दुलीप ट्राफी
Duleep Trophy

दुलीप ट्राफी का साल 2016 का सत्र इतिहास में एक यादगार टूर्नामेंट के तौर पर देखा जायेगा। इस बार इस टूर्नामेंट में बहुत सारे प्रयोग किये गये और उन्‍होंने टीमों को एक अलग मुकाम पर पहुंचाया। कुछ टीमें टूर्नामेंट की खास बन गयीं। जैसे कि इंडियन ब्‍लू, रेड और ग्रीन जो कि खिताब की दावेदार बनी।

इन बातों से परे पहली बार मैचों को लाइट में और गुलाबी गेंद से खेला गया। सारे के सारे मैच नोएडा के स्‍पोर्ट कॉम्‍प्‍लेक्‍स में हुए जो कि बहुत ही बेहतर तरीके से सम्‍पन्‍न हुए। हर एक क्रिकेट प्रेमी को उसके खिलाड़ी ने अपने बेहतर प्रदर्शन से खुश कर दिया। इसके साथ ही खिलाड़ियों ने अपने आप को टेस्‍ट टीम का हिस्‍सा बनाने के लिए पूरी ताकत झोंक दी। जिनमें से इंडिया ब्‍लू के कप्‍तान गौतम गंभीर ने फाइनल मैच में कप्‍तान युवराज सिंह की इंडिया रेड टीम को टक्‍कर दी। जिसमें गौतम गंभीर की इंडिया ब्‍लू ने जीत हासिल कर खिताब अपने नाम कर लिया।

1) अभिनव मुकुंद – इंडिया रेड

ABHINAV MUKUNDअभिनव ने पहले मैच में ही बेहतरीन प्रदर्शन किया और इंडिया ग्रीन के खिलाफ 77 और 169 कुलमिलाकर 219 रनों की शानदार पारी खेली और टीम को जीत की ओर ले गये। उनका यह स्‍कोर इसलिए मायने रखता है क्‍योंकि इसके कारण ही टीम एक लम्‍बे फासले से मैच को जीत सकी। लेकिन वो टूर्नामेंट के दूसरे मैच में खास प्रदर्शन नहीं कर पाये। जल्‍द ही वो चोटिल हो गये और मैच से रिटायर हो गये, जो की सभी के लिए निराशा जनक था। बहरहाल उनका सभी मैचों का प्रदर्शन मिलाकर देखा जाए तो वो टूर्नामेंट के सबसे बेहतरीन खिलाड़ी साबित होते हैं।

चेन्‍नई के बायें हाथ के अभिनव मुकुंद 26 साल के खिलाड़ी हैं। उनके इस प्रदर्शन से उन्‍होंने क्रिकेट सेलेक्‍टरों की नजर में अपनी जगह बना ली है। जो कि काबिले तारीफ है।

यह भी पढ़े : अभिनव-सुदीप के बल्ले से निकला शतक, लेकिन एक बार फिर युवराज ने किया निराश


2) मयंक अग्रवाल – इंडिया ब्‍लू

mayankagarwallदुलीप ट्राफी के सारे मैचों में सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्‍लेबाज हैं मयंक अग्रवाल अगर चेतेश्‍वर पुजारा ने अचानक इतना बेहतरीन प्रदर्शन न किया होता। मयंक ने टूर्नामेंट में 1 शतक और 4 अर्धशतक लगाकर साबित कर दिया कि उनमे बेशुमार क्षमता है।

वह गौतम गंभीर के साथ ओपनर के तौर पर उतरे और साबित कर दिया कि वह इतनी जल्‍दी वापस लौटने वालों में से नहीं हैं। उनका सभी मैचों में से सर्वाधिक स्‍कोर 218 गेंदों पर 169 रन रहा जो कि, उनकी टीम को 707 रन के लक्ष्‍य तक ले गया। बैंगलौर का यह खिलाड़ी महज 25 साल का है। कयास लगाए जा रहे हैं कि यह तेज गति का खिलाड़ी जल्‍द ही इंडियन टीम में खेलते हुए देखा जा सकता है।

