दक्षिण अफ्रीका ने 1992 में अपना पहला विश्व कप खेला था, हालंकि यह टीम दुनिया में कुछ सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली टामो में से एक है, पर यह विश्वकप के इतिहास में काफी बदकिस्मत रही है। 1999 विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका को विषम परिस्थितियों में जीत के लिए एक गेंद पर 17 रन बनाने कि  जरुरत थी, पर यह असमभव था और इन्हें हार का सामना करते हुए सेमि-फिनल से खली हाथ वापस लौटना पड़ा।

1999 विश्वकप में ऑस्ट्रेलिया के बिरुद्ध सेमी-फाइनल मैच को कोई भुला नहीं सकता, हालांकि यह मैच टाई रहा था पर पिछले मैच में दक्षिण अफ्रीका पर मिली जीत कि वजह से ऑस्ट्रेलिया को फाइनल में जाने का मौका मिल गया था। 2003 विश्व कप के पहले ही राउंड में दक्षिण अफ्रीका बिफल रही थी, साथ हीं 2007 में एक बार फिर सेमी-फाइनल और 2011 में क्वाटर फाइनल तक पहुच कर इन्हें खली हाथ निराश लौटना पड़ा था।

लगातार कई बार किनारे पर जा कर डूबने की वजह से दक्षिण अफ़्रीकी टीम को मजाकिया तौर पर चोकर (chokers) का नाम दे दिया गया। इस वर्ष एक बार फिर दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम विश्वकप के चहिते दावेदारों में शामिल है।

आइये हम एक बार इस टीम के विश्लेषण पर नज़र दलते हैं।

 

दक्षिण अफ्रीका के विश्व कप का इतिहास:

वर्ष

   अंक

1992

  सेमी फाइनल

1996

  क्वाटर फाइनल

1999

  सेमी फाइनल

2003

  पहला राउंड

2007

  सेमी फाइनल

2011

 क्वाटर फाइनल

 

आईसीसी विश्व कप 2015 के लिए दक्षिण अफ्रीका टीम:

कप्तान: एबी डिविलियर्स

कोच: रसेल डोमिंगो

बल्लेबाज़ :

  1.    हाशिम अमला
  2.    फाफ  डु प्लेसिस
  3.    एबी डिविलियर्स
  4.    डेविड मिलर
  5.    जेपी डुमिनी
  6.    रायिली रोस्सो

गेंदबाज़ :

  1.    डेल स्टेन
  2.    मोर्ने मोर्कल
  3.    वर्नोन फिलैंडर
  4.    वेन पार्नेल
  5.    केली अबोट
  6.    इमरान ताहिर
  7.     हारून फंगिसो

ऑलराउंडर :

  1.    फरहान बेहारडाइय

विकेट कीपर :

  1.     क्विंटन डे नॉक     

ताकत :

  1.      एकदिवसीय मैचों में विजेता टीम।
  2.      मजबूत बल्लेबाजी क्रम।
  3.      समान रूप से मजबूत गेंदबाजी।
  4.      बहुत अच्छी फील्डिंग।
  5.      हाशिम अमला और एबी डिविलियर्स, जैसे महान बल्लेबाज़ों की उपस्थिति।
  6.      युवा और अनुभव खिलाड़ियों का सही मिश्रण।

कमजोरी :  

  1.      स्पिनर का रन रोकने और विकेट गिराने में नकाम रहना।   
  2.      बड़ी टूर्नामेंट में लगातार बिफलता का इतिहास।
  3.      आलराउंडर की कमी।
  4.      मोर्ने मोर्कल और डेल स्टेन की विफलता की स्थिति में कोई विकल्प नहीं।

प्रभावी खिलाड़ी:

1. हाशिम अमला

हाशिम अमला से विश्व कप में एक मजबूत बल्लेबाजी की उम्मीद है।

सलामी बल्लेबाज़ हाशिम अमला, जो वनडे में आनंद के लिए भी रन मारते है, यह दक्षिण अफ्रीका के मुख्य खिलाड़ियों में से भी एक हैं। अमला दक्षिण अफ़्रीकी टेस्ट टीमके कप्तान होने के साथ साथ एक स्थिर बल्लेबाज़ भी है, हालहिं में इन्होने हर दुसरे मैच में अर्धशतक मारा है। 104 इनिंग खेल कर, 56 के ओसत पर इन्होने अबतक 5359 रन जोड़े है।       

2. एबी डिविलियर्स

एबी डिविलियर्स के पिछले प्रदर्शनो से फैली दहशत की वजह से भी दक्षिण अफ्रीका का विश्वकप में जीतने की संभावना बनती है। मौजूदा स्थिति में किसी भी माहोल का जमकर सामना करने की क्षमता वाले यह एक मजबूत बल्लेबाज़ है।विश्व कप के इतिहास में सर्वाधिक रन बनाने वालों की सूची में छठे स्थान पर और 52 शिकार के साथ सबसे सफल विकेटकीपर भी हैं। 

