आज एक तरफ जहाँ बीसीसीआई में साउथ अफ्रीका के खिलाफ टीम घोषित करने के बाद और बांग्लादेश के खिलाफ सीरीज जितने की ख़ुशी थी, लेकिन अब यह ख़ुशी गम में बदल गयी है, क्यूंकि आज भारतीय क्रिकेट के एक युग का अंत हो गया है.

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीआईआई) के अध्यक्ष जगमोहन डालमिया का कोलकाता में निधन हो गया। उन्हें कुछ दिन पहले दिल का दौरा पड़ा था जिसके बाद उन्हें कोलकाता के बीएम बिड़ला अस्पताल में भर्ती किया गया था।

 

इस दौरान पूर्व क्रिकेटर सौरव गांगुली उनसे मिलने पहुंचे थे। 75 वर्षीय डालमिया पिछले काफी समय से बीमार बताए जा रहे हैं। वो इसी वर्ष मार्च में बीसीआईआई के अध्यक्ष बने थे। लगभग 10 वर्षों बाद वापसी करते हुए डालमिया निर्विरोध अध्यक्ष चुने गए थे। हालांकि अध्यक्ष बनने के बाद से स्वास्थ्य कारणों से उनकी सक्रियता ज्यादा नहीं रही थी। इसके पहले लोधा कमेटी ने भी डालमिया के स्वास्थ को लेकर चर्चा किया था, और कहा था अगर डालमिया बीमार है तो कौन चला रहा है, बीसीसीआई, किसके भरोसे चल रही है, विश्व की सबसे बड़ी क्रिकेट बोर्ड??

डालमिया की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करते हुए बीसीसीआई सचिव अनुराग ठाकुर ने लिखा है, कि-

 

  • SHARE

    Related Articles

    आज ही के दिन पाकिस्तान को हरा कर पहला टी-20 वर्ल्ड कप अपने नाम...

    भारतीय टीम के लिये 2007 साल की शुरुआत कुछ खास नही रही थी. भारत को 2007 में खेलें गए 50 ओवर के  वर्ल्ड कप...

    तीसरे वनडे में इन 11 खिलाड़ियों के साथ मैदान पर श्रृंखला जीतने के इरादे...

    चेन्नई और कोलकाता एकदिवसीय जीतने के बाद मेजबान भारतीय टीम के हौसले एकदम बुलंद दिखाई दे रहे हैं. भारतीय टीम का प्रदर्शन भी तक...
    विराट कोहली

    युवराज सिंह के 2 बहुत ही खास रिकॉर्ड को तीसरे वनडे में तोड़ देंगे...

    भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली जबरदस्त फॉर्म में चल रहे हैं. विराट कोहली ऐसे बल्लेबाज हैं, जो अपनी नाकामियों से लगातार सीखते हैं....

    इस दिग्गज भारतीय खिलाड़ी ने बताया ऑस्ट्रेलिया को उसकी गलती, बताया क्यों करना पड़...

    यदि किसी चीज में विविधताएं होती हैं तो वह जीवन में खाने में मसाले की तरह काम करती हैं. साथ ही वह कई दिक्कतों...

    डेनियल ब्रायन कर रहे है रिंग में वापसी खुद ट्विट कर दी जानकारी, इस...

    डब्लूडब्लूई में कब क्या हो जाये, ये कहना बहुत ही मुश्किल रहता है. आयेदिन हमें डब्लूडब्लूई में ऐसा कुछ देखने को मिल ही जाता है,...