12 जनवरी 2015 को वेस्ट इंडीज के बल्लेबाज क्रिस गेल ने मीडिया को सूचना देते हुए कहा –

‘’मुझे गर्व है की हमने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी 20 सीरीज में जीत हासिल की ।

आज सुबह उठ कर जब मैंने विश्वकप की टीम देखि, जिसमे किरेन पोलार्ड और ड्वेन ब्रावो को शामिल नहीं किया गया था । इसे देख मुझे आंतरिक तौर पर बहुत दुःख हुआ । हमारी टीम एक बेहतरीन टीम है और इन दो खिलाड़ियों को टीम में जगह ना देना दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट के लिए बहोत दुखद बात है । अगर आप को हमारी योग्यता पर भरोसा है तो इन दोनों खिलाड़ियों को दक्षिण अफ्रिका की टीम में होना चाहिए, चाहे वो 50 ओवर का टूर्नामेंट हो या विश्वकप की टीम ।‘’

इस बात से दक्षिण अफ्रीकी खिलाडियों में विश्वकप टीम के चुनाव को लेकर एक निराशा दिखती है । हालाँकि इन दो क्रिकेटरों की क्रिकेट क्षमता निर्विवाद हैं । पर चयन समिति के अध्यक्ष क्लाइव ल्योड ने बचाव करते हुए कहा की लगातार आ रही इनके प्रदर्शन में कमी के कारण  इनको टीम में बाहर रखा गया है, हमने यह फैसला भविष्य को ध्यान में रखते हुए किया है ।

पर खिलाड़ियों ने पक्ष रखते हुए कहा की हमारे पास अब ज्यादा समय नहीं है कि हम नये खिलाड़ियों को विश्वकप जैसी अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में मुकाबले के लिए तयार कर सके ।

आज की तारीख में इन युवा खिलाड़ियों को इतनी आसानी से दक्षिण अफ्रीकी टीम से बाहर नहीं किया जा सकता । इससे दक्षिण अफ्रीकी टीम के खिलाड़ियों की एकता का भी पता चलता है । ड्वेन ब्रावो ने अबतक कुल 164 मैच खेले है जिनमे उनका अधिकतम स्कोर 112 रहा है । उन्होंने इंडियन प्रीमियर लीग में चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से भी खेला है । पिछले साल 2012 आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से खेलते हुए उन्होंने सर्वाधिक रन बनाये थे । इसके अलावा वो एक बेहतरीन फील्डर भी है ।

किरेन पोलैंड आज के मॉडर्न क्रिक्केट में एक बेहतरीन खिलाड़ी है, इन्होने आईपीएल में मुंबई इंडियन की ओर से खेला था । आईपीएल में इन्होने 61 मैच खेलते हुए 1059 रन बनाये थे ।

यह एक अच्छे फील्डर होने हे साथ साथ एक बेहतरीन पार्ट टाइम माध्यम तेज़ गेंदबाज़ भी है । इंग्लैंड के केविन पीटरसन को भी टीम से बाहर रखा गया है। उन्होंने वनडे में 136 मैच खेलते हुए 25 अर्धशतक और 9 शतक अपने देश के नाम किये है । इनका वनडे में बैटिंग ओसत  40.73 है, जो इनकी बल्ल्बाज़ी की गुणवत्ता दर्शाता है । यह ऑस्ट्रेलिया में बिग बैश लीग के दौरान सर्वाधिक रन बनाने वालो में से एक है ।

पाकिस्तान में भी शोएब मलिक को विश्वकप टीम से बाहर रखते हुए अतिरिक्त खिलाड़ी के तौर पर जगह दी गई है । बल्लेबाज, स्पिनर एवं बेहतरीन फील्डर के तौर पर इनका प्रदर्शन और अनुभव उल्लेखनिय रहा है ।  

  • SHARE
    sportzwiki हिंदी सभी प्रकार के स्पोर्ट्स की सभी खबरे सबसे पहले पाठकों तक पहुँचाने के लिए प्रतिबद्ध है. हमारी कोशिस यही रहती है, कि हम लोगो को सभी प्रकार की खबरे सबसे पहले प्रदान करे.

    Related Articles

    आज ही के दिन पाकिस्तान को हरा कर पहला टी-20 वर्ल्ड कप अपने नाम...

    भारतीय टीम के लिये 2007 साल की शुरुआत कुछ खास नही रही थी. भारत को 2007 में खेलें गए 50 ओवर के  वर्ल्ड कप...

    तीसरे वनडे में इन 11 खिलाड़ियों के साथ मैदान पर श्रृंखला जीतने के इरादे...

    चेन्नई और कोलकाता एकदिवसीय जीतने के बाद मेजबान भारतीय टीम के हौसले एकदम बुलंद दिखाई दे रहे हैं. भारतीय टीम का प्रदर्शन भी तक...
    विराट कोहली

    युवराज सिंह के 2 बहुत ही खास रिकॉर्ड को तीसरे वनडे में तोड़ देंगे...

    भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली जबरदस्त फॉर्म में चल रहे हैं. विराट कोहली ऐसे बल्लेबाज हैं, जो अपनी नाकामियों से लगातार सीखते हैं....

    इस दिग्गज भारतीय खिलाड़ी ने बताया ऑस्ट्रेलिया को उसकी गलती, बताया क्यों करना पड़...

    यदि किसी चीज में विविधताएं होती हैं तो वह जीवन में खाने में मसाले की तरह काम करती हैं. साथ ही वह कई दिक्कतों...

    डेनियल ब्रायन कर रहे है रिंग में वापसी खुद ट्विट कर दी जानकारी, इस...

    डब्लूडब्लूई में कब क्या हो जाये, ये कहना बहुत ही मुश्किल रहता है. आयेदिन हमें डब्लूडब्लूई में ऐसा कुछ देखने को मिल ही जाता है,...