भारतीय टीम एशिया कप में भाग लेने के लिए आज कोलकाता से ढाका के लिए उड़ान भरेगी. लेकिन उससे पहले भारतीय कप्तान धोनी ने एक प्रेस कांफ्रेंस में पत्रकारों से बात की. धोनी ने कहा,कि हमारी टीम बेहद संतुलित है. 

भारत ने अभी हाल में ऑस्ट्रेलिया और श्रीलंका को हराकर लगातार दो टी-20 सीरीज में जीत हासिल की है. धोनी ने कहा कि टी-20 विश्वकप से पहले हम अपनी लय को बरकरार रखना चाहते हैं.

एक पत्रकार ने जब धोनी से उनके सन्यास के बारे में सवाल किया, तो धोनी ने उसे अपने अंदाज में ही जवाब दिया और कहा कि इसके लिए आप एक खत लिख्रकर बताएं की आखिर मैं क्यों सन्यास लूं.

जवाब देते हुए धोनी के चेहरे पर इरीटेशन साफ़ नजर आ रहा था. उन्होंने इससे पहले ऐसे ही एक पत्रकार के सवाल पर एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा था कि सन्यास के बारे में जानने के लिए आपको एक पीआईएल डालना पड़ेगा.

धोनी ने कहा कि वह इस टूर्नामेंट में अपने हर खिलाड़ी को खेलने का मौका देना चाहते हैं. क्योंकि ये टी-20 वर्ल्डकप से पहले एक अहम प्लेटफार्म की तरह है.

भारत ने बीते 10 साल से कोई भी एशिया कप का ख़िताब नहीं जीता है. साल 2010 में धोनी की कप्तानी में टीम फाइनल में पहुंची थी, जहाँ उसे हार का सामना करना पड़ा था. ऐसे में धोनी ने कहा कि वह इस बार ख़िताब जीतना चाहते हैं. लेकिन हमारी कोशिश रहेगी कि हम अपने हर खिलाड़ी को खेलने का मौका दे सकें.

हमारी कोशिश रहेगी कि हर मैच में हमारी टीम में संतुलन रहे. साथ ही हमारे हर खिलाड़ी को खेलने का मौका भी मिल जाए.

 धोनी ने किस्मत को भी खेल का एक अंग माना और उन्होंने कहा कि खेल में टॉस का भी अहम योगदान होता है. जिसमें किस्मत ही काम करती है. इस खेल की शुरुआत ही किस्मत से होती है. ऐसे में हम किस्मत को दरकिनार नहीं कर सकते हैं. 

धोनी ने रोहित, विराट और शिखर की तारीफ की. साथ ही ये भी कहा कि उनकी जिम्मेदारी बढ़ गयी है. धोनी ने नम्बर 6 और 7 में थोड़ी समस्या की बात स्वीकारी लेकिन इसे कोई गंभीर बात नहीं मानी. उन्होंने कहा अगर टॉप आर्डर अच्छा खेलता है, तो 6 और 7वें क्रम की बल्लेबाजी का मौका ही नहीं आएगा.

धोनी ने टी-20 और टेस्ट के बारे में बात करते हुए कहा कि टी-20 से टेस्ट में खेलना सरल है. लेकिन टेस्ट से टी-20 में आना कठिन है.

धोनी न्यूज़ीलैंड के कप्तान ब्रेंडम मैकुलम की तारीफ और उनके सन्यास पर निराशा जाहिर की. साथ ही उनके सबसे तेज शतक को बेहतरीन बताया. उन्होंने कहा कि मैकुलम दर्शकों के खिलाड़ी थे. जिनसे दर्शक एंटरटेन होते थे.

  • SHARE
    sportzwiki हिंदी सभी प्रकार के स्पोर्ट्स की सभी खबरे सबसे पहले पाठकों तक पहुँचाने के लिए प्रतिबद्ध है. हमारी कोशिस यही रहती है, कि हम लोगो को सभी प्रकार की खबरे सबसे पहले प्रदान करे.

    Related Articles

    शीतकालीन ओलम्पिक में उत्तरी कोरिया की भागीदारी पर द. कोरिया में आक्रोश

    सियोल, 22 जनवरी; इस साल आयोजित होने वाले शीतकालीन ओलम्पिक खेलों में उत्तरी कोरिया की भागीदारी पर निराशा जताते हुए दक्षिण कोरिया में आक्रोश नजर...

    आस्ट्रेलियन ओपन : जोकोविक को चौंकाकर क्वार्टर फाइनल में पहुंचे चुंग

    मेलबर्न, 22 जनवरी; दक्षिण कोरिया के 21 वर्षीय खिलाड़ी हेयोन चुंग ने सोमवार को बड़ा उलटफेर करते हुए छह बार के आस्ट्रेलियन ओपन विजेता नोवाक...

    तीसरे मैