ग्रेटर नोएडा, 11 सितम्बर (आईएएनएस)| चेतेश्वर पुजारा (नाबाद 256) के नायाब शतक और शेल्डन जैक्शन (134) के साथ निभाई गई 243 रनों की बेजोड़ साझेदारी की बदौलत गौतम गंभीर की टीम इंडिया ब्लू ने दलीप ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले में रविवार को अपनी पहली पारी छह विकेट पर 693 रन के कुल स्कोर पर घोषित करने के बाद इंडिया रेड के 16 रनों पर दो विकेट भी चटका दिए। इंडिया रेड अभी भी पहली पारी के आधार पर 677 रनों से पीछे है और उसके आठ विकेट शेष हैं।

शहीद विजय सिंह पथिक क्रिकेट स्टेडियम में पहली बार गुलाबी गेंद से खेले जा रहे दिन-रात के इस मैच के दूसरे दिन इंडिया ब्लू के इस विशाल स्कोर के जवाब में अपनी पहली पारी खेलने उतरी युवराज सिंह की इंडिया रेड के पहले दो विकेट पर पहली तीन गेंदों पर ही गिर गए।

यह भी पढ़े : दुलीप ट्राफी फाइनल : इंडिया ब्ल्यू के लिए गंभीर और पुजारा की शानदार बल्लेबाज़ी से मैच में मज़बूत पकड़

पंकज सिंह ने दूसरी और तीसरी गेंद पर अभिनव मुकुंद और सुदीप चटर्जी को पवेलियन की राह दिखा दी। दोनों बल्लेबाज खाता खोले बगैर लौटे। दिन का खेल खत्म होने तक शिखर धवन 14 रन बनाकर नाबाद लौटे, जबकि कप्तान युवराज अभी खाता नहीं खोल सके हैं।

इससे पहले रेड ने दिन की बेहतरीन शुरुआत की और तीन विकेट पर 362 रन के स्कोर से आगे खेलने उतरी ब्लू के दिनेश कार्तिक (55) को दिन की पहली ही गेंद पर पवेलियन की राह दिखा दी।

हालांकि पहले दिन शतक बनाकर नाबाद रहे पुजारा ने इसके बाद सौराष्ट्र की अपनी टीम के साथी खिलाड़ी जैक्शन के साथ नायाब साझेदारी निभाई और प्रथम श्रेणी क्रिकेट में दसवीं बार दोहरा शतक लगाने का कारनामा किया और विजय हजारे, राहुल द्रविड़ और सुनील गावस्कर की बराबरी कर ली। पुजारा से आगे अब सिर्फ 11 बार दोहरा शतक लगाने वाले विजय मर्चेट हैं।.

 

यह भी पढ़े : दुलीप ट्राफी : दुसरे दिन पुजारा और जैक्सन ने लगाये शतक

टूर्नामेंट में अपना दूसरा शतक लगाने वाले जैक्शन ने 204 गेंदों का सामना किया और 15 चौके तथा दो छक्के भी लगाए। वह 605 के कुल योग पर अमित मिश्रा को उनकी ही गेंद पर कैच थमा पवेलियन लौटे।

पुजारा ने इसके बाद रवींद्र जडेजा (48) के साथ तेजी से 88 रन जोड़े। जडेजा के आउट होते ही कप्तान गंभीर ने पारी घोषित कर दी। गंभीर ने भी टीम के लिए 94 रनों की अहम पारी खेली, जबकि सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल (57) ने गंभीर के साथ टीम को सधी शुरुआत दिलाई।

कप्तान युवराज ने कुल आठ गेंदबाजों का इस्तेमाल किया, लेकिन किसी भी गेंदबाज ने उन्हें अपेक्षित सफलता नहीं दिलाई। मिश्रा ने सर्वाधिक दो विकेट हासिल किए। सर्वाधिक 44 ओवर गेंदबाजी करने वाले कुलदीप यादव सबसे महंगे भी साबित हुए।

  • SHARE

    आईएएनएस एक न्यूज़ मिडिया कम्पनी है, जों दुसरे न्यूज़ मिडिया कों सभी प्रकार की खबरे प्रदान करती है. आईएएनएस खेल, राजनीती और बालीवुड के अलावा अन्य सभी प्रकार की खबरे अपने मिडिया पार्टनर कों प्रदान करता है.

    Related Articles

    विराट कोहली या रवि शास्त्री नहीं, बल्कि इस पूर्व दिग्गज भारतीय कप्तान को दिया...

    कोलकाता के ईडन गार्डन में भारत और श्रीलंका के बीच खेला गया मुकाबला पहला टेस्ट भले ही ड्रा साबित हुआ हो. मगर भारतीय टीम...

    एक ही टेस्ट में गोल्डन डक और शतक बनाने वाले देश के सबसे पहले...

    कोलकता के ईडन गार्डन टेस्ट मैच में भारतीय कप्तान विराट कोहली पहली पारी में अपना खाता भी नहीं खोल सके, लेकिन दूसरी पारी में...

    बमुश्किल मैच को ड्रॉ करवाने के बाद श्रीलंका के कप्तान दिनेश चंडीमल ने की...

    भारत और श्रीलंका के बीच कोलकाता के ईडन गार्डन में खेले गए टेस्ट मैच में भरपूर रोमांच रहा और रोमांच के बीच ये टेस्ट...

    13 साल का एक बच्चा हुआ सचिन तेंदुलकर का दिवाना मास्टर ब्लास्टर के लिए...

    नई दिल्ली, 20 नवंबर; सचिन इस देश में क्रिकेट के भगवान का दर्जा पा चुके हैं। वह न जाने कितने बच्चों, युवा खिलाड़ियों के लिए...

    कोलकाता टेस्ट में हो गया एक ऐसा हैरतअंगेज कारनामा, जो आज से पहले कभी...

    क्रिकेट की शुरूआत से ही देखा गया है कि जब भारत की सरजमी पर कोई मैच खेला जाता हो खासकर टेस्ट मैच तो स्पिनर्स...