पाकिस्तान के प्रतिबंधित लेग स्पिनर दानिश कनेरिया भारत में धार्मिक यात्रा पर आये हैं. इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने दानिश कनेरिया पर एसेक्स काउंटी के अपने साथियों को कथित तौर पर स्पॉट फ़िक्सिंग के लिए लुभाने का आरोप लगाते हुए उन पर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया था.

दानिश लम्बे समय से सम्मान की लड़ाई लड़ रहे है और क्रिकेट में वापसी करने लिए पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड और आईसीसी से थोड़ी मदद चाहते हैं.

कनेरिया पाकिस्तान के अनिल दलपत के बाद दुसरे क्रिकेटर है जो हिन्दू  धर्म के है और पाकिस्तान क्रिकेट टीम के सदस्य रह चुके हैं. कनेरिया अपनी यात्रा के दौरान शिर्डी, त्रिम्बकेश्वर, सिद्धिविनायक, महालक्ष्मी, और मुम्बादेवी मंदिर गए.

टीओआई को दिए इंटरव्यू में कनेरिया ने कहा मैंने यह प्लान बनाया, कि मैं अपने पूर्वजो की भूमि सूरत भी जाऊ.

जबसे मेरे खिलाफ सुनावाई शुरू हुए तब से ईसीबी ने मेरे साथ सही बर्ताव नहीं किया है. सुनवाई के दौरान मैंने ईसीबी से कहा कि मेरे पिताजी कैंसर से पीड़ित हैं जिस पर ईसीबी के प्रतिनिधि ने कहा हमे कोई फर्क नहीं पड़ता कि तुम्हारे पिता जिये या मरे.

अटकले यह लगाई जा रही थी कि लेग स्पिनर कनेरिया भारत में रहना चाहते है, किस पर कनेरिया ने कहा यह बात सरासर गलत हैं, मुझे पाकिस्तान में बहुत प्यार मिला हैं. मामला सिर्फ यह है कि पीसीबी मेरे साथ भेदभाव कर रही हैं. अगर मैं यहाँ रहना चाहता तो मैं अपने बच्चो को कराची क्यूँ छोड़कर आता? मैं यहाँ अपनी पत्नी और माँ के साथ आया हूँ.

आगे कनेरिया ने कहा मैं जब भी भारत आता हूँ मुझे यहाँ बहुत प्यार मिलता हैं, फ़िलहाल मैंने किसी भी बीसीसीआई अधिकारी से मिलने का कोई कार्यक्रम नहीं हैं. मैं उन्हें इस यात्रा के दौरान नहीं मिलूँगा. मैं भारतीय क्रिकेट बोर्ड से प्रार्थना करूगा की वह मेरी मदद करे क्यूंकि उनके पास शक्ति है यह सब करने की.

कनेरिया ने भावुक होते हुए खुलासा किया कि एसेक्स के उनके टीम साथी मुर्री वेस्टफील्ड ने 2012 में यह आरोप लगाया था कि कनेरिया ने उन्हें एक भारतीय बुकी अनु भट्ट से मिलवाया था.

जांच में वेस्टफील्ड दोषी पायें जाने के बाद उन्हें छोड़ दिया गया जबकि कनेरिया पर जीवनभर के लिए प्रतिबन्ध लगा दिया.

आगे कनेरिया ने कहा सबसे निराशाजनक यह रहा कि किसी भी समय पीसीबी ने मुझे किसी भी तरह से मदद करने या उन सबूतों को हासिल करने की कोशिश नहीं की, जिसके आधार पर ईसीबी ने दावा किया था कि मैं स्पॉट फिक्सिंग में शामिल था. सलमान बट, मोहम्मद आमिर और मोहम्मद आसिफ ने खेल को शर्मिंदा किया, लेकिन यह देखो उन्होंने क्या किया था.

सलमान बट, आसिफ और आमिर के दोबारा क्रिकेट में वापसी पर कनेरिया ने कहा आप युवा खिलाड़ियों के लिए उदहारण पेश कर रहे हो कि अगर आप इस तरह करते हुए पकड़े गए, तो तुम सहानुभूति पा कर छुट जाओगे.

कनेरिया ने पाकिस्तान की ओर से खेलते हुए अंतराष्टीय क्रिकेट में 276 विकेट हासिल किये हैं. कनेरिया एक टेस्ट मैच में 10 विकेट लेने के कारनामा 2 बार कर चुके हैं.

  • SHARE
    I am Gautam Kumar a Cricket Adict, Always Willing to Write Cricket Article. Virat and Rohit are My Favourite Indian Player.

    Related Articles

    SAvsIND साउथ अफ्रीका से मिली सीरीज हार का सदमा बर्दास्त न कर सके विराट...

    भारत और साउथ अफ्रीका के बीच दूसरा टेस्ट मैच सेंचुरियन में खेला जा रहा था, जहाँ पर भारत को 135 रन से हार का...

    बड़ी खबर: दुसरे टेस्ट में भारत को 135 रनों से मात देने के बाद...

    जहां एक तरफ साउथ अफ्रीका के लिए सेंचुरियन टेस्ट मैच जीतने की एक बहत बड़ी खुशखबरी आई. वही साउथ अफ्रीका टीम के लिए इसी...

    विराट कोहली ने साउथ अफ्रीका से मिली हार की बौखलाहट में दिया ये अजीबोगरीब...

    जब विराट कोहली अपनी टीम के साथ साउथ अफ्रीका दौरें में रवाना हुए थे, तो सभी क्रिकेट प्रेमियों को उम्मीद थी, कि विराट एंड...

    SHOCKING: विन्स मैकमोहन के सिर से खून निकालने वाले केविन ओवेन्स ने खोला कम्पनी...

    विन्स मैकमोहन की इमेज हमेशा ही उन लोगो की तरह रही है जो अपने बिजनेस के लिए कुछ भी कर गुजरने के लिए तैयार...

    रिकॉर्ड तोड़ इतने मिलियन लोगो ने देखा आईपीएल 2018 के रिटेन का कार्यक्रम 

    आईपीएल के 10 बेहद कामयाब सत्र पुरे हो जाने के बाद अब आईपीएल के 11वें सत्र की तैयारियां जोरों-शोरों से चल रही है. आईपीएल...