ICC

दो स्तरीय टेस्‍ट क्रिकेट प्रणाली को बुधवार के दिन हुई (CEC) मुख्य कार्यकारी अधिकारियों की समिति की बैठक में ICC ने वापस ले लिया। दुबई में हो रही इस बैठक में दल के सभी सदस्‍यों में से केवल 6 दलों ने इसके पक्ष में अपनी सहमती जताई। बैठक में किसी तरह की कोई वोटिंग व्‍यवस्‍था नहीं थी लेकिन कुछ ऐसी परिस्‍थितियां बनी कि यह प्रस्‍ताव ठंडे बस्‍ते में चला गया।

मीटिंग का हिस्‍सा बने ESPN क्रिकइंफो के एक अधिकारी ने बताया कि एक महत्वपूर्ण समझौता किया गया जिसके बाद इस दो स्तरीय टेस्‍ट क्रिकेट प्रणाली को आईसीसी ने वापस ले लिया। उन्होंने बताया कि मीटिंग के दौरान बीसीसीआई,  श्रीलंका, बीसीबी और जिम्बाब्वे ने इस क्रिकेट प्रस्ताव का विरोध किया। वहीं ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड, पाकिस्तान और वेस्टइंडीज के बोर्ड ने प्रस्‍ताव पर अपनी सहमती जताई।

यह भी पढ़े : न्यूज़ीलैण्ड ने भारत दौरे के लिए टीम का किया ऐलान, इस कीवी खिलाड़ी की हुई टीम में वापसी

बीसीबी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी निजामुद्दीन चौधरी ने ईएसपीएन (क्रिकइन्फो) के अधिकारी से कहा कि मुझे खुशी है कि प्रस्‍ताव का विरोध करने वाले सभी सदस्‍यों को हम समझा सके। साथ ही उन्‍होंने आईसीसी को भी कार्यशाला के आयोजन पर धन्यवाद ज्ञापित किया। उसके बाद उन्‍होंने कहा कि अब आगे हम भविष्‍य के लिए जल्‍द ही कोई दूसरी प्रणाली लायेंगे फिलहाल इस दो स्‍तरीय टेस्‍ट प्रणाली पर कोई बात नहीं बनी है।

सोमवार को एफआईसीए ने बताया कि पूरे विश्‍व के 72 फीसद खिलाड़ियों ने डिविजनल टेस्‍ट प्रणाली पर सहमति जताई है और कहा है कि इससे मैच के और बेहतर परिणाम सामने आयेंगे। इसलिए एफआईसीए के कार्यकारी चेयरमैन टोनी आईरिस ने आईसीसी से दरख्‍वास्‍त की किसी बेहतर प्रणाली को लायें जो इस दो स्तरीय टेस्‍ट प्रणाली से उचित हो।

यह भी पढ़े : बीसीसीआई ने दी धमकी, चैंपियंस ट्राफी से नाम वापस लेंगे

प्रस्तावित की गयी दो स्तरीय टेस्‍ट प्रणाली के अनुसार शीर्ष स्तर में सात टीमें और नीचे में पांच टीमें प्रदर्शन और निर्वासन के आधार पर शामिल होंगी। शुरूआत की अग्रणी एसोसिएट टीम अफगानिस्तान और आयरलैंड सबसे निचले स्‍तर की टेस्‍ट क्रिकेट टीम के साथ खेलेंगी। जबकी अन्य सहयोगी टीमों को प्रदर्शन के आधार पर पदोन्नति का मौका दिया जाएगा।

आप को बता दें कि सीईसी की यह दो दिवसीय बैठक आईसीसी की सालाना आयोजित होने वाली त्रैमासिक बैठक का हिस्सा नहीं थी। बल्‍कि यह मीटिंग खेल के सभी तीन प्रारूपों की खेल प्रणाली पर चर्चा करने के लिए आयोजित की गयी थी। मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने कहा कि मीटिंग के दौरान टेस्ट और एकदिवसीय क्रिकेट में सुधार लाने के लिए चर्चा हुई और टी20 क्रिकेट के खतरे और उसके  वैकल्पिक तरीकों और मॅाडल को लाने पर चर्चा हुई।

  • SHARE

    Related Articles

    STATS: ऐतिहासिक रिकॉर्ड के साथ कोहली के नाम दर्ज हुआ एक शर्मनाक रिकॉर्ड, न्यूजीलैंड...

    भारत और न्यूज़ीलैण्ड के बीच तीन मैचों की सीरीज का पहला मैच मुम्बई के वानखड़े में स्टेडियम में खेला गया. इस मैच में भारत...

    भारतीय टीम के सबसे बड़े प्रसंशक धर्मवीर पाल को लेकर बीसीसीआई ने लिया ये...

    भारत देश में वैसे तो हर आदमी ही क्रिकेट का एक बहुत बड़ा प्रसंशक होता है. मगर इन्ही प्रसंशको में कुछ प्रसंशक ऐसे होते है,...

    INDvNZ: किवी टीम के खिलाफ मिली शर्मनाक हार के बाद कप्तान कोहली का का...

    भारत और न्यूजीलैण्ड के बीच खेले जाने वाले तीन वनडे मैचों की सीरीज का पहला एकदिवसीय मैच आज,यानि 22 अक्टूबर को मुम्बई के वानखेड़े...

    किसने क्या कहा: भारत की हार पर सब कर रहे केदार जाधव की आलोचना,...

    भारत और आज न्यूज़ीलैण्ड के बीच पहला मैच मुंबई में खेला गया. भारत के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाज़ी करने...

    केन विलियम्सन ने पहला मैच जीतने के बाद किया कोहली के शतक पर कटाक्ष,...

    भारत और न्यूजीलैंड टीम के बीच चल रही तीन मैचों की वनडे सीरीज का पहला वनडे मैच आज रविवार को मुंबई के वानखेड़े क्रिकेट स्टेडियम...