आईसीसी ने टी-20 विश्वकप में पुरुषो की इनाम राशि में 86% जबकि महिलाओ के लिए 122% राशि की बढ़ोतरी की - Sportzwiki
क्रिकेट

आईसीसी ने टी-20 विश्वकप में पुरुषो की इनाम राशि में 86% जबकि महिलाओ के लिए 122% राशि की बढ़ोतरी की

  • आईसीसी ने अगले साल 8 मार्च से 3 अप्रैल तक चलने वाले टी ट्वेंटी विश्वकप के कार्यक्रम की घोषणा की है.

    मुंबई में आईसीसी ने पुरुषो और महिलाओं के शेड्यूल और ग्रुप की घोषणा की, और आईसीसी ने इस टूर्नामेंट की रकम में भी बढोतरी की है.

    जब 2007 में भारत ने टी ट्वेंटी विश्वकप जीता था, तब भारत को 2,50000 $ मिली थी. लेकिन इस बार आईसीसी ने पिछले बार के मुकाबले पुरूषों की रकम में 86 प्रतिशत बढोतरी हुई है, तो महिलाओं में 122 प्रतिशत रकम  बढोतरी की गयी है. 2016 के विश्वकप में पुरूषों को 5.6 मिलियन $ रकम  मिलेगी, तो महिलाओं को 400,000$ रकम मिलेगी.

    2007 में शुरू हुआ ये टुर्नामेंट को उसके बाद से काफी सफलता मिली है, और पुरूषों से लेकर महिलाओं से लेकर बच्चे भी इस टुर्नामेंट से काफी अच्छे से जुडे है. ये टुर्नामेंट में अब काफी पैसा है, और कई बडी कंपनियां भी इससे जुडी है.

     

    2003 में इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड के मैनेजिंग डायरेक्टर स्टुअर्ट रॉबर्टसन ने एक सर्वे करने के लिए 25,000 यूरो का खर्चा किया. और इससे ये पता लगा की अब सिर्फ पुराने लोग क्रिकेट देख रहे है. फिर उन्होंने इंग्लिश बोर्ड से बात करके 2003 में पहले टी ट्वेंटी का आयोजन किया. लेकिन पहला अंतरराष्ट्रीय टी ट्वेंटी मैच 2005 में अॉस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच हुआ, जो मैच अॉस्ट्रेलिया ने जीता था.

    लेकिन जब टी ट्वेंटी क्रिकेट पर मीटिंग हुई थी, तब शरद पवार ने कहा था की, ये क्रिकेट के लिए अच्छा नहीं है.

    और उसी मिटिंग में बीसीसीआई के उस समय के सचिव निरंजन शहा ने कहा था की, क्यों ना अब 10-10 का मैच या 1-1 ओवर का मैच किया जाए.

    और जब 2007 में पहला टी ट्वेंटी विश्वकप हुआ था, तब भारत और पाकिस्तान ने इसे खेलने से मना कर दिया था. लेकिन भारत खेला और उसके बाद सबकुछ बदल गया. और फिर 2011 के वनडे विश्वकप भारत ने होस्ट भी किया.

    बीसीसीआई ने तब ये कहा था की, अगर 2011 की मेजबानी भारत को नहीं मिली तो हम टी ट्वेंटी विश्वकप नहीं खेलेंगे. और इसी वजह से तभी भारत को वो मेजबानी मिल गयी, और भारत ने 2007 टी ट्वेंटी विश्वकप में हिस्सा लेने का फैसला किया.

    और उसके बाद से सबकुछ बदल गया, और अब ये टूर्नामेंट काफी प्रसिद्ध हो गया है. हर व्यक्ति टी ट्वेंटी मैच देखना चाहता है, और इसमे पैसा, दर्शक, और काफी कुछ है.

    sw
    Click to comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Top