नई दिल्ली, 2 जुलाई (आईएएनएस)| भारतीय क्रिकेट टीम के वरिष्ठ ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह का मानना है कि टेस्ट टीम के कप्तान विराट कोहली की आक्रामकता टीम को नई ऊंचाइयों तक ले जाएगी। हरभजन ने एक टीवी कार्यक्रम में कहा, “विराट जिस तरह से अपने आपको संभालते हैं, वह देखकर काफी अच्छा लगता है। मुझे लगता है कि यह भारतीय क्रिकेट को आगे ले जाने का बेहतरीन तरीका है। सही शारीरिक भाषा, भारत के लिए लड़ना और सही परिणाम निकालने के लिए हमें ऐसी भावना की जरूरत है और विराट के पास वो है।”

उन्होंने कहा, “यह उनकी शैली है या उन्होंने मुझसे सीखा है मैं नहीं जानता। मेरे लिए यह भारतीय क्रिकेट को आगे ले जाने का सही संदेश है।”

अपने पूर्व साथी अनिल कुंबले को टीम का मुख्य कोच बनाए जाने पर इस दिग्गज ऑफ स्पिनर ने कहा, ” मैं अनिल भाई की बहुत इज्जत करता हूं। मैं उनके साथ कई सालों तक खेला हूं। मैंने उनसे एक बात सीखी है वो यह की कभी हार नहीं मानो। वह गंभीर सोच वाले क्रिकेट खिलाड़ी थे। वह मेरे शैतानी वाले व्यवहार को जानते थे। मुझे नहीं लगता कि उन्हें मेरे इस व्यवहार से कभी दिक्कत हुई होगी।”

हरभजन ने कहा, “मैं जानता हूं कि अनिल भाई को मेरे कारण बाहर बैठना पड़ा, क्योंकि उन दिनों मैं अच्छा खेल रहा था। मुझे खुद उन्हें बाहर बैठे देख बुरा लगता था, क्योंकि मैं सिर्फ उस समय 20 साल का था। मैं अच्छा कर रहा था और कप्तान ने मुझे चुना था।”

हरभजन ने कहा कि पाकिस्तान के खिलाफ जीत दर्ज करना विशेष पल था। उनका मानना है कि दोनों देशों के बीच होने वाले मैचों में जो हाइप होती है वह मीडिया द्वारा बनाई हुई होती है।

हरभजन ने कहा, “एक खिलाड़ी के तौर पर मुझे बड़ी टीमों को हराना पसंद है। उन दिनों पाकिस्तान शानदार टीम होती थी। उनके पास वसीम अकरम, वकार यूनुस, सकलैन मुश्ताक और शोएब अख्तर जैसे गेंदबाज थे। हमारे लिए वह विशेष पल होता था। मेरा मानना है कि मीडिया ने भारत-पाकिस्तान के मैच को लेकर हाइप बनाई है।”

2007-08 में हरभजन पर आस्ट्रेलिया के एंड्रयू साइमंड्स के खिलाफ नस्लीय टिप्पणी करने का आरोप लगा था। यह घटना मंकीगेट के नाम से मशहूर हो गई थी।

इस पर हरभजन ने कहा, “मैंने मंकी नहीं कहा था। यह उनका आरोप था। मैंने उससे कहा था कि तेरी मां के हाथ की रोटी खाने का बड़ा मन कर रहा है। उसने मेरी बात नहीं सुनी, क्योंकि वह हिंदी नहीं जानता और मुझे इंग्लिश नहीं आती।”

एस. श्रीसंत को थप्पड़ मारने के विवाद पर हरभजन ने कहा, “असल में उसने नौटंकी की थी। यह मेरी गलती थी कि मैंने उसे मैदान पर चांटा मारा। मैं अपने सभी इंटरव्यू में यह माना है कि मैंने गलती की थी।”

  • SHARE

    आईएएनएस एक न्यूज़ मिडिया कम्पनी है, जों दुसरे न्यूज़ मिडिया कों सभी प्रकार की खबरे प्रदान करती है. आईएएनएस खेल, राजनीती और बालीवुड के अलावा अन्य सभी प्रकार की खबरे अपने मिडिया पार्टनर कों प्रदान करता है.

    Related Articles

    मैथ्यू हेडन ने चुनी अपनी इस दशक की ड्रीम टीम, पुजारा और अमला जैसे...

    आॅस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज मैथ्यू हेडन ने हाल ही में अपने ड्रीम्स प्लेइंग इलेवन टीम की घोषणा की है,जिसको लेकर स्टार...

    लक्ष्मण और आकाश चोपड़ा के बाद अब इस दिग्गज ने भी उठाए धोनी के...

    न्यूजीलैंड के खिलाफ हाल ही में खेली गई टी20 सीरीज के बाद महेंद्र सिंह धोनी की टी20 टीम में जगह को लेकर कई तरह...

    ब्रेकिंग न्यूज़ : सभी अटकलों को दूर कर 27 दिसम्बर को पंड्या करने जा...

    मुंबई इंडियंस ने आईपीएल-10 के संस्करण में अपना तीसरा आईपीएल खिताब जीता, तो उसमे जिस खिलाड़ी ने सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी, तो वो...

    चौथे दिन का खेल समाप्त होने के बाद भुवनेश्वर ने शमी का लिया ये...

    कोलकता के ईडन गार्डन मैच के चौथे दिन अगर भारत एक स्तिथि में खड़ा है, तो इसका मुख्य कारण भारतीय टीम के दो तेज...

    साउथ अफ्रीका के खिलाफ दौरे पर इस दिग्गज की वापसी का रास्ता हुआ बंद,...

    भारतीय टीम से बहर चल रहे सुरेश रैना केवल यो-यो टेस्ट में ही फेल नही हो रहे बल्कि वह बल्ले से रन बनाने में...