टेस्ट क्रिकेट में 500 विकेट लेना कोई आसान काम नहीं है खास कर आज के दौर में जहाँ खिलाडी अक्सर चोटिल होते रहते हैं. ख़ैर यह मुकाम पाने के लिए एक लम्बी अवधि के करियर के साथ साथ उच्च दर्जे की प्रतिभा भ जरुरी है.

आइये देखते हैं कौन हैं वह 5 गेंदबाज जो यह कारनामा कर सकते हैं…

5 . रविचंद्रन आश्विन
इस भारतीय गेंदबाज ने 2011 में दिल्ली के फिरोज शाह कोटला स्टेडियम में वेस्ट इंडीज के खिलाफ हुए मैच में अपने टेस्ट करियर की शुरुवात की थी. इस दौरान अपने बढ़िया प्रदर्शन से वह “मैन ऑफ़ द सीरीज” का अवार्ड पाने में सफल रहा. हाल ही की ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट सीरीज में आश्विन पहले ऑस्ट्रेलिया दौरे के मुकाबले बेहतर खेला. आश्विन अब तक खेले गए कुल अपने 24 टेस्ट मैचों में 124 विकेट ले चुका है. जिसमे 30 .67 की औसत रही. वहीँ वह दस 5 -विकेट हॉल और दो 10 -विकेट हॉल भी अपने नाम कर चुका है. भारतीय टीम में नियमित सदस्य होने के कारण व् मैचों में अपना बेहतर प्रदर्शन के साथ वह 500 टेस्ट विकेट लेने का एक मजबूत दावेदार हो सकता है.

4 . स्टुअर्ट ब्रॉड
इंग्लैंड के स्टुअर्ट ब्रॉड ने 2007 में श्रीलंकाके खिलाफ मैच में अपना टेस्ट करियर शुरू किया . लेकिन वह मैच में 95 रन पर केवल एक ही विकेट ले पाये. और यह मैच ड्रा रहा. एशेज 2009 के दौरान ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच में स्टुअर्ट ने बढ़िया प्रदर्शन किया इसमें स्टुअर्ट ने पांचवे व् आखिरी टेस्ट में 37 रनों पर 5 विकेट झटके थे. मैच में जीत इंग्लैंड की हुई और स्टुअर्ट को मैन ऑफ़ द मैच अवार्ड प्राप्त हुआ. 28 वर्षीय ब्रॉड ने कुल 79 टेस्ट मैचों में 287 विकेट लिए हैं.

3 . हरभजन सिंह
भारतीय गेंदबाज हरभजन सिंह ने 1998 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुए टेस्ट मैच से अपना टेस्ट करियर का आगाज़ किया. लेकिन 2001 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हरभजन ने 3 टेस्ट मैच सीरीज में 32 विकेट लेकर भारतीय टीम को 2 -1 से सीरीज जीतने में योगदान दिया. वह भारतीय टीम का एक सफल स्पिनर है. लेकिन 2011 में चोट लगने की वजह से इस खिलाडी को इंग्लैंड दौरे से बाहर रखा गया था. और टीम में आश्विन ने उसकी जगह ले ली. हरभजन ने 102 टेस्ट मैचों में 32 .32 की औसत से कुल 416 विकेट लिए हैं .

2 . जेम्स एंडरसन
लॉर्ड्स में ज़िम्बाब्वे के खिलाफ इंग्लैंड के लिए अपना पहला टेस्ट खेलने वाले जेम्स ने इस दौरान 5 विकेट हॉल लिए और ऐसा करने वाले वे इंग्लैंड के 42 वे खिलाडी बने. 2008 में न्यूज़ीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में 19 .31 की औसत से जेम्स ने 19 विकेट लिए थे और इंग्लैंड 2 -0 से सीरीज जीता था. हाल ही में वेस्ट इंडीज दौरे के दौरान सर इयान बॉथम का 383 का रिकॉर्ड तोड़ते हुए वे इंग्लैंड के प्रमुख गेंदबाज बने और साथ ही न्यूज़ीलैंड के खिलाफ खेलते हुए वे 400 विकेट लेने वालों की श्रेणी में दाखिल हुए.

1 . डेल स्टेन
आज के समय में दक्षिण अफ्रीका के डेल स्टेन विश्वभर में सबसे बढ़िया गेंदबाज के तौर पर माने जाते हैं. 2004 में इंग्लैंड के खिलाफ डेल स्टेन ने अपना पहला टेस्ट खेला लेकिन उन्हें सफलता 2005 में न्यूज़ीलैंड के खिलाफ मिली जहाँ उन्होंने पांच 5 विकेट हॉल लिए. डेल स्टेन अब तक कुल 78 टेस्ट मैचों में 22 .55 की औसत से 396 विकेट ले चुके हैं. कई वर्षों से वह अपने बढ़िया प्रदर्शन से अपनी टीम को जीत दिलवाने में एहम योगदान देते रहे है. डेल उम्र के 30 के पड़ाव पर हैं और अभी भी उनके करियर का कुछ समय बाकि है जिसमे वह 500 विकेट लेने का आंकड़ा पार कर सकते हैं.

  • SHARE

    Related Articles

    राहुल या फिर रहाणे: आखिर कौन सलामी बल्लेबाज बन सकता है भारतीय टीम के...

    मौजूदा समय में टीम इण्डिया में गलाकाॅट प्रतिस्पर्धा चल रही है।अगर कोई भी एक खिलाड़ी अपनी फाॅर्म या फिटनेस को बरकरार नहीं रख पाता...

    विराट और धोनी को नहीं बल्कि इन दो भारतीय खिलाड़ियों को स्टीवन स्मिथ ने...

    चेन्नई में हुए पहले वनडे मैच के बाद अब दुसरे वनडे मैच के लिए भारत और ऑस्ट्रेलिया की टीमें अब कोलकता पहुच गई है...

    ऑस्ट्रेलिया के कप्तान ने अपने 100वें वनडे मैच पर कही ये बात

    ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीवन स्मिथ ने अपने करियर की शुरुआत एक लेग स्पिनर की तौर पर की थी. आज वो अपने करियर में अपना...

    ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दुसरे वनडे से पहले भिड़ी विराट और धोनी की टीम, जाने...

    पहले वनडे में आसानी से ऑस्ट्रेलियाई टीम पर की जीत दर्ज के बाद आत्मविश्वास से लबरेज भारतीय टीम कोलकता के ईडन गार्डन मैदान में...

    स्टेन अब बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट से भी हुए बाहर, दक्षिण अफ्रीकी टीम पर...

    साउथ अफ्रीकी तेज़ गेंदबाज डेल स्टेन का बदकिस्मत साथ नही छोड़ रही. अब उनका बांग्लादेश के साथ 28 सितम्बर से होने वाले टेस्ट मैच...