आज का पहला वनडे मैच भारत और साउथ अफ्रीका के बिच कानपुर के ग्रीनपार्क में खेला गया, साउथ अफ्रीका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया, साउथ अफ्रीकन पारी की शुरुआत डी-कॉक और अमला ने किया लेकिन शुरुआत उतनी खास नहीं रही, और अश्विन ने अपने पहले ही ओवर में डी-कॉक को 29 के निजी स्कोर पर रैना के हाथो कैच करा कर साउथ अफ्रीका को पहला झटका दिया.

डी-कॉक के आउट होने के बाद ड्यूप्लेसिस बल्लेबाजी के लिए आये, उसके बाद इन दोनों के बिच दुसरे विकेट के लिए 59 रनों की साझेदारी हुई, इस साझेदारी का अंत मिश्रा ने अमला को बोल्ड करके किया, अमला के आउट होने के बाद डिविलियर्स बल्लेबाजी के लिए आये, ड्यूप्लेसिस और डिविलियर्स ने धीरे-धीरे साउथ अफ्रीकन स्कोर बढ़ाने की कोशिस की इस बिच डिविलियर्स को एक जीवनदान भी मिला और इसका पूरा फायदा उठाते हुए उन्होंने ने 62 रनों की शानदार पारी खेली, इस पारी का अंत उमेश यादव ने डिविलियर्स को एलबीडब्ल्यू कर के किया.

डिविलियर्स के आउट होने के बाद मिलर और ड्यूमनी कुछ खास नहीं कर पाये और क्रमशः 13 और 15 रन बनाकर मिश्रा और यादव के शिकार बने. हालाँकि एक छोर से डिविलियर्स का तूफान जरी रहा, और इन दोनों के आउट होने के बाद डिविलियर्स को बेहारडीन का साथ मिला, और दोनों ने साउथ अफ्रीका का स्कोर निर्धारित 50 ओवर में 5 विकेट के नुकसान पर 303 तक पहुंचाया.

डिविलियर्स ने मात्र 73 गेंदों में 5 चौके और 6 छक्के की मदद से 104 रन बनाये. तो बेहारडीन ने भी मात्र 19 गेंदों में 5 चौके और 1 छक्के की मदद से 35 रन बनाये.

भारत की तरफ से मिश्रा और यादव ने 2-2 विकेट लिए, जबकि अश्विन को 1 विकेट मिला.

 

लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत भी कुछ ख़ास नहीं रही और भारतीय ओपनर बल्लेबाज शिखर धवन मात्र 23 रन बनाकर मोर्कल द्वारा एलबीडब्ल्यू आउट हुए, उसके बाद आये नये बल्लेबाज रहाने और रोहित शर्मा ने भारतीय टीम को सम्भाला और दुसरे विकेट के लिए दोनों के बिच 149 रनों की साझेदारी हुयी, इस साझेदारी का अंत बेहारडीन ने रहाने को मिलर का हाथो कैच करा कर किया. रहाने ने 82 गेंदों में 5 चौके की मदद से 60 रन बनाये. रहाने के आउट होने के बाद कोहली बल्लेबाजी के लिए आये लेकिन कुछ खास नहीं कर सके और सिर्फ 11 रन बनाकर स्टेन की गेंद पर मोर्कल को कैच थमा बैठे. उसके बाद कप्तान धोनी बल्लेबाजी के लिए आये और रोहित शर्मा के साथ खेलना शुरू किया, इस समय भारत को हर ओवर मे 10 रनों की आवश्यकता थी, ;लेकिन रोहित ने कुछ अच्छे शॉट लगाकर भारत को मैच में दोबारा से वापस लाकर खड़ा कर दिया.

लेकिन इसी बिच ताहिर ने अपने अंतिम ओवर में शर्मा को कैच आउट कर भारत को सबसे बड़ा झटका दिया, इसी ओवर में ताहिर ने रैना को भी चलता किया, उसके बाद बिन्नी बल्लेबाजी के लिए आये उस समय भारत को 19 गेंदों में 31 रनों की आवश्यकता थी, दोनों ने शानदार बल्लेबाजी की और अंतिम ओवर में भारत को 11 रनों की आवश्यकता थी. धोनी ने स्ट्राइक अपने पास सुरक्षित रखा और रबादा के पहले गेंद पर 2 रन लिए अगले गेंद पर धोनी ने 1 रन लिए तो तीसरी गेंद पर बिन्नी ने 1 रन लेकर स्ट्राइक धोनी को दिया, और धोनी छक्का लगाने के कोशिश में अपना विकेट रबाडा को थमा बैठे. उसके बाद भुवि को बल्लेबाजी के लिए भेजा गया लेकिन वो कुछ नहीं कर पाए और बिन्नी भी अपना विकेट गवां बैठे.

संछिप्त स्कोरकार्ड:

साउथ अफ्रीका: 303/5, 50 ओवर में (डिविलियर्स 104, ड्यूप्लेसिस 62)

भारत: 297/7, 50 ओवर में (रोहित 150, रहाने 60)

परिणाम: साउथ अफ्रीका 6 रनों से विजयी

  • SHARE

    Related Articles

    मैथ्यू हेडन ने चुनी अपनी इस दशक की ड्रीम टीम, पुजारा और अमला जैसे...

    आॅस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज मैथ्यू हेडन ने हाल ही में अपने ड्रीम्स प्लेइंग इलेवन टीम की घोषणा की है,जिसको लेकर स्टार...

    लक्ष्मण और आकाश चोपड़ा के बाद अब इस दिग्गज ने भी उठाए धोनी के...

    न्यूजीलैंड के खिलाफ हाल ही में खेली गई टी20 सीरीज के बाद महेंद्र सिंह धोनी की टी20 टीम में जगह को लेकर कई तरह...

    ब्रेकिंग न्यूज़ : सभी अटकलों को दूर कर 27 दिसम्बर को पंड्या करने जा...

    मुंबई इंडियंस ने आईपीएल-10 के संस्करण में अपना तीसरा आईपीएल खिताब जीता, तो उसमे जिस खिलाड़ी ने सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी, तो वो...

    चौथे दिन का खेल समाप्त होने के बाद भुवनेश्वर ने शमी का लिया ये...

    कोलकता के ईडन गार्डन मैच के चौथे दिन अगर भारत एक स्तिथि में खड़ा है, तो इसका मुख्य कारण भारतीय टीम के दो तेज...

    साउथ अफ्रीका के खिलाफ दौरे पर इस दिग्गज की वापसी का रास्ता हुआ बंद,...

    भारतीय टीम से बहर चल रहे सुरेश रैना केवल यो-यो टेस्ट में ही फेल नही हो रहे बल्कि वह बल्ले से रन बनाने में...