टेस्ट मैच में भारत का प्रदर्शन पिछले कुछ साल पहले अच्छा था, लेकिन अभी हाल ही के दिनों में भारत लम्बे समय से कोई भी टेस्ट नहीं जीत पाया है, और इसके पीछे एक मुख्य कारण खिलाडियों के बिच एक बड़ी साझेदारी भी हो सकती है, लेकिन पिछले दिन विराट कोहली और अंजिक्य रहाने के बीच हुई साझेदारी भारतीय क्रिकेट प्रसंसको के लिए एक नई उमीद लेकर आई है, कि भारत यह मैच जीत सकता है.

रहाने और कोहली के बिच हुई 262 रनों की साझेदारी पिछले कुछ सालो बाद हुई साझेदारी में से एक है, आज यहाँ हम पिछले कुछ सालो में हुए बड़ी सझेदार्रियों पर एक नजर डालते है:

 

पार्टनर

रन

विकेट

पारी

विरुद्ध

ग्राउंड

मैचडेट

राहुलद्रविड़, विरेंद्रसहवाग

410

1

2

पाकिस्तान

लाहौर

13 जनवरी 2006

वीवीएसलक्ष्मण, सचिनतेंदुलकर

353

4

1

ऑस्ट्रेलिया

सिडनी

2 जनवरी2004

विरेंद्रसहवाग, सचिनतेंदुलकर

336

3

1

पाकिस्तान

मुल्तान

28 मार्च2004

राहुलद्रविड़, वीवीएसलक्ष्मण

303

5

2

ऑस्ट्रेलिया

एडिलेड

12 दिसम्बर 2003

विराट कोहली, अंजिक्य रहाने

262

4

2

ऑस्ट्रेलिया

मेलबर्न

26 दिसम्बर2014

राहुलद्रविड़, गौतम गंभीर

259

2

1

बांग्लादेश

चित्तागांग

17 दिसम्बर2004

सुरेश रैना, सचिनतेंदुलकर

256

5

2

श्रीलंका

कोलम्बो

26 जुलाई 2010

सौरव गांगुली, सचिनतेंदुलकर

255

3

1

इंग्लैंड

नाटिंगम

4 जुलाई 1996

सौरव गांगुली, सचिनतेंदुलकर

249

4

1

इंग्लैंड

लीड्स

22 अगस्त 2002

विएलमान्जेकर, पीरॉय

237

2

3

वेस्ट इंडीज

किंग्स्टन

28 मार्च 1953

*आंकड़े 29 दिसम्बर 2014 तक के है.

विराट कोहली और अंजिक्य रहाने की यह साझेदारी अभी तक भारत द्वारा हुई बड़ी साझेदारियों में से 5 वीं बड़ी साझेदारी है, और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया में ही तीसरी बड़ी साझेदारी है, भारत द्वारा सबसे बड़ी साझेदारी वीरेंद्र सहवाग और राहुल द्रविड़ के बीच लाहौर में पाकिस्तान के खिलाफ हुई थी, जिसमे दोनों बल्लेबाजो ने 410 रनों की साझेदारी निभाई थी.

टेस्ट में अभी तक भारत का सबसे सुनहरा समय 2002-06 के बिच रहा है, क्यूंकि इस समय सबसे ज्यादा बड़ी साझेदारियां हुई, उपरोक्त सूचि को देखकर हम ख सकते है, यह समय मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर का था, क्यूंकि वह अकेले बल्लेबाज है जिन्होंने अलग-अलग बल्लेबाजो के साथ बड़ी पारियां खेली है.

अगर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत की ओर से बड़ी साझेदारी पर नजर डाले तो वीवीएस लक्ष्मण और सचिन तेंदुलकर द्वारा 2004 में सिडनी में की गयी 353 रनों की साझेदारी अभी तक की सबसे बड़ी साझेदारी है.

 

  • SHARE

    sportzwiki हिंदी सभी प्रकार के स्पोर्ट्स की सभी खबरे सबसे पहले पाठकों तक पहुँचाने के लिए प्रतिबद्ध है. हमारी कोशिस यही रहती है, कि हम लोगो को सभी प्रकार की खबरे सबसे पहले प्रदान करे.

    Related Articles

    OMG!! मात्र 2 रनों के मामूली स्कोर पर ढेर हुई यह टीम, 9 बल्लेबाज...

    क्रिकेट में हमेशा से ही बहुत से रिकॉर्ड बनाते रहते है.आज महिला क्रिकेट में नागालैंड की टीम ने अंडर-19 ने एक ऐसा शर्मनाक रिकॉर्ड...

    … तो क्या बचपन से एक दूसरे को जानती हैं साक्षी और अनुष्का?? तस्वीरें...

    भारतीय कप्तान विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी की दोस्ती से तो सभी वाकिफ हैं. कोहली मैदान के बाहर हो या मैदान के अन्दर...

    सुनील गावस्कर के बाद अब इस भारतीय दिग्गज ने भी बांधे युजवेन्द्र चहल की...

    भारतीय क्रिकेट टीम के सीमित ओवर में खास जगह बना चुके चुके हरियाणा के स्पिन गेंदबाज युजवेन्द्र चहल की हर जगह तारीफ हो रही...

    VIDEO: एक बार फिर से चर्चा में आई धोनी की बेटी जीवा, सोशल मीडिया...

    भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की लोकप्रियता के बारे में हम सभी बहुत ही अच्छे से जानते हैं. धोनी के चाहने...

    FACTS: आखिर क्यों WWE से ब्रोक लेसनर और जॉन सीना जैसे और नाम नहीं...

    ये कहना गलत नहीं होगा कि WWE का पूरा दामोदार कुछ बड़े रेस्लरो पर ही है, अगर वे चुनिन्दा रेस्लर किसी पे पर व्यू...