यह भी पढ़े : विडियो: मयंक अग्रवाल का चौकाने वाला रन आउट


3) गौतम गंभीर – इंडिया ब्‍लू

gambhir and mayankइस खिलाड़ी से आप सभी वाकिफ हैं, आप सभी जानते हैं कि वो क्‍या कर सकने में सक्षम हैं। उन्‍होंने कप्‍तान के तौर पर टीम के लिए लगातार रन बटोरे। लेकिन वो शतक लगाकर अपना बल्‍ला लहराने में नाकामयाब रहे। लेकिन उन्‍होंने टीम के लिए महत्‍वपूर्ण कुल 356 रन बटोरे और इस दौरान 4 अर्धशतक लगाये। इसके साथ ही उन्‍होंने अपनी टीम को बेहतर तरीके से लीड किया। हांलाकि उनकी कप्‍तानी को नोटिस नहीं किया गया लेकिन एक अच्‍छे लीडर के तौर पर उन्‍होंने अपना सबसे बेहतर करने की कोशिश की।

गौतम गंभीर ने ओपनर के तौर पर सर्वाधिक 90 रन का स्‍कोर खड़ा किया। इसके बावजूद दिल्‍ली में बैठे चुनावकर्ताओं ने उनकी प्रतिभा को नकार दिया। जिसका परिणाम यह है कि उन्‍हें प्रथम श्रेणी क्रिकेट में जगह नहीं मिली।

यह भी पढ़े : टेस्ट टीम में जगह बनाने में नाकाम गौतम गंभीर ने दुलीप ट्राफी जीतने के बाद ये क्या कहा?


4) चेतेश्‍वर पुजारा – इंडिया ब्‍लू

pujaraचेतेश्‍वर पुजारा का टीम में होकर भी शक की नजरों से देखे जा रहे थे। लेकिन उनके खेल ने उन सारी कठिनाइयों को दूर कर दिया। उन्‍होंने तीन इननिंग्‍स में 453 रन बनाकर यह साबित कर दिया कि वो बेहतर हैं। उन्‍होंने इंडिया रेड के खिलाफ 166 रन की बेहतरीन पारी खेली लेकिन टीम 256 रन पर ही सिमट गयी और उनके बनाये ये रन टीम के किसी काम नहीं आये। पुजारा ने इस तरह खेल कर यह दिखा दिया कि वो लम्‍बी पारी खेलने वाले खिलाड़ी हैं। उनका यह लगातार एक जैसे तारतम्‍य में लम्‍बी पारी खेलना उन्‍हें टेस्‍ट सीजन का होनहार खिलाड़ी बना सकती है।


5) दिनेश कार्तिक – इंडिया ब्‍लू

dinesh karthikदिनेश कार्तिक का प्रदर्शन और प्रतिभा मैच के मिडिल आर्डर में निखर कर आता है। उनका काम स्‍टम्‍प के पीछे का बेहतरीन जो कि पूरे मैच के दौरान दिखाई दिया। उन्‍होंने तीन मैचों में 211 रन बनाये और शानदार प्रदर्शन किया। उनका सबसे बेहतर खेल फाइनल मैच में दिखा जब उन्‍होंने तेज गति से 50 रन बना डाले। इसके साथ ही इन्‍होंने 4 कैच और स्‍टम्‍पिंग भी की। ये उनमें से एक खिलाड़ी हैं जिन्‍हें पहली श्रेणी के खेल में जगह मिलनी चाहिए।

यह भी पढ़े : तामिलनाडु प्रीमीयर लीग की शुरूआत दिनेश कार्तिक ने की धमाकेदार अंदाज में


