लोधा समिति के फैसले से श्रीनिवासन को कोई मतलब नहीं, कुछ भी बोलने से किया इंकार - Sportzwiki
क्रिकेट

लोधा समिति के फैसले से श्रीनिवासन को कोई मतलब नहीं, कुछ भी बोलने से किया इंकार

  • अब से लगभग 30 घंटे बाद“लोधा समिति” चेन्नई सुपर किंग्स मताधिकार को लेकर अपना फैसला सुनाएगी लेकिन एन श्रीनिवासन फैसले के बारे में जरा भी विचलित नहीं हैं. वे बेलग्रेड में कहीं छुट्टियाँ मना रहे हैं, उन्होंने  चेन्नई सुपर किंग्स और गुरुनाथ मयप्पन के भविष्य के बारे में बात करने से साफ इनकार कर दिया.

    श्रीनिवासन ने कहा – “फैसला मेरे बारे में नहीं है, मैं भारत के क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड से बाहर हूँ. मैं अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट और सीमेंट के कारोबार पर ध्यान केंद्रित कर रहा हूँ.मेरा गाइड मुझे बेलग्रेड के कुछ रमणीय जगह दिखा रहा है, मुझे जाने दीजिये मुझे इस बारे में कोई बात नहीं करनी.”

    हालांकि, आईसीसी में अहम पद रखने वाले श्रीनिवासन लंबे समय तक इन सवालों से बच नहीं सकते. मेरीलेबोन क्रिकेट क्लब (एमसीसी) ने आज लॉर्ड्स में अपने वार्षिक विश्व क्रिकेट समिति की बैठक में खेल के बारे में बातचीत के लिए उन्हें आमंत्रित किया है. और यहाँ सवाल जवाब के लिए एक सत्र होगा. इस सत्र के दौरान अंग्रेजी पत्रकारों द्वारा इस मुद्दे को उठाने की संभावना है .

    वहीं श्रीनिवासन के समर्थक उनके लिए सकारात्मक निर्णय आने की उम्मीद कर रहे हैं. एक समर्थक ने कहा –“सुप्रीमकोर्ट ने कहा था कि श्रीनिवासन 6 महीने के बाद या लोढ़ा समिति के फैसले के बाद अपने सामान्य बीसीसीआई कार्यों को फिर से शुरू कर सकते हैं. उन्होंने पहले से ही चेन्नई सुपर किंग्स टीम में हिस्सेदारी बेच दी है”

    लेकिन बीसीसीआई के सदस्यों का हालांकि एक अलग दृष्टिकोण है बीसीसीआई के वकील का कहना है कि “CSK के शेयर हस्तांतरण पर लोढ़ा समिति की रिपोर्ट अभी बाकि है. तो, वह फिर से शुरू कर सकते हैं या नहीं ये समय से पहले के सवाल है.”

    इस बीच, लोढ़ा समिति ने सभी चार सम्बन्धित पार्टिया- CSK , राजस्थान रॉयल्स , म्यपप्न और राज कुंद्रा के वकीलों से मंगलवार को नई दिल्ली में भारत हैबटाट केंद्र में दोपहर 1 बजे उपस्थित होने के लिए कहा गया  है.

    sw
    Click to comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Top