आईपीएल के पिछले कई सत्रों में टी -20 टूर्नामेंट में कई अद्भूत खिलाडियों ने अपना बढ़िया प्रदशन कर सुर्खियां बटोरी और अपनी फ्रेंचाइजी की सफलता में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है.

यहाँ पेश है सब समय के महानतम आईपीएल इलेवन, देखिये सूची-

# 1 क्रिस गेल
खेल के सबसे अधिक प्रभावी सलामी बल्लेबाजों में से एक क्रिस गेल ने 154.56 की स्ट्राइक रेट से 68 आईपीएल में 2708 रन बनाए हैं. 35 वर्षीय जमैका के खिलाडी शुरू में 2009 में कोलकाता नाइट राइडर्स द्वारा खरीदा गया था, उस दौरान 2009 और 2010 के सीजन में इन्होने कुल केवल 463 रन बनाये थे. और फिर वह 2011 में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर ( आरसीबी ) टीम में शामिल हुए. बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने सत्र 2011 में 12 मैचों में 608 रन बनाए, टी -20 टूर्नामेंट के एक ही मौसम में सर्वाधिक रन बनाकर इस वर्ष वह ऑरेंज कैप पाने में सफल हुए. 2013 संस्करण में गेल ने 16 मैचों में 708 रन बनाए. लेकिन 2014 का सत्र कुछ ख़ास नहीं रहा इस दौरान इन्होने 9 मैचों में सिर्फ 196 रन बनाए.

# 2 गौतम गंभीर
बाएं हाथ के बल्लेबाज गौतम गंभीर ने आईपीएल के उद्घाटन सत्र में 14 मैचों में 534 रन बनाए, लेकिन 2009 और 2010 सत्र में वह अपने बढ़िया प्रदर्शन को दोहरा नहीं सके. फिर 2011 की नीलामी में 11 करोड़ रुपये में गंभीर को कोलकाता नाइट राइडर्स द्वारा ख़रीदा गया. 30 वर्षीय इस खिलाडी ने इस दौरान 15 मैचों में 378 रन बनाए. अगले सत्र में फाइनल में चेन्नई सुपर किंग्स को हरा कर टीम को जीत का ताज पहनाया. उन्होंने 143.55 की स्ट्राइक रेट से 17 मैचों में 590 रन बनाए थे. गंभीर ने अपनी बल्लेबाज़ी प्रतिभा का प्रदर्शन कर खुद को साबित किया है.

# 3 सुरेश रैना
बाएं हाथ के बल्लेबाज सुरेश रैना चेन्नई सुपर किंग्स के लिए एक बढ़िया रन स्कोरर रहे हैं. अपने पहले सत्र में उन्होंने 142.22 की स्ट्राइक रेट से 16 मैचों में 421 रन बनाए थे. अगले वर्ष उन्होंने 140.90 की स्ट्राइक रेट से 14 मैचों में 434 रन बनाए. और फिर 2010 में सुपर किंग्स की पहली आईपीएल जीत में रैना ने अहम भूमिका निभाई जिसमे सुरेश ने 142. 85 की दर से 16 मैचों में 520 रन बनाए थे. उन्होंने 2011 में 16 मैचों में 438 रन बनाकर बैक-टू -बैक खिताब जीतने के पक्ष में एक बार फिर से महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. अगला सत्र कुछ खास नहीं रहा लेकिन किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ 2013 में इन्होने अपने पहले आईपीएल टन रन बनाए. शतक पर नाबाद रहे. वहीँ 2014 में रैना ने 146.08 की स्ट्राइक रेट से 16 मैचों में 523 रन बटोरे. 28 वर्षीय इस खिलाडी ने एक भी आईपीएल सत्र नहीं छोड़ा.

# 4 रोहित शर्मा
रोहित शर्मा ने डेक्कन चार्जर्स के लिए खेलते हुए आईपीएल में शुरुवात की थी. दायें हाथ के बल्लेबाज ने 147.98 के एक प्रभावशाली स्ट्राइक रेट में 13 मैचों में 404 रन दर्ज किये थे. 2010 के सत्र में रोहित ने फिर से अपना बेहतर प्रदर्शन किया था. इसके बाद वे 2011 में मुंबई इंडियंस में शामिल हुए और वहां इन्होने 16 मैचों में 372 रन बनाए. वहीँ 2012 में इन्होने 3 अर्धशतक और एक शतक सहित 17 मैचों में 433 रन बनाए. 2013 में इन्हे मुंबई इंडियंस का कप्तान नियुक्त किया गया. इस दौरान इन्होने 19 मैचों में 538 रन बनाए और अपनी टीम के पहले आईपीएल खिताब के लिए पक्ष का नेतृत्व किया. वहीँ 2014 में 27 वर्षीय इस खिलाडी ने 15 मैचों में 390 रन बनाए.

# 5 शेन वाटसन
33 वर्षीय शेन वाटसन ने टी -20 लीग के उद्घाटन सत्र में 15 मैचों में 472 रन बनाए और 17 विकेट लिए और रॉयल्स टीम की जीत के रूप में टूर्नामेंट के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी घोषित किये गए. वहीँ इसके बाद चार साल तक इनका आईपीएल करियर अच्छा नहीं रहा. लेकिन फिर 2013 में बढ़िया फॉर्म में लौटे और 16 मैचों में 543 रन बनाए व् 13 विकेट लिए. राहुल द्रविड़ के 2013 में सेवानिवृत्त होने के बाद इन्हे 2014 के लिए टीम का कप्तान बनाया गया. लेकिन वह ज्यादा कमाल नहीं दिखा सके और 13 मैचों में केवल 240 रन व् 7 विकेट ले सके.

 

# 6 एमएस धोनी
आईपीएल के इतिहास में शायद सबसे सफल कप्तान रहे धोनी ने 142.19 की स्ट्राइक रेट से 112 मैचों में 2615 रन बनाए हैं. हालांकि, 33 वर्षीय धोनी अपने करियर के दौरान कुछ महत्वपूर्ण पारी खेल चुके हैं, जैसे कि धर्मशाला में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ 29 गेंदों पर 54 नाबाद और दूसरा उदहारण मुंबई इंडियंस के खिलाफ 20 गेंदों में 51 रन. उनके इस शानदार योगदान ने टीम को जीत की ओर पहुँचाया.

# 7 रजत भाटिया
रजत भाटिया ने अब तक तीन आईपीएल फ्रेंचाइजी का प्रतिनिधित्व किया है और अपनी बढ़िया गेंदबाज़ी से सूची में स्थान अर्जित किया. भाटिया ने 7.38 की अर्थव्यवस्था के साथ 80 मैचों में 63 विकेट अपने नाम किये. बढ़िया गेंदबाज के साथ साथ वह एक बेहद सक्षम बल्लेबाज भी हैं, हालाँकि दर्शकों को इसकी झलक अभी तक देखने को नहीं मिली है लेकिन इसकी वजह से उनकी काबिलियत पर सवाल नहीं उठाया जा सकता.

# 8 अमित मिश्रा
अमित मिश्रा ने 7.18 की अर्थव्यवस्था से 86 मैचों में 102 विकेट लिए हैं. दिल्ली डेयरडेविल्स का प्रतिनिधित्व करते हुए लेग स्पिनर गेंदबाज मिश्रा ने आईपीएल के पहले संस्करण में 11 विकेट लिए. और इससे अगले सत्र में इन्होने 11 मैचों में 14 विकेट हासिल किये. साथ ही 2010 और 2011 में इस खिलाडी ने सफल टूर्नामेंट का आनंद लिया और एक में 17 और अगले सत्र में 19 विकेट झटके. जहाँ 2012 में 14 मैचों में 13 विकेट लिए वहीँ हैदराबाद के लिए खेलने के दौरान 2013 में मिश्रा ने 6.35 की एक अर्थव्यवस्था से 21 विकेट लिए. लेकिन 2014 में 10 मैचों में मात्र 7 विकेट लेने में सफल रहे.

# 9 सुनील नारायण
वेस्टइंडीज के रहस्यमयी स्पिनर सुनील नारायण ने 2012 में आईपीएल में कदम रखा, इस दौरान इन्होने 15 मैचों में 24 विकेट लिए और नाइट राइडर्स की जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. वर्ष 2013 में वह एक बार फिर से 16 मैचों में 22 विकेट लेकर वह उनके लिए बेहद कारगर साबित हुए पर जीत नहीं मिल पाई. लेकिन अगले वर्ष, इन्होने 3 साल में टीम के दूसरे खिताब के लिए 16 मैचों में 21 विकेट झटके.

# 10 लसिथ मलिंगा
टी -20 क्रिकेट में शायद सबसे अधिक विनाशकारी गेंदबाज़ो में शुमार मलिंगा ने मुंबई इंडियंस के लिए खेलते हुए 83 आईपीएल मैचों में 119 विकेट चटकाए हैं. 31 साल की उम्र में 2009 में इन्होने अपना आईपीएल करियर शुरू किया था जिसमे इन्होने 6.30 की अर्थव्यवस्था से 13 मैचों में 18 विकेट झटके थे. इसके बाद उन्होंने 7.02 की एक अर्थव्यवस्था में 13 मैचों में 15 विकेट लिए. इससे अगले वर्ष मलिंगा ने 5.95 की एक शानदार अर्थव्यवस्था में 16 मैचों में 28 विकेट लिए. इनका गेंदबाज़ी आंकड़ा ओवरआल आईपीएल के सभी सत्रों में बढ़िया रहा.

# 11 आरपी सिंह
रोहित शर्मा के साथ साथ वह टूर्नामेंट के पहले सत्र में डेक्कन चार्जर्स के लिए एक बढ़िया खिलाडी थे, इन्होने 14 मैचों में 15 विकेट हासिल किये. इसके बाद अगले साल उन्होंने 16 मैचों में 23 विकेट लेने के साथ टीम के लिए एहम भूमिका निभाई. और विकेट की सबसे अधिक संख्या के लिए पर्पल कैप हासिल की. लेकिन उसके बाद के सत्रों में इनका आईपीएल प्रदर्शन कुछ ज्यादा अच्छा नहीं रहा.

  • SHARE
    sportzwiki हिंदी सभी प्रकार के स्पोर्ट्स की सभी खबरे सबसे पहले पाठकों तक पहुँचाने के लिए प्रतिबद्ध है. हमारी कोशिस यही रहती है, कि हम लोगो को सभी प्रकार की खबरे सबसे पहले प्रदान करे.

    Related Articles

    NEWS: 3-0 से सीरीज जीतते ही भारतीय चयनकर्ताओ ने बाकी बचे 2 मैचो से...

    मौजूदा समय में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पांच वनडे मैचों की श्रृंखला खेली जा रही हैं और रविवार, 24 सितम्बर को इस पेटीएम...

    प्रो कबड्डी लीग : रोमांचक मुकाबले में एक अंक से जीती थलाइवाज की टीम

    नई दिल्ली, 24 सितम्बर (आईएएनएस)| कप्तान अजय ठाकुर के अंतिम पलों में किए गए बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर तमिल थलाइवाज ने प्रो कबड्डी...

    प्रो कबड्डी: लगातार घर में तीसरा मैच हारी दिल्ली

    नई दिल्ली, 24 सितम्बर (आईएएनएस)| दबंग दिल्ली प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के सीजन-5 में अपने घर में भी हार के सिलसिले को नहीं तोड़...

    रोहित व रहाणे को नहीं बल्कि इस खिलाड़ी को दिया विराट ने जीत का...

    भारत और ऑस्ट्रेलियाई टीम के बीच चल रही पांच मैचों की वनडे सीरीज का तीसरा वनडे मैच आज रविवार को इंदौर के होल्कर क्रिकेट स्टेडियम...

    तीसरा वनडे जीतने के बाद खुद विराट कोहली ने बताया क्यों चौथे नम्बर पर...

    ऑस्ट्रेलियाई टीम को पहले चेन्नई में 26 रनों से फिर उसके बाद कोलकता में 50 रनों से करारी शिकस्त देने के बाद आज रविवार...