6) गुरुकीरत सिंह मान – इंडिया रेड

gurkeerat maanयह खिलाड़ी पूरी तरीके से भारत का एक बेहतरीन ऑल राउन्‍डर बन सकता है। लेकिन मैच के दौरान यह बल्‍लेबाजी में तो प्रतिभा दिखा पाया लेकिन गेंदबाजी में नहीं। लेकिन फिर भी केवल बल्‍लेबाजी को ध्‍यान में भी रखें तो यह खिलाड़ी बुरा नहीं है। इस खिलाड़ी ने 178 रन चार इननिंग्‍स में बनाये, उस दौरान मैच के सबसे जरूरी समय फाइनल में अर्धशतक बनाया। जब सभी खिलाड़ी एक एक करके बल्‍ला हिलाते मैदान से पवेलियन लौट रहे थे। वो भारत के क्रिकेट के ठीक वैसे ही खिलाड़ी हैं जो समय आने पर दांत का दर्द बन सकते हैं।


7) शेल्‍डन जैक्‍सन – इंडिया ब्‍लू

sheldon jacksonजैक्‍सन ने अपना बहुत सारा समय प्रथम श्रेणी के खेल में बिताया है और बहुत रन भी बटोरे हैं। लेकिन दुलीप ट्राफी थोड़ा अलग और हट कर है। लेकिन जब उनके हाथों में इंडिया ब्‍लू के दस्‍ताने चढ़े तो उन्‍होंने दिखा दिया कि उनके लिए कुछ अलग नहीं है।

यह भी पढ़े : टीम में जगह न मिलने के बाद अब आया गंभीर के लिए मैदान से अच्छी खबर

उन्‍होंने कुल 368 रन बनाये जिसमें दो शतक भी शामिल हैं। दुसरा अगर कोई खिलाड़ी मैच के दौरान दो शतक लगाने में कामयाब रहा तो वो हैं चेतेश्‍वर पुजारा। जिन्‍होंने दो शतक लगाये और अपनी टीम को मजबूत किया। 29 साल की उम्र में वो ऐसा कर पा रहें हैं और अगर ऐसा ही एक दो सीरीज में वो ऐसा ही प्रदर्शन कर दें तो वो जल्‍द ही लोगों का पसन्‍दीदा चेहरा बन सकते हैं।

  • SHARE

    Related Articles

    ब्रोक लेसनर रिंग में तो रेस्लरो की धज्जियाँ उड़ा देते हैं पर माइक स्किल्स...

    ब्रोक लेसनर WWE के मौजुदा समय के सबसे बड़े सुपरस्टार हैं और किसी भी रेस्लर के मुकाबले वे कंपनी को सबसे ज्यादा कमाकर देते...

    कल मैदान पर उतरते ही पुजारा के नाम दर्ज ये अनोखा रिकॉर्ड, सचिन और...

    टेस्ट में बेस्ट माने जाने वाले नई दीवार के नाम से प्रसिद्द चेतेश्वर पुजारा इस समय शानदार फॉर्म में हैं. अब उनके नाम एक...

    घरेलू क्रिकेट में 413 रनों की मैराथन पारी खेलने वाला यह युवा खिलाड़ी भारतीय टीम...

    भारतीय टीम और श्रीलंकाई टीम के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला टेस्ट मैच कोलकता के ईडन गार्डन स्टेडियम में खेला जा...

    ये हैं वनडे क्रिकेट में सबसे तेज 25 शतक लगाने वाले दिग्गज बल्लेबाज, दो...

    क्रिकेट जगत में अक्सर रिकाॅर्ड बनते-बिगड़ते रहते हैं। इसमें से कुछ रिकाॅर्ड ऐसे होते हैं, जो बेहद जल्द ही टूट जाते हैं,तो कुछ को...

    आईपीएल-11 के लिए मुंबई इंडियंस ने लिया हैरान करने वाला फैसला, अपने सबसे स्टार...

    आईपीएल के 2018 में होने वाले 11वें सत्र के लिए बीसीसीआई की आईपीएल गवर्निंग काउंसिलिंग ने सभी आईपीएल फ्रेंचाइजी टीमों को अपनी टीम में तीन...