ज़िम्बाबवे दौरे से युवराज सिंह और रविन्द्र जड़ेजा को बाहर रखने को लेकर हुआ बड़ा खुलासा - Sportzwiki
इंटरव्यूज

ज़िम्बाबवे दौरे से युवराज सिंह और रविन्द्र जड़ेजा को बाहर रखने को लेकर हुआ बड़ा खुलासा

  • मुंबई। पिछले दिनों टीम इंडिया के मुख्‍य चयनकर्ता स‍ंदीप पाटिल ने जिंबाबवे और वेस्‍टइंडीज दौरे के लिए टीमों की घोषणा की। इसके बाद उन्‍होंने कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी के बारे में बताया कि वे जिंबाबवे दौरे पर जाना चाहते थे। इसके साथ ही वे टीम में युवा खिलाडि़यों को जिंबाबवे दौरे के लिए ले जाना चाहते थे। इसलिए रविन्द्र जड़ेजा, युवराज सिंह के साथ अन्य खिलाड़ियों का चुनाव न करके युवा टीम चुनी गयी. बता दें कि टीम इंडिया का ज़िम्बाबवे दौरा 11 जून से शुरु हो रहा है।

    खबरों के अनुसार, संदीप पाटिल ने टीम चयन के बाद कहा कि टीम का चयन समिति का अपना निष्पक्ष फैसला था। किसी भी खिलाड़ी ने चयनकर्ता से यह नहीं कहा कि उन्‍हें आराम चाहिए या वे दौरे पर जाना चाहेंगे। चयन समिति भी ज़िम्बाबवे दौरे पर धोनी की उस राय से सहमत थी जिसमें युवा खिलाड़ियों को दौरे पर ले जाने की बा‍त कही गई थी।

    जिंबाबवे दौरे के लिए चयनकर्ताओं ने कई मुख्‍य खिलाड़ियों को आराम देने का फैसला किया है। इसमें कोहली, रोहित शर्मा, अजिंक्‍य रहाणे का नाम शमिल है। इनकी जगह टीम में विदर्भ के ओपनर फैज फैजल, पंजाब के बल्‍लेबाज मंदीप सिंह और हरियाणा के स्पिन गेंदबाज जयंत और यजुवेंद्र चहल को शामिल किया गया है।

    पाटिल ने कहा, “हम गेंदबाजी में कुछ अलग करना चाहते थे, इस वजह से अक्षर पटेल, चहल, यादव को जिंबाबवे दौरे के लिए चुना गया है। मुझे पूरा यकीन है कि हर बार की तरह इस बार भी टीम इंडिया बेहतर प्रदर्शन करेगी और हर हाल में जीत हासिल करेगी।”

    घरेलू क्रिकेट में हजार से भी ज्‍यादा रन बनाने वाले श्रेयस अय्यर के शामिल न किए जाने के सवाल पर पाटिल ने बताया कि “दौरे के लिए 15 सदस्‍यीय टीम को चुना गया है। ऐसे में उनका नाम भी सामने आया था, लेकिन जो टीम चुनी गई है, उसमें वे फिट नहीं बैठ पा रहे थे।”

    वहीं, वेस्‍टइंडीज के खिलाफ होने वाले टेस्‍ट मैचों में विराट कोहली कप्‍तानी करेंगे और उप कपतान अजिंक्‍य रहाणे को बनाया गया है। इस दौरे के लिए मुंबई के तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर को जगह दी गई है। जब संदीप पाटिल से क्रिकेटर युवराज सिंह और हरभजन सिंह के रिटायर पर सवाल किया गया तो उन्‍होंने बताया कि “यह उनका निजी फैसला होगा। चयनकर्ताओं को कोई भी हक नहीं है कि वे खिलाडि़यों को रिटायर होने की सलाह दें।”

    sw

    Most Popular

    Top