डीडीसीए जिला क्रिकेट एसोसिएशन ने सेवानिवृत्त न्यायमूर्ति मुकुल मुदगल के नेतृत्व में छवि को सुधारने का काम शुरू कर दिया है। उन्हें हाईकोर्ट द्वारा नियुक्त किया गया है ताकि वह क्रिकेट संस्था कि दिन प्रतिदिन की गतिविधियों पर नजर रख सकें। मामलों की देखरेख के लिए दो पैनलों का भी गठन किया गया है- एक पुरुषों और महिलाओं के लिए। इसके साथ ही यह आगे के क्रिकेट सत्र के लिए कोच, प्रबंधक और सहयोगी स्टाफ को चुनने का काम करेगा।

यह भी पढ़े : भारतीय ए टीम ने ऑस्ट्रेलिया ए को हराकर जीती श्रृंखला

भारतीय पूर्व टेस्ट क्रिकेटर विवेक राजदान ने पैनल की अध्यक्षता की और अनुराधा दत्त ने महिलाओं के पैनल को संभाला है। डीडीसीए उपाध्यक्ष गंगे गुप्ता, कोषाध्यक्ष रविंदर मनचंदा, और संयुक्त सचिव सलिल सेठ इसमें शामिल हैं। न्यायमूर्ति मुदगल ने डीडीसीए के सभी सदस्यों को सूचित करते हुए बताया कि “चयनकर्ता सभी पैनलों के चयन जिसमे कोच, प्रबंक और कर्मचारी शामिल हैं उनका साक्षात्कार करेंगे और उनका पारिश्रमिक तय करेंगे। विभिन्न पदों के लिए के लिए किन मानदंडों को अपनाया गया है इस बात की जानकारी सार्वजनिक की जाएगी और इसके साथ ही सभी जानकारी को डीडीसीए की वेबसाइट पर अपलोड किया जाएगा।”

इन फैसलों के अलावा, कमेटी राजधानी में क्रिकेट के सुधार और छवि को लेकर कई अभियान भी चलाएगी। पहला बड़ा बदलाव जो पिछले साल असफल रहा था उसे एक बार फिर से शुरू किया जा सकता है। इसमें अंडर-14, अंडर-16, अंडर-19 और अंडर-23 और रणजी ट्रॉफी के लिए अलग-अलग तीन जूनियर सिलेक्टरों का चयन किया जाएगा। इस बात का निर्णय शनिवार को हुई मीटिंग के दौरान लिया गया।

यह भी पढ़े : आंकड़े: भारतीय क्रिकेटर, जो सबसे अधिक देशों में अंतराष्ट्रीय मैच खेले

इसके साथ ही इन्हें दिए जाने वाले वेतन को भी निर्धारित किया जाएगा और जिस भी महिला या पुरुष को इस जिम्मेनदारी के लिए चुना जाता है उसके पास अलग से कोई अतिरिक्त अधिकार नहीं होगा। उन्हें उनके निर्धारित वेतन के अलावा प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी जो इस बात पर निर्भर करेगी कि वो जिस आयु वर्ग का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं वह किस प्रकार का प्रदर्शन कर रहा है।

इस संबंध में सचिव सलिल सेठ का कहना है कि “हम एक ऐसी संस्कृतति को बढ़ावा देना चाहते हैं जिसमें कोचों और चयनकर्ता अपने काम को इस तरह करें कि वह उन्हें उनकी पहली प्राथमिकता लगे। इसके अलावा ऐसे कोच जो अपनी जान लगा देंगे उनके लिए प्रोत्साहन सुनिश्चित किया जाएगा।”

  • SHARE
    A cricket enthusiast who has the passion to write for the sport. An ardent fan of the Indian Cricket Team. Strongly believe in following your passion and living in the present.

    Related Articles

    STATS: ऐतिहासिक रिकॉर्ड के साथ कोहली के नाम दर्ज हुआ एक शर्मनाक रिकॉर्ड, न्यूजीलैंड...

    भारत और न्यूज़ीलैण्ड के बीच तीन मैचों की सीरीज का पहला मैच मुम्बई के वानखड़े में स्टेडियम में खेला गया. इस मैच में भारत...

    भारतीय टीम के सबसे बड़े प्रसंशक धर्मवीर पाल को लेकर बीसीसीआई ने लिया ये...

    भारत देश में वैसे तो हर आदमी ही क्रिकेट का एक बहुत बड़ा प्रसंशक होता है. मगर इन्ही प्रसंशको में कुछ प्रसंशक ऐसे होते है,...

    INDvNZ: किवी टीम के खिलाफ मिली शर्मनाक हार के बाद कप्तान कोहली का का...

    भारत और न्यूजीलैण्ड के बीच खेले जाने वाले तीन वनडे मैचों की सीरीज का पहला एकदिवसीय मैच आज,यानि 22 अक्टूबर को मुम्बई के वानखेड़े...

    किसने क्या कहा: भारत की हार पर सब कर रहे केदार जाधव की आलोचना,...

    भारत और आज न्यूज़ीलैण्ड के बीच पहला मैच मुंबई में खेला गया. भारत के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाज़ी करने...

    केन विलियम्सन ने पहला मैच जीतने के बाद किया कोहली के शतक पर कटाक्ष,...

    भारत और न्यूजीलैंड टीम के बीच चल रही तीन मैचों की वनडे सीरीज का पहला वनडे मैच आज रविवार को मुंबई के वानखेड़े क्रिकेट स्टेडियम...