आज का मैच चेन्नई और हैदराबाद के बिच खेला गया ,चेन्नई ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया, पहले बल्लेबाजी करने उतरी हैदराबाद ने वार्नर के शानदार अर्धशतक और धवन के 37 रनों की बदौलत निर्धारित 20 ओवर में 192 रन बनाने में सफल रही.

हैदराबाद की बल्लेबाजी की शुरुआत धवन और वार्नर ने किया और शानदार शुरुआत करते हुए पहले विकेट के लिए 86 रनों की साझेदारी निभाई, इस साझेदारी का अंत रैना ने वार्नर को ड्वेन के हाथो कैच करा कर किया, आउट होने से पहले वार्नर ने मात्र 28 गेंदों में 11 चौक्को और 1 छक्के की मदद से 61 रन बनाये, उसके बाद आये नये बल्लेबाज हेनरिक्स को धोनी ने नेगी के गेंद पर 19 के निजी स्कोर पर आउट किया, कुछ देर बाद धवन भी 32 गेंदों में 4 चौक्को की मदद से 37 रन बनाकर आउट हुए.

मोर्गन और ओझा ने अब हैदराबाद की जिम्मेदारी उठाई, और अभी चौथे विकेट के लिए 25 रन ही जोड़ पाए थे, कि ओझा को नेहरा ने बोल्ड कर दिया. ओझा के आउट होने के समय हैदराबाद 16.1 ओवर में 156 रन बना लिया था, लेकिन उसके बाद आये नये बल्लेबाज रेड्डी विहारी और कर्ण शर्मा सिर्फ 6, 8 और 4 रन बनाकर आउट हुए, लेकिन दुसरे छोर से मोर्गन ने रन बनाना चालु रखा, मोर्गन ने 27 गेंदों में 1 चौक्के और 2 छक्के की मदद से 32 रन बनाये, जिसकी बदौलत हैदराबाद निर्धारित 20 ओवर में 7 विकेट खोकर 192 रन बनाने में सफल रही.

चेन्नई की तरफ से ड्वेन ब्रावो ने शानदार गेंदबाजी करते हुए 4 ओवर में 25 रन देकर 3 विकेट चटकाये.

लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई की पारी की शुरुआत ड्वेन स्मिथ और मैकुलम ने किया, मैकुलम ने तेजी से रन बनाना शुरू किया, लेकिन दुसरे ही ओवर में भुवनेश्वर ने उन्हें 12 के निजी स्कोर पर बोल्ड कर दिया, अब बल्लेबजी करने की बारी रैना की थी, रैना और स्मिथ दुसरे विकेट के लिए अभी सिर्फ 34 रन की साझेदारी कर पाए थे, कि स्मिथ को हेनरिक्स ने 21 के निजी स्कोर पर विहारी के हाथो कैच करा दिया, कुछ देर बाद रैना भी 23 के निजी स्कोर पर हेनरिक्स के ही शिकार बने, उसके बाद कप्तान धोनी और डूप्लेसिस ने चौथे विकेट के लिए 46 रनों की साझेदारी के साथ चेन्नई को 114 तक पहुंचाया, लेकिन दोनों आशीष रेड्डी के एक ही ओवर में लगातार गेंद पर क्रमशः 33 और 20 रन बनाकर आउट हुये, उसके बाद आये नये बल्लेबाज पवन नेगी अभी सम्भल कर खेलना शुरू ही किये थे, कि भुवनेश्वर ने उन्हें भी बोल्ड कर दिया.

इन सबके आउट होने के बाद ब्रावो और जडेजा ने चेन्नई को बचाने की पूरी कोशिश की लेकिन चेन्नई की टीम निर्धारित 20 ओवर में मात्र 170 रन ही बना स्की, और उसे 22 रनों से हार का सामना करना पड़ा.

चेन्नई की तरफ से हेनरिक्स ने सबसे अच्छी गेंदबाजी किया, और 4 ओवर में 20 रन देकर 2 विकेट लिये.

संछिप्त स्कोरकार्ड:

हैदराबाद: 192/7, 20 ओवर में (वार्नर 61, धवन 37, ब्रावो 4-25-3)

चेन्नई: 170/6, 20 ओवर में (डूप्लेसिस 33, ब्रावो 25, हेनरिक्स 4-20-2)

परिणाम: हैदराबाद 22 रनों से विजयी.

  • SHARE

    Related Articles

    खुशखबरी: भारतीय टीम अफ्रीका में टी-20 सीरीज जीतने के लिए बना रही रणनीति और...

    भारत के स्टार बल्लेबाज़ चेतेश्वर पुजारा आज पिता बन गए है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार भारत के स्टार बल्लेबाज़ कोई बेटी हुए है. आप...

    रिकॉर्ड: ये है वो ऐतिहासिक रिकॉर्ड जिनका भारत-अफ्रीका के बीच तीसरे टी-20 में टूटना...

    भारत और साउथ अफ्रीका के बीच कल तीसरा टी-20 मैच खेला जाएगा. इस मैच को जीत कर जहाँ भारत सीरीज को जीतना चाहेगा. वही...
    Virat kohli affair with bahubali actress before anushka love

    शादी के पहले था इस बॉलीवुड अभिनेत्री के साथ कोहली का विराट कनेक्शन, अब...

    भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली शादी के बाद से अक्सर अपने प्यार का इजहार करते दिखाई देते हैं. अनुष्का के होने के बाद...

    महेंद्र सिंह धोनी के अर्द्धशतक के साथ युजवेंद्र चहल का एक खास कनेक्शन, यकीन...

    कल सेंचुरियन के सुपरस्पोर्ट्स पार्क में दक्षिण अफ्रीका और भारत के बीच तीन टी ट्वेंटी मैचों की श्रृंखला का दूसरा मुकाबला खेला गया. दोनों...

    आंकड़े: ये है वो कारण जिसकी वजह से बुमराह की गैरमौजूदगी में टी-20 में...

    भारतीय टीम के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने अपने असाधारण गेंदबाजी के प्रदर्शन के दम पर क्रिकेट जगत में एक खास स्थान हासिल कर...