ICC

दो स्तरीय टेस्‍ट क्रिकेट प्रणाली को बुधवार के दिन हुई (CEC) मुख्य कार्यकारी अधिकारियों की समिति की बैठक में ICC ने वापस ले लिया। दुबई में हो रही इस बैठक में दल के सभी सदस्‍यों में से केवल 6 दलों ने इसके पक्ष में अपनी सहमती जताई। बैठक में किसी तरह की कोई वोटिंग व्‍यवस्‍था नहीं थी लेकिन कुछ ऐसी परिस्‍थितियां बनी कि यह प्रस्‍ताव ठंडे बस्‍ते में चला गया।

मीटिंग का हिस्‍सा बने ESPN क्रिकइंफो के एक अधिकारी ने बताया कि एक महत्वपूर्ण समझौता किया गया जिसके बाद इस दो स्तरीय टेस्‍ट क्रिकेट प्रणाली को आईसीसी ने वापस ले लिया। उन्होंने बताया कि मीटिंग के दौरान बीसीसीआई,  श्रीलंका, बीसीबी और जिम्बाब्वे ने इस क्रिकेट प्रस्ताव का विरोध किया। वहीं ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड, पाकिस्तान और वेस्टइंडीज के बोर्ड ने प्रस्‍ताव पर अपनी सहमती जताई।

यह भी पढ़े : न्यूज़ीलैण्ड ने भारत दौरे के लिए टीम का किया ऐलान, इस कीवी खिलाड़ी की हुई टीम में वापसी

बीसीबी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी निजामुद्दीन चौधरी ने ईएसपीएन (क्रिकइन्फो) के अधिकारी से कहा कि मुझे खुशी है कि प्रस्‍ताव का विरोध करने वाले सभी सदस्‍यों को हम समझा सके। साथ ही उन्‍होंने आईसीसी को भी कार्यशाला के आयोजन पर धन्यवाद ज्ञापित किया। उसके बाद उन्‍होंने कहा कि अब आगे हम भविष्‍य के लिए जल्‍द ही कोई दूसरी प्रणाली लायेंगे फिलहाल इस दो स्‍तरीय टेस्‍ट प्रणाली पर कोई बात नहीं बनी है।

सोमवार को एफआईसीए ने बताया कि पूरे विश्‍व के 72 फीसद खिलाड़ियों ने डिविजनल टेस्‍ट प्रणाली पर सहमति जताई है और कहा है कि इससे मैच के और बेहतर परिणाम सामने आयेंगे। इसलिए एफआईसीए के कार्यकारी चेयरमैन टोनी आईरिस ने आईसीसी से दरख्‍वास्‍त की किसी बेहतर प्रणाली को लायें जो इस दो स्तरीय टेस्‍ट प्रणाली से उचित हो।

यह भी पढ़े : बीसीसीआई ने दी धमकी, चैंपियंस ट्राफी से नाम वापस लेंगे

प्रस्तावित की गयी दो स्तरीय टेस्‍ट प्रणाली के अनुसार शीर्ष स्तर में सात टीमें और नीचे में पांच टीमें प्रदर्शन और निर्वासन के आधार पर शामिल होंगी। शुरूआत की अग्रणी एसोसिएट टीम अफगानिस्तान और आयरलैंड सबसे निचले स्‍तर की टेस्‍ट क्रिकेट टीम के साथ खेलेंगी। जबकी अन्य सहयोगी टीमों को प्रदर्शन के आधार पर पदोन्नति का मौका दिया जाएगा।

आप को बता दें कि सीईसी की यह दो दिवसीय बैठक आईसीसी की सालाना आयोजित होने वाली त्रैमासिक बैठक का हिस्सा नहीं थी। बल्‍कि यह मीटिंग खेल के सभी तीन प्रारूपों की खेल प्रणाली पर चर्चा करने के लिए आयोजित की गयी थी। मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने कहा कि मीटिंग के दौरान टेस्ट और एकदिवसीय क्रिकेट में सुधार लाने के लिए चर्चा हुई और टी20 क्रिकेट के खतरे और उसके  वैकल्पिक तरीकों और मॅाडल को लाने पर चर्चा हुई।

  • SHARE

    Related Articles

    भारतीय टीम को मिला एक और तेज गेंदबाज घरेलू टूर्नामेंट में इसके सामने बल्लेबाजी...

    भारत ने तीसरे टेस्ट मैच से पहले दो और गेंदबाजों को नेट गेंदबाज के रूप में बुलाया है.टीम मैनजमेंट ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ...
    Delhi Test: Dhawan celebrates with half centuries, India leads by 355 runs

    शिखर धवन ने साउथ अफ्रीका से मिली सीरीज हार के बाद आज कहा कुछ...

    भारत और साउथ अफ्रीका के बीच खेली जा रही टेस्ट सीरीज में अफ्रीका ने 2-0 की अजेय बढ़त ली है.ऐसे में जहाँ साउथ अफ्रीका...

    IPL 2018: जोंटी रोड्स को हटा इस दिग्गज को बनाया मुंबई इंडियंस ने अपना...

    आईपीएल 11 को लेकर सभी टीमों ने अपनी तैयारी करना शुरू कर दिया है. जहाँ टीमें अब खिलाडियों के साथ-साथ सपोर्टिंग स्टाफ का भी...

    विराट कोहली के सबसे करीबी दोस्त हरभजन सिंह ने विराट की अफ्रीका में मिली...

    साउथ अफ्रीका से मिली हार पर अब हरभजन सिंह की प्रतिक्रिया सामने आई है। हरभजन सिंह ने भी कहा कि ये भारतीय टीम की...

    साउथ अफ्रीका के तेज गेंदबाज कगिसो रबाडा ने दिया तीसरे टेस्ट से पहले कोहली...

    साउथ अफ्रीका के तेज गेंदबाज कगिसो रबाडा ने 24 जनवरी से होने वाले तीसरे टेस्ट मैच से पहले एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की है. जिसमे...