क्रिकेट डेस्‍क। अजिंक्‍य रहाणे (नाबाद 63 रन) के दमदार अर्धशतक की बदौलत राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स (आरपीएस) ने आईपीएल-9 के 33वें मैच में गुरुवार को दिल्‍ली डेयरडेविल्‍स को सात विकेट से हरा दिया। आरपीएस की यह 9 मैचों में तीसरी जीत रही जबकि दिल्‍ली डेयरडेविल्‍स की 8 मैचों में तीसरी हार।

आइए नजर डालते है मैच के बाद कप्‍तान के बयानों पर-

हमारी सबसे बड़ी चिंता इस मैच से दूर हुई : धोनी
जीत दर्ज करने के बाद राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स के कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा कि यह जीत बहुत जरूरी थी। उन्‍होंने कहा कि जब आप पांच मैच हार चुके हो तो किसी भी अंदाज में जीत आए वो अच्‍छी है। धोनी अपनी टीम के गेंदबाजों से काफी प्रभावित नजर आए। मैच के बाद उन्‍होंने कहा, ‘गेंदबाजों ने योजना के मुताबिक काम किया। दिल्‍ली को 160 रन पर रोकने के बाद हम खुश थे। हमे इस मैच से काफी सकारात्‍मक चीजें सीखने को मिली क्‍योंकि गेंदबाजी हमारे लिए सबसे बड़ी चिंता का विषय था। गेंदबाजों ने कमाल का प्रदर्शन किया और फील्‍डरों के मुताबिक गेंद फेंकी।’

उन्‍होंने साथ ही कहा, ‘अगर आप अंतिम ओवरों पर ध्‍यान नहीं दें तो गेंदबाजों का प्रदर्शन कमाल का रहा। अंतिम ओवरों में मेरा मानना है कि वह गेंदबाज प्रभावी हैं जो बल्‍लेबाजों के साथ छल करे।’

अपनी बल्‍लेबाजी के बारे में बात करते हुए धोनी ने कहा कि पिच धीमी पड़ रही थी, जिसकी वजह से बल्‍लेबाजी करना मुश्किल हो रहा था। उन्‍होंने कहा, ‘पिच पर बल्‍लेबाजी करना आसान नहीं था क्‍योंकि दिल्‍ली के स्पिनर्स अच्‍छी गेंदबाजी कर रहे थे। मिश्रा और ताहिर ने अच्‍छी गेंदबाजी की।’

हमारी पारी बीच में लड़खड़ा गई: जेपी डुमिनी
मैच के बाद दिल्‍ली डेयरडेविल्‍स के कप्‍तान जेपी डुमिनी ने कहा, ‘हमारी पारी बीच में लड़खड़ा गई। हम 20 रन और बना सकते थे। यह हार की बड़ी वजह रही।’

उन्‍होंने साथ ही कहा कि हमने गेंद से अच्‍छा प्रदर्शन किया और अंतिम ओवर तक मैच खींच कर ले जाने में सफल रहे।
डुमिनी के मुताबिक दिल्‍ली ने कुछ गलतियां की और कुछ मौके गवाएं, लेकिन टीम को मैच से काफी सकारात्‍मक सबक लेने को मिले।

यह पूछने पर कि अंतिम ओवर ताहिर को क्‍यों नहीं दिया तो दिल्‍ली डेयरडेविल्‍स के कप्‍तान ने कहा, ‘मैं अंतिम ओवर में ताहिर को ही मौका देता, लेकिन हमने शमी से अंतिम दो ओवर में गेंदबाजी करने के बारे में बात की थी। हम सिर्फ दो तेज गेंदबाजों के साथ मैदान पर उतरे थे, इसलिए लेग स्पिनर्स का उपयोग बहुत चौकन्‍ने रूप से करना था। हम इमरान ताहिर का उपयोग आखिरी के आठ ओवरों में करना चाहते थे।’

हमने फैसला किया था अंत तक टिककर खेलेंगे: रहाणे
वहीं 63 रन की दमदार पारी खेलकर मैन ऑफ द मैच बने अजिंक्‍य रहाणे ने कहा, ‘हमने फैसला किया था कि एक बल्‍लेबाज अंत तक टिककर खेलने की कोशिश करेगा और आज मेरा दिन था। पहले 6 ओवर महत्‍वपूर्ण थे, गेंद बल्‍ले पर अच्‍छे से आ रही थी। मगर इसके बाद विकेट धीमा पड़ने लगा। मैं अपनी बल्‍लेबाजी को साधारण रखता हूं। टीम को मुझसे यही उम्‍मीद है कि मैं क्रीज पर सेट हो जाऊं तथा टिककर खेलते हुए 15-20 रन का योगदान दे सकूं।’

  • SHARE

    A cricket enthusiast who has the passion to write for the sport. An ardent fan of the Indian Cricket Team. Strongly believe in following your passion and living in the present.

    Related Articles

    ब्रोक लेसनर रिंग में तो रेस्लरो की धज्जियाँ उड़ा देते हैं पर माइक स्किल्स...

    ब्रोक लेसनर WWE के मौजुदा समय के सबसे बड़े सुपरस्टार हैं और किसी भी रेस्लर के मुकाबले वे कंपनी को सबसे ज्यादा कमाकर देते...

    कल मैदान पर उतरते ही पुजारा के नाम दर्ज ये अनोखा रिकॉर्ड, सचिन और...

    टेस्ट में बेस्ट माने जाने वाले नई दीवार के नाम से प्रसिद्द चेतेश्वर पुजारा इस समय शानदार फॉर्म में हैं. अब उनके नाम एक...

    घरेलू क्रिकेट में 413 रनों की मैराथन पारी खेलने वाला यह युवा खिलाड़ी भारतीय टीम...

    भारतीय टीम और श्रीलंकाई टीम के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला टेस्ट मैच कोलकता के ईडन गार्डन स्टेडियम में खेला जा...

    ये हैं वनडे क्रिकेट में सबसे तेज 25 शतक लगाने वाले दिग्गज बल्लेबाज, दो...

    क्रिकेट जगत में अक्सर रिकाॅर्ड बनते-बिगड़ते रहते हैं। इसमें से कुछ रिकाॅर्ड ऐसे होते हैं, जो बेहद जल्द ही टूट जाते हैं,तो कुछ को...

    आईपीएल-11 के लिए मुंबई इंडियंस ने लिया हैरान करने वाला फैसला, अपने सबसे स्टार...

    आईपीएल के 2018 में होने वाले 11वें सत्र के लिए बीसीसीआई की आईपीएल गवर्निंग काउंसिलिंग ने सभी आईपीएल फ्रेंचाइजी टीमों को अपनी टीम में तीन...