क्रिकेट डेस्क। रोहित शर्मा (नाबाद 68 रन) और किरोन पोलार्ड (नाबाद 51 रन) की आतिशि पारियों की बदौलत मुंबई इंडियंस ने आईपीएल-9 के 24वें मैच में गुरुवार को कोलकाता नाइटराइडर्स (केकेआर) को छह विकेट से हरा दिया। मुंबई की आठ मैचों में यह चौथी जीत है जबकि केकेआर की छह मैचों में दूसरी हार।

मध्यक्रम का न चलना
रॉबिन उथप्पा (36) और गंभीर ने ठोस शुरुआत दिलाई। दोनों ने 69 रन की साझेदारी की लेकिन कोलकाता सही मायनों में इसका फायदा नहीं उठा सकी। उथप्‍पा के आउट होने के बाद शाकिब, यादव और रसेल ने अपना विकेट जल्दी गवां दिया। इस कारण से कोलकाता एक बड़ा स्कोर बनाने से रह। 20-25 रन का कम बनना ही इस मैच का प्रमुख कारण बन गया और कोलकाता मैच गवां बैठी।

गेंदबाज रन रोकने में नाकाम
कोलकाता के गेंदबाजों को विकेट तो मिलते रहे लेकिन वो इसका दबाव नहीं बना सके। 8 रन पर पटेल का विकेट गिर गया लेकिन वो इसका फायदा नहीं उठा सके। रोहित और रायडु ने खुलकर शॉट खेले। इसके साथ ही कुछ गेंदबाज ऐसे थे जिन्होंने हद से ज्यादा रन देकर इस मैच का रुख मुंबई की ओर मोड़ दिया। उनाडकट ने 3 ओवर में 16.33 की औसत से 49 रन लुटाए तो आर सतीश ने 2 ओवर में 30 रन दे डाले।

पोलार्ड को नहीं समझ सके
पोलार्ड ने 17 गेंद में 51 रन की पारी खेल डाली कोई भी गेंदबाज उन्‍हें रोकने में कामयाब नहीं हो रहा था। चार विकेट हासिल करने के बाद एक बार लग रहा था कि हो सकता है कोलकाता इस मैच को अपने नाम कर ले लेकिन ऐसा नहीं हुआ और गेंदबाज जबतक ये समझते कि पोलार्ड को कहां गेंद की जाए वो अपना काम कर चुके थे।

टॉस हारना पड़ गया भारी
मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर केकेआर को बल्लेबाजी का न्योता दिया। केकेआर ने निर्धारित 20 ओवर में 5 विकेट खोकर 174 रन बनाए लेकिन मुंबई के लिए यह काफी साबित नहीं हुए। टॉस जीतने का जो सबसे बड़ा फायदा होता है कि आपको पता होता है कि आपको इतनी गेंदों में कितना लक्ष्य हासिल करना है। वहीं हुआ मुंबई ने औसत को बनाए रखा और बाद में पोलार्ड की घातक बल्लेबाजी ने इसे अंजाम तक पहुंचा दिया।

गंभीर के गलत निर्णय पड़े भारी
बतौर कप्तान गंभीर आईपीएल में काफी सफल है लेकिन आज उनका दिन नहीं था। उन्होंने रनगति को रोकने के चक्कर में अपने ऐसे गेंदबाज से सारे ओवर करा दिए जो मुसीबत में काम आ सकते थे। अंत में वही हुआ पोलार्ड ने जब खेलना चालू किया तो कोलकाता के पास गेंदबाज के रूप में ऐसा कोई विकल्प नहीं बचा था जो उन्हें रोक सके।

  • SHARE
    A cricket enthusiast who has the passion to write for the sport. An ardent fan of the Indian Cricket Team. Strongly believe in following your passion and living in the present.

    Related Articles

    ये है वो कारण जिसकी वजह से विराट कोहली ने सुरेश रैना से साउथ...

    भारत और साउथ अफ्रीका के बीच जोहनसबर्ग में खेले गये पहले टी20 मैच में उस समय सभी हैरान रह गये जब भारतीय टीम के...

    STATS: साउथ अफ्रीका के खिलाफ पहले टी-20 मैच में ही हुई रिकॉर्ड की बारिश,...

    भारत और साउथ अफ्रीका के बीच आज टी-20 सीरीज का पहला मैच खेला गया. जहाँ आज एक बार फिर से साउथ अफ्रीका को हार...

    जाने भुवनेश्वर कुमार द्वारा फेंकी जाने वाली नकल बॉल क्या होती है और सबसे...

    भारतीय टीम को अपनी शानदार गेंदबाजी चलते भुवनेश्वर कुमार ने जीत दिला दी है. भुवनेश्वर कुमार ने पहले टी20 मैच में आज रविवार को...

    भारतीय टीम में विराट कोहली की भरपाई करने को तैयार है यह 18 वर्षीय...

    भारतीय जूनियर क्रिकेट टीम में आजकर अगर किसी की सबसे ज्यादा चर्चा होती है तो वो हैं शुभमन गिल। पंजाब के शुभमन गिल ने...

    साउथ अफ्रीकन कप्तान जेपी डुमिनी ने सीधे तौर पर इन खिलाड़ियों को ठहराया पहले...

    भारत और साउथ अफ्रीका के बीच चल रही तीन मैचों की वनडे सीरीज का पहला टी20 मैच आज रविवार को जोहनसबर्ग के वांडर्स स्टेडियम...