आईपीएल 8: चेन्नई बनाम मुम्बई, मैच रिपोर्ट - Sportzwiki
क्रिकेट

आईपीएल 8: चेन्नई बनाम मुम्बई, मैच रिपोर्ट

  • आज का मैच चेन्नई और मुम्बई के बिच मुम्बई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला गया, टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने उतरी मुम्बई इंडियंस ने कप्तान रोहित शर्मा और आलराउंडर किरेन पोलार्ड के शानदार शतक की बदौलत 20 ओवर में 7 विकेट खोकर 183 रन बनाने में सफल रही लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई ने मात्र 16.4 ओवर में 4 विकेट खोकर आसानी से हासिल कर लिया.

    मुम्बई की पारी की शुरुआत सिमोंस और पार्थिव पटेल ने किया, लेकिन मुम्बई की शुरुआत काफी खराब रही, पटेल 0 के निजी स्कोर पर एलबीडब्ल्यू होकर चलते बने, उसके बाद आये नये बल्लेबाज कोरी एंडरसन भी कुछ खास न कर सके और 4 रनों के निजी स्कोर पर नेहरा की ही गेंद पर डूप्लेसिस को कैच थमा बैठे, उसके बाद खुद कप्तान रोहित ने मुम्बई की कमान सम्भाली लेकिन अभी वो कुछ रन बना पाते की सिमोंस भी ईश्वर पाण्डेय की गेंद पर डूप्लेसिस को कैच थमा बैठे, इस तरह से मुम्बई ने मात्र 3.4 ओवर में सिर्फ 12 रनों पर अपने शुरुआती 3 विकेट गवां दी, उसके बाद रोहित ने हरभजन को बल्लेबाजी के लिये बुलाया, हरभजन और रोहित के बीच चौथे विकेट के लिये 29 गेंदों में 45 रनों की साझेदारी हुयी, लेकिन मोहित शर्मा ने हरभजन को जडेजा के हाथो कैच करा क्र पवेलियन की राह दिखाई, हरभजन ने अपनी इस पारी के दौरान 2 चौक्के और 1 छक्के लगाये, उसके बाद पोलार्ड ने कप्तान के साथ मिलकर 33 गेंदों में 75 रनों की साझेदारी निभाई, दोनों ने तेजी से रन बनाना शुरू किया, लेकिन इस साझेदारी को नेहरा ने रोहित को आउट कर के तोड़ दिया, रोहित ने अपनी पारी के दौरान मात्र 31 गेंदों में 5 चौक्के और 1 छक्के की मदद से 50 रन बनाये.

    रोहित के आउट होने के बाद भी मुम्बई का तेजी से रन बनाने का सिलसिला कम नहीं हुआ, आये हुये नये बल्लेबाज रायडू ने तेजी से रन बनाये, अंतिम ओवर की चौथी और 5 वीं गेंद पर आउट होने से पहले दोनों ने क्रमशः 30 और 16 गेंदों में 64 और 29 रन बनाये, रायडू ने अपने 29 रनों की पारी में 1 चौक्का और 3 छक्का लगाया तो पोलार्ड ने 64 रन बनाने में 4 चौक्को और 5 छक्को की मदद ली.

    चेन्नई की तरफ से आशीष नेहरा ने 4 ओवर में 23 रन देकर सबसे अधिक 3 विकेट लिये.

    लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई सुपर किंग्स की शुरुआत स्मिथ और मैकुलम ने किया, दोनों के बिच पहले विकेट के लिये सिर्फ 7.2 ओवर में 109 रनों की साझेदारी हुयी, इस साझेदारी का अंत हरभजन ने विनय कुमार के हाथो मैकुलम को कैच करा कर किया, मैकुलम ने सिर्फ 20 गेंदों में 6 चौक्के और 2 छक्के की मदद से 42 रन बनाये, तो स्मिथ भी आउट होने से पहले 30 गेंदों में 8 चौक्के और 4 छक्को की मदद से 62 रन बनाये, स्मिथ को भी हरभजन ने शर्मा के हाथो कैच कराया. उसके बाद आये नये बल्लेबाज सुरेश रैना और डूप्लेसिस ने चेन्नई की जिम्मेदारी सम्भाली, लेकिन डूप्लेसिस को मलिंगा ने 11 रन के निजी स्कोर पर बोल्ड कर दिया दोनों के बिच तीसरे विकेट के लिये 29 रनों की साझेदारी हुयी.

    डूप्लेसिस के आउट होने के बाद कप्तान धोनी बल्लेबाजी के लिये आये, धोनी जब बल्लेबाजी के लिये आये उस समय चेन्नई को सिर्फ 38 रनो की आवश्यकता थी, लेकिन धोनी ज्यादा देर मैदान पर न टिक सके और मात्र 3 रनों के निजी स्कोर पर पोलार्ड के शिकार बने, धोनी के जाने के बाद ब्रावो बल्लेबाजी के लिये आये, जब ब्रावो बल्लेबाजी के लिये आये उस समय चेन्नई को सिर्फ 18 रनों की आवश्यकता थी, जिसे ब्रावो और रैना ने आसानी से 3 ओवर शेष रहते पूरा कर लिया, रैना ने 29 गेंदों में  4 चौक्को और 2  छक्को की मदद से 43  रन बनाये तो ब्रावो ने भी 5 गेंदों में 1 चौक्के और 1 छक्को की मदद से 11 रन बना कर चेन्नई को जीत दिलायी.

    मुम्बई की तरफ से हरभजन ने 4 ओवर में 44 रन देकर 2 विकेट लिये.

     

    संछिप्त स्कोरकार्ड:

    मुम्बई: 183/7, 20 ओवर में (पोलार्ड 64, रोहित शर्मा 50, नेहरा 4-23-3)

    चेन्नई: 189/4, 16.4 ओवर में (स्मिथ 62, मैकुलम 46, हरभजन 4-44-2)

    परिणाम: चेन्नई 6 विकेट से विजयी.

    sw
    Click to comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Top