सन् 1983 में भारत को पहला वर्ल्ड कप जीताने वाले टीम के ऑलराउंडर खिलाड़ी मोहिंदर अमरनाथ ने कहा कि भारत को पहले टेस्ट में 72 रनों से मिली हार की वजह से निराशा हाथ लगी थी लेकिन वहां से कुछ चीजें भारत के पक्ष में अच्छी भी साबित हुई।

भारत-साउथ अफ्रीका के बीच चल रही फ्रीडम सीरीज के बारे में इस पूर्व भारतीय खिलाड़ी ने कहा कि केपटाउन में भारत को भले ही हार मिली हो लेकिन कुछ चीज भारत के पक्ष में रही। भारत को हार्दिक पांड्या के रूप में एक जबरदस्त ऑलराउंडर खिलाड़ी मिला है।

पहले मैच में पांड्या ने मेजबानों पर बनाया दबाव

उन्होंने कहा कि हार्दिक की 95 बॉल में 93 की पारी लाजवाब थी। 92 रन पर 7 विकेट गिरने के बाद जिस तरह से हार्दिक ने भारत को गेम में ना सिर्फ वासप लेकर आए बल्कि फिर गेंदबाजी में भी 2 विकेट लेकर उन्होंने विपक्षी टीम को दबाव में ला दिया। भारत ने गेम में जबरदस्त वापसी की और मैच जीतने के मुकाम तक आ गए थे।

दुर्भाग्यवश भारत मैच हार गया लेकिन पांड्या ने जिस तरह से मेजबानों पर काउंटर अटैक किया था वो काबिल-ए-तारीफ है। उनके अटैकिंग गेम से साउथ अफ्रीकी गेंदबाज प्रेशर में आ गए थे। उनकी 93 रनों की पारी विपक्षियों को 200 रन की पारी के बराबर लग रही थी।

पांड्या को उपरी क्रम में करनी चाहिए बल्लेबाजी

मोनिंदर अमरनाथ ने कहा कि पांड्या को बैंटिंग में उपरी क्रम में भेजने की जरूरत है जिससे वो अपनी अटैकिंग गेम खेलकर विपक्षी गेंदबाजों और फिल्डरों को दबाव में ला सके। पूर्व भारतीय खिलाड़ी ने कहा कि केपटाउन और सेंचुरियन जैसी पिच पर आपके पास हार्दिक पाड्या जैसा खिलाड़ी होना चाहिए जो दबाव में ऊपर आकर विरोधियों पर काउंटर अटैक कर सके।

बुमराह के रूप में भारत को मिला शानदार गेंदबाज

पांड्या के अलावा उन्होंने बुमराह की भी तारीफ की और कहा कि वो भी भारतीय टीम में एक बड़े खिलाड़ी बनकर उभरेंगे। पूर्व भारतीय खिलाड़ी ने कहा कि बुमराह ने पहली पारी में डी-विलियर्स का बड़ा ही महत्वपूर्ण विकेट लेकर इंडिया को ब्रेक थ्रू दिलवाया और साउथ अफ्रीका को 286 रन पर रोकने में कामयाब हुए।

उन्होंने कहा कि दूसरे पारी में बुमराह ने लाजबाव गेंदबाजी की और 4 विकेट लिए। साउथ अफ्रीका के कप्तान फाफ-डु-प्लेसी को जिस गेंद पर बुमराह ने आउट किया वो एक बेहद शानदार गेंद थी जिसपर दुनिया का कोई भी बल्लेबाज आउट हो जाएगा।

रहाणे को खेलना चाहिए

सेंचुरियन में भारत की प्लेयिंग इलेवन के बारे में अमरनाथ ने कहा कि भारतीय टीम पिछले मैच की टीम से खेलेगी तो भी उसमे कोई हर्ज नहीं है लेकिन उस टीम में अजिक्य रहाणे को लेना काफी जरूरी है। मैं हैरान हूं कि पहले मैच में रहाणे को क्यों नहींं खेलाया गया जबकि भारत से बाहर उनका औसत भी शानदार है।

  • SHARE

    Related Articles

    क्रिकेट मैदान पर रन बरसाने वाले विराट कोहली अब बेचेंगे पानी

    भारतीय क्रिकेट टीम कप्तान और दिग्गज बल्लेबाज विराट कोहली ने अपने असाधारण खेल के प्रदर्शन के दम पर अर्न्तराष्ट्रीय क्रिकेट जगत में जो ख्याति...

    बार्सिलोना के साथ नए करार को तैयार सर्गी रोबटरे

    बार्सिलोना, 20 जनवरी; बार्सिलोना ने इस बात की पुष्टि की है कि टीम के डिफेंडर सर्गी रोबटरे ने क्लब के साथ नए करार के लिए...

    IPL 11: CSK ने किया अपने बॉलिंग कोच के नाम का ऐलान, भारतीय टीम...

    बहुत भी जल्द इंडियन प्रीमियर लीग {आईपीएल} का मेला भारत देश में लगने जा रहा हैं. 2008 में शुरू हुआ आईपीएल का खेल, अब...

    सचिन-कांबली ही नहीं बल्कि बचपन में अफ्रीका के ये दो दिग्गज भी थे बहुत...

    अगर आप भी क्रिकेट के फैन है तो यह तो आपको भी पता होगा कि भारतीय क्रिकेट टीम के दो पूर्व दिग्गज क्रिकेटर सचिन...

    पांच बड़े कारण आखिर क्यों रोमन रेन्स को रेसलमेनिया 34 में ब्रोक लेसनर से...

    यह बात तो हर रेस्लिंग फैन जानता है कि रेसलमेनिया 34 में ब्रोक लेसनर को अपनी WWE यूनिवर्सल टाइटल रोमन रेन्स के खिलाफ बचानी...