इमरान खान: एलेन बार्डर आप मुझे भारत से सिर्फ 2 खिलाड़ी सुनील गवास्कर और बीएस चन्द्रशेखर को दे दो, हम ऑस्ट्रेलिया को आसानी से हरा देंगे – Sportzwiki
क्रिकेट

इमरान खान: एलेन बार्डर आप मुझे भारत से सिर्फ 2 खिलाड़ी सुनील गवास्कर और बीएस चन्द्रशेखर को दे दो, हम ऑस्ट्रेलिया को आसानी से हरा देंगे

  • क्रिकेट को जेंटलमैन गेम कहा जाता है, और पिछले कुछ साल पहले ऐसा कहना भी सही था, पुराने क्रिकेटरों ने इसे सिद्ध किया है, लेकिन वर्तमान समय में ऐसा कहना गलत होगा, क्यूंकि इस समय इसे स्लेजिंग और आपसी झगड़े ने खत्म कर के सिर्फ प्रतिद्वंदिता का खेल बना कर छोड़ दिया है. इस समय एक भी ऐसा क्रिकेटर ढूढ़ पाना मुश्किल होगा, जो अच्छी तरह से विरोधी टीम के सामने पेश आ सके, अपने भारतीय कप्तान धोनी इस मामले में अपवाद है.

    लेकिन आज हम यहाँ पूर्व की एक ऐसी घटना सामने ला रहे है, जिसमे पाकिस्तान के दिग्गज खिलाड़ियों में से एक जावेद मियादाद और ऑस्ट्रेलिया के डेनिस लिली के बिच की एक घटना है, जो सिद्ध करती है, कि कुछ समय पूर्व ही क्रिकेट जेंटलमैन गेम से बदल कर प्रतिद्वंदिता का खेल बन कर रह गया है.

    जावेद मियादाद और लिली के बिच की इस घटना ने तो उस समय काफी बवाल खड़ा कर दिया था, मियादाद ने उस समय अम्पायर से शिकायत किया था, कि जब वो रन लेने के लिए दौड़ रहे थे, तो लिली उनके बिच आकर उनका रास्ता रोकने की कोशिश कर उन्हें आउट करना चाहते थे.

    ऐसी ही एक घटना 1980 में भी घटित हुयी, ये वो समय था, जब क्रिकेट में दिग्गज खिलाड़ियों का बोलबाला था, इस समय इमरान खान, एलेन बार्डर, सुनील गवास्कर, विवियन रिचर्ड्स जैसे दिग्गज खिलाड़ियों का बोलबाला था.

     

    ये उसी समय की बात है, पाकिस्तान के कप्तान इमरान खान उस समय के ऑस्ट्रेलियाई कप्तान एलेन बार्डर से सिडनी में एक फार्मल मीटिंग के दौरान मिले, इमरान ने बार्डर से कहा: “एबी आप मुझे भारत से सिर्फ 2 खिलाड़ी सुनील गवास्कर और बीएस चन्द्रशेखर को दे दो, हम ऑस्ट्रेलिया को आसानी से हरा सकते है.” इस पर एलेन बार्डर ने इमरान खान को ऐसा जबाब दिया, जिससे पाकिस्तान समेत ऑस्ट्रेलिया में खलबली मच गयी. बार्डर ने कहा: “इमरान हमे पाकिस्तान से सिर्फ 2 अम्पायर दे दो हम पूरी दुनिया को हरा देंगे.”

    ये बात इमरान को नागावर गुजरी, और उन्होंने इसकी शिकायत पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड से किया, जिसके बाद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट बोर्ड से बॉर्डर के इस बयान की शिकायत कर, उन्हें हिदायत देने की बात कही.

    क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने बार्डर के इस बयान को अभद्र पाया, और बार्डर से कहा, कि वो इस तरह का बयान देने की वजह से इमरान खान और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड से इसे लेकर माफ़ी मांगे.

    यह अब तक का किसी दो देशो के कप्तान के बिच हुआ अब तक का सबसे खराब इनफ़ॉर्मल मीटिंग था, लेकिन इसमें कोई शक नहीं है, कि ये दोनों अब तक सबसे सफल कप्तान रहे है, बार्डर ने 1987 का विश्वकप अपने नाम किया, तो पाकिस्तान ने 1992 में इमरान खान की कप्तानी में अपना अब तक का एक मात्र विश्वकप जीता है, उसके बाद से अब तक दोबारा पाकिस्तान कभी विश्वकप नहीं जीत पाया.

    लेकिन इन दोनों कप्तानो के बिच हुई यह घटना इतिहास में दर्ज हो गयी, यह अब तक की किन्ही 2 दिग्गज कप्तानो के बिच हुई सबसे शर्मनाक घटना है.

    sw
    Click to comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Most Popular

    Top