डिविलियर्स तीसरी बार विश्व कप में हिस्सा लेंगे। वह 175 वनडे में 7210 रन बना चुके हैं जिसमें 18 शतक और 42 अर्धशतक शामिल हैं। उन्होंने 56 वनडे में टीम की अगुआई की जिसमें से उसने 31 मैच जीते। उन्होंने विकेटकीपर के तौर पर 88 शिकार भी किए।

3. इमरान ताहिर

दक्षिण अफ्रीका टीम के मुख्य स्पिनरों में से एक हैं इमरान ताहिर, वनडे में इन्होने 29 इनिंग खेल कर 55 विकेट लिए हैं. अगामी विश्वकप में इनकी भूमिका अहम होगी। इनमे गेंदबाज़ी के हुनर के साथ साथ अच्छी बल्लेबाजी करने की भी क्षमता है। इनका 20 बॉल में एक विकेट लेने का ओसल है, और प्रति ओवर रन देने का इकॉनमी रेट है 4.39

4. डेल स्टेन   

डेल स्टेन की गेंदबाज़ी का कहर सर चढ़ कर बोलता है, दक्षिण अफ्रीका के पास बल्लेबाजएबी डिविलियर्स के साथ डेल स्तेन एक मजबूत और प्रतिभाशाली गेंदबाज़ भी हैं। इनकी गेंदबाज़ी की रफ़्तार 140 kmph है। इनकी स्विंग बॉल गेंदबाज़ को चकरा देती है।वर्नोन फिलैंडर और मोर्ने मोर्कल के साथ स्टेन, विपक्ष के खिलाफ घातक हो सकता है।

दक्षिण अफ्रीका के संभवित 11 खिलाड़ी:

हाशिम अमला, क्विंटन डे नॉक, फाफ डी प्लेसिस, एबी डिविलियर्स, डेविड मिलर, जेपी डुमिनी, फरहान बेहारडाइ, वर्नोन फिलैंडर, डेल स्टेन, मोर्ने मोर्कल और इमरान ताहिर।

2015 आईसीसी विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका का शिड्यूल :

मैच सं.

 दिनांक

 खिलाफ

 स्थान

 समय

1

15-2-2015

 ज़िम्बाब्वे

 हैमिलटन

 0630 IST

2

22-2-2015

 भारत

 मेलबोर्न

 0850 IST

3

27-2-2015

 वेस्ट इंडीज़

 सिडनी

 0850 IST

4

3-3-2015

 आयरलैंड

 कैनबरा

 0850 IST

5

7-3-2015

 पाकिस्तान

 ऑकलैंड

 0630 IST

6

12-3-2015

 यूएइ

 वेलिंगटन

 0630 IST

क्वाटर फाइनल 18 मार्च से सुरु होगा

सेमी फाइनल 24 मार्च और 26 मार्च

फाइनल 29 मार्च, मेलबोर्न में

  • SHARE

    sportzwiki हिंदी सभी प्रकार के स्पोर्ट्स की सभी खबरे सबसे पहले पाठकों तक पहुँचाने के लिए प्रतिबद्ध है. हमारी कोशिस यही रहती है, कि हम लोगो को सभी प्रकार की खबरे सबसे पहले प्रदान करे.

    Related Articles

    सावधान: NXT की इस खुबसुरत डीवा की तस्वीरे देखने के पहले बंद कर लीजिये...

    WWE के किसी भी ब्रांड के रोस्टर में आने से पहले रेस्लरो को NXT में अच्छा परफॉर्म करना पड़ता है, इसी के बाद उन्हें...

    डिकवेला ने बताया मैदान पर शमी और कोहली के साथ किस बात पर हुई...

    भारत और श्रीलंका के बीच पहला टेस्ट मैच कोलकत्ता में खेला गया था. ये मैच ड्रा रहा था. लेकिन इस मैच के आखिरी दिन...

    वीडियो : मधुमक्खीयो ने किया पाकिस्तान में घरेलू मैदान के दौरान हमला, खिलाड़ी और...

    वर्ष 2009 में पाकिस्तान के लाहौर स्थित गद्दाफी स्टेडियम के बाहर श्रीलंकाई क्रिकेट टीम पर आतंकवादियों ने राइफल और ग्रेनेड से हमला कर दिया...

    शादी से ठीक पहले भुवनेश्वर कुमार ने बताया उस दिन की घटना जब उनकी...

    भारतीय टीम के स्टार गेंदबाज खिलाड़ी भुवनेश्वर कुमार शादी के बंधन में बंधने जा रहे हैं. इस कारण वह श्रीलंका के साथ होने वाला...

    एशेज सीरीज 2017- कल से शुरू हो रहे पहले टेस्ट मैच के लिए इंग्लैंड...

    कुछ ही घंटो में विश्व क्रिकेट की सबसे बड़ी द्विपक्षीय सीरीज का आगाज होने जा रहा है। इस द्विपक्षीय सीरीज का नाम है एशेज...