विश्वास लौटा होगा और वो एक फिर अपने रंग में नजर आ सकते हैं।

2- रोहित शर्मा
रोहित शर्मा के लिए भी ऑस्ट्रेलिया दौरा काफी शानदार रहा है और वनडे के बाद टी-20 मैचों में भी उन्होंने शानदार प्रदर्शन करते हुए 47.66 की औसत से 143 रन बनाए। लेकिन उनकी फॉर्म का उतार चढ़ाव और विकटों के बीच दौड़ हमेशा चिंता का विषय रही है। लेकिन इस बात में भी कोई दौराए नहीं कि अगर उनका बल्‍ला चलता है तो टीम इंडिया काफी मजबूत स्थिति में होती है।

3- शिखर धवन
शिखर धवन के लिए भी ऑस्ट्रेलिया दौरा काफी महत्‍वपूर्ण साबित हुआ। हालांकि टी-20 मैचों में उनसे जितनी उम्मीद है उतना शानदार प्रदर्शन उनका नहीं रहा और उन्‍होंने 24.33 की औसत से 73 रन बनाए। अगर शिखर की कमजोरी की बात की जाए तो जल्द  विकेट गंवाना और आगे बढ़कर शॉट खेलने पर उन्हें नियंत्रण रखना होगा। अच्छी शुरूआत के लिए टीम इंडिया उनसे काफी उम्मीदे लगाती है।

4- अंजिक्य रहाणे
लंबे समय से शानदार प्रदर्शन कर रहे अंजिक्य रहाणे की टीम इंडिया के मध्यमक्रम में एक बहुत ही महत्‍वपूर्ण भूमिका है। लेकिन इस समय सबसे ज्यादा चिंता उनकी फिटनेस को लेकर बनी हुई है। टीम को मजबूती देने के लिए उनका फिट होना काफ महत्‍वपूर्ण माना जा रहा है।

5- सुरेश रैना
सुरेश रैना भारतीय टी-20 के सबसे सफल बल्‍लेबाज है और यह मुकाम उन्होंने कैसे हासिल किया यह ऑस्ट्रेलिया दौरे में भी साबित हो गया। तीन मैचों की सीरीज में उन्हें दो में बल्लेबाजी करने का मौका मिला और उन्होंने दो मैचों में कुल 90 रन बनाए जिसमें से आखरी मैच में वह 49 रन बनाकर नाबाद रहे। लेकिन रैना के पुल शॉट और आगे बढ़कर गेंद रोकने की आदत को नियंत्रित करना होगा।

6- युवराज सिंह
युवराज सिंह ने काफी लंबे समय बाद टीम इंडिया में वापसी की है और उन्‍हें एक ही मैच में बल्लेबाजी का मौका मिला। लेकिन उस एक मैच के आखरी ओवर ने ये साबित कर दिया कि क्यों प्रशंसक उनके दीवाने हैं। उन्होंने  ऑस्ट्रेलिया सीरीज में 15 रन बनाए लेकिन बहुत ही महत्‍वपूर्ण और सही समय पर। इस समय युवी के लिए सबसे बड़ी मुश्किल अपने खोए हुए आत्मविश्वास को पाना है।

7- मनीष पांडे
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में पहले लगा कि मनीष पांडे अपने बल्ले से कोई करिश्मा नहीं दिखा पाये, लेकिन अंतिम एकदिवसीय मैच में उन्होंने बहुत ही शानदार शतक लगाकर लोगों को अपनी प्रतिभा मानने पर मजबूर कर दिया। अब श्रीलंका दौरे पर देखना होगा कि वह अपनी फॉर्म को किस तरह से कायम रख पाते हैं।

8- हार्दिक पंड्या
हार्दिक पंड्या ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने टी-20 डेब्यू मैच के पहले ही ओवर में 5 वाइड डालकर लोगों को नाराज कर दिया था। हालांकि धोनी ने उन्हें और मौके दिए और वह सीरीज में 3 विकेट लेने में कामयाब भी रहे। लेकिन उनकी लाइन लैंथ अभी भी सवालों के घेरे में है, और विशेषज्ञों का कहना है कि वह अंतरराष्‍ट्रीय दवाब को झेल नहीं पा रहे। श्रीलंका दौरे पर उन्हें अपने आप को साबित करने की सबसे बड़ी चुनौती रहेगी।

9- रवींद्र जडेजा
वैसे तो रवींद्र जडेजा को टीम इंडिया में एक ऑलराउंडर के रूप में देखा जाता है लेकिन ज्यादतर वह अपनी गेंदबाजी से ही प्रभावित करने में कामयाब हुए है। ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भी उन्होंने तीन मैचों में 94 रन देकर 12 विकेट हासिल किए। उनकी सबसे बड़ी कमजोरी विकेट के बीच तालमेल और बल्लेबाजी में खराब शॉट खेलना है। उन्हें इस और ध्‍यान देना होगा क्यूंकि टीम इंडिया उनसे एक ऑलराउंडर की उम्मीद करती है।

10- रविचंद्रन अश्विन
अगर कहा जाए कि भारतीय स्पिन गेंदबाजी का दारोमदार इस समय रविचंद्रन अश्विन के कंधों पर है तो गलत नहीं होगा। वह ऑस्ट्रेलिया दौरे के तीसरे सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने तीन मैचों में 4 विकेट अपने नाम किए। लेकिन उनके सामने अब श्रीलंकाई बल्लेबाजो की चुनौती होगी जो स्पिन को ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजो के मुकाबले काफी अच्छा खेलते हैं।

 

 

 

11- जसप्रीत बुमराह
ऑस्ट्रेलिया दौरे की सबसे बड़ी खोज साबित हुए हैं जसपीत बुमराह। उन्‍होंने अपनी गेंदबाजी से लोगों को काफी प्रभावित किया और तीन मैचों की सीरीज में सर्वाधिक 6 विकेट हासिल करने वाले गेंदबाज बन गए। बुमराह के लिए सबसे बड़ी चुनौती अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट के दवाब को झेलना होगी इसके साथ ही उन्हें इस बात का ध्यान रखना होगा कि उन्हें अभी दुनिया के कई और दिग्गजों का सामना करना है।

12- आशीष नेहरा
युवराज की तरह ही आशीष नेहरा ने भी काफी लंबे अंतराल के बाद अंतरराष्‍ट्रीय टी-20 क्रिकेट में वापसी की है। उनकी स्विंग करती गेंदे ही उनकी सबसे बड़ी ताकत हैं लेकिन ऑस्ट्रेलिया दौरे पर उनकी गेंदबाजी में वो धार नजर नहीं आई जिसकी उनसे उम्मीद की जाती है। उनकी गेंदों को ऑस्ट्रेलियाई बल्‍लेबाजों ने काफी आसानी से खेला। उन्हें इस सीरीज में मात्र 2 विकेट हासिल हुए।

13- हरभजन सिंह
काफी लंबे समय बाद टीम में वापसी करने वाले हरभजन को ऑस्ट्रेलिया दौरे में मैदान पर उतरने का मौका नहीं मिला। लेकिन उम्मीद की जा रही है कि श्रीलंका दौरे पर उन्हें ये मौका मिलेगा और वो अपने आपको एक बार फिर साबित करने में कामयाबी हासिल कर सकेंगे।

14- भुवनेश्वर कुमार
भुवनेश्वर कुमार पर धोनी को काफी भरोसा है लेकिन लगातार चोट से वह बुरी तरह से प्रभावित है। अब श्रीलंकाई दौरे पर ये उनकी स्विंग भरी गेंदबाजी एक बार फिर देखने की उम्मीद की जा रही है। यहां उनके लिए सबसे बड़ी चुनौती अपनी फिटनेस को साबित करना होगी।

15- पवन नेगी
श्रीलंका से होने वाली सीरीज में पवन नेगी एक नया चेहरा हैं। वह एक ऑलराउंडर के रूप में टीम में शामिल किए गए है। वह एक लेफ्ट हैंड बैट्समैन और स्पिनर हैं। उनकी पहचान आईपीएल से बनी जिसमें वह धोनी की टीम रही चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेलते हैं। वह अभी तक 56 टी-20 मैचों में 46 विकेट ले चुके हैं और कुल 479 रन भी उनके बल्ले से निकले हैं।

  • SHARE

    sportzwiki हिंदी सभी प्रकार के स्पोर्ट्स की सभी खबरे सबसे पहले पाठकों तक पहुँचाने के लिए प्रतिबद्ध है. हमारी कोशिस यही रहती है, कि हम लोगो को सभी प्रकार की खबरे सबसे पहले प्रदान करे.

    Related Articles

    डिकवेला और शमी विवाद में कूद पड़े रसेल अर्नाल्ड विराट कोहली को निशाना पर...

    भारतीय टीम और श्रीलंकाई टीम के बीच आज सोमवार को कोलकता के ईडन गार्डन में पहला टेस्ट मैच ड्रा पर खत्म हो गया है,...

    शादी से पहले शिखर धवन ने भुवनेश्वर कुमार को कहा जोरू का गुलाम, तो...

    कोलकाता में भारत और श्रीलंका के बीच खेला जा रहा पहला टेस्ट मैच बिना किसी के समाप्त हो गया. कोलकाता टेस्ट भले ही ड्रा...

    ‘विश्व बाल दिवस’ के मौके पर सचिन तेंदुलकर ने बच्चों को जीवन में सफलता...

    क्रिकेट की दुनिया में अनगिनत रिकॉर्ड अपने नाम करने वाले क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने बच्चों को अपने एक बयान...

    जब मैदान पर लोकेश राहुल की यह बात सुन जोर जोर से हँसने लगी...

    ईडन गार्डन में खेल गया पहला टेस्ट ड्रा रहा. मगर इस मैच में टीम के सभी खिलाड़ियों के प्रदर्शन ने दिल जीत लिया.  पहली...

    विराट कोहली या रवि शास्त्री नहीं, बल्कि इस पूर्व दिग्गज भारतीय कप्तान को दिया...

    कोलकाता के ईडन गार्डन में भारत और श्रीलंका के बीच खेला गया मुकाबला पहला टेस्ट भले ही ड्रा साबित हुआ हो. मगर भारतीय टीम...