कोलकाता नाईट राइडर्स के खिलाडि़यों ने शेयर किए ड्रेसिंग रूम के सीक्रेट्स - Sportzwiki
एडिटर च्वाइस

कोलकाता नाईट राइडर्स के खिलाडि़यों ने शेयर किए ड्रेसिंग रूम के सीक्रेट्स

  • खेल डेस्‍क, आईपीएल- नौ में अच्‍छा प्रदर्शन कर रही कोलकाता नाईट राइडर्स टीम के खिलाड़ी सभी मैच को इंजॉय कर रहे हैं। वे मैदान से लेकर ड्रेसिंग रूम तक क्रिकेट का आनंद उठा रहे हैं। मालूम हो कि केकेआर अभी तक दस में से छह मैच में जीत हासिल कर चुकी है।

    हाल ही में एक वेबसाइट से बात करते हुए केकेआर के खिलाडि़यों ने कई ड्रेसिंग रूम के सिक्रेट बताए हैं। कोलिन मुनरो, क्रिस लाइन, शाकिब अल हसन और चावला ने अपने व्‍यस्‍त कार्यक्रम से समय निकालकर ये सीक्रेट्स शेयर किए हैं।
    आइए जानते हैं कुछ ड्रे‍सिंग रूम सीक्रेट्स :

    कौन करता है सबसे अधिक मजाक

    कोलिन मुर्नो : ड्रेसिंग रूम में ब्रैड हॉग हमेशा कुछ न कुछ नया करते रहते हैं।

    क्रिस लिन : : ड्रेसिंग रूम में ब्रैड हॉग काफी मस्‍ती के मूड में रहते हैं। वो हमेशा जोक सुनाते हैं, हालांकि यह भी सच है क‍ि उन जोक्स पर उनके अलावा कोई भी नहीं हंसता है। वो ऐसे शख्‍स हैं जो किसी मुद्दे को शुरु तो कर देते हैं लेकिन खत्‍म किसी दूसरे खिलाड़ी को करना पड़ता है।

    पीयूष चावला : आंद्रे, मोर्ने, सूर्या, मनीष और मैं हमेशा ही ड्रेसिंग रूम में मस्‍ती करते हैं। टीम के कप्‍तान गौतम गंभीर और सुनील नरेन थोड़े शांत स्‍वाभाव वाले हैं लेकिन वे भी मजाक करते रहते हैं।

    शाकिब : ब्रेड हॉग काफी मजाक करते हैं।

    केकेआर के लिए सबसे अच्‍छा अनुभव कब रहा

    लिन : दो साल पहले जब टीम ने आईपीएल टूर्नामेंट जीता था, वह बहुत ही शानदार लम्‍हा था। उसके दो दिन बाद इडेन गार्डेन मैदान में सम्‍मान समारोह हुआ था और लाखों लोग देखने आए थे। उस समय तकरीबन मैदान के भीतर एक लाख लोग थे और उतने ही मैदान के बाहर भी थे। यह अभी तक का सबसे बढि़या अनुभव रहा।

    यहां पर क्रिकेट के प्रशंसक बहुत बड़ी संख्‍या में हैं। मैनें अपनी गर्लफ्रेंड क्रिस्‍टल को भी बता दिया था कि जिससे वह इन सबकी आदी हो जाए। जब भी हम लोग किसी दुकान या होटल के बाहर होते हैं, कई प्रशंसक आकर घेर लेते हैं और ऑटोग्राफ की डिमांड करने लगते हैं। वाकई यहां क्रिकेट बहुत ज्‍यादा लोकप्रिय है।

    शाकिब अल हसन – मेरे लिए अब तक का सबसे बढिया अनुभव साल 2012 में ट्रॉफी जीतना था। उस समय हम सभी खुली छत वाली बस में कोलकाता की सड़कों पर घूमे थे। ऐसा लग रहा था जैसे मानो हम लोगों के साथ पूरा कोलकाता भी जश्‍न मना रहा है।

    पीयूष चावला : क्रिकेट के मैदान के बाहर हमेशा ही पल शानदार होते हैं। किसी एक पल को सबसे यादगार बताना सही नहीं होगा। सभी पल अच्‍छे होते हैं।

    कौन सा ड्रेसिंग रूम ज्‍यादा साफ रहता है? नेशनल टीम का या केकेआर का

    मुर्नो : इसके कोई दो राय नहीं है कि केकेआर का ड्रेसिंग रूम ज्‍यादा बेहतर और साफ सुथरा होता है। सभी क्रिकेट खिलाड़ी काफी मस्‍ती और आनंद करते हैं।

    लिन : मैं भी मुर्नो की बातों से सहमत हूं। केकेआर का ड्रेसिंग रूम कहीं बेहतर है। ऑस्‍ट्रेलियाई ड्रेसिंग रूम काफी गंदा रहता है और इसका कारण खिलाड़ी ही हैं। केकेआर के खिलाड़ी रॉबिन उथ्‍थपा अपनी किट को बहुत अच्‍छे तरह से रखते हैं , जबकि मैं इधर उधर फेंक देता हूं। केकेआर का ड्रेसिंग रूम साफ सुथरा है।

    शाकिब – मेरे ख्‍याल से दोनों ड्रेसिंग रूम एक जैसे ही हैं। दोनों में कुछ खिलाड़ी ऐसे हैं जो गंदगी करते हैं और कुछ ऐसे हैं जिन्‍हें साफ सफाई पसंद है

    sw

    Most Popular

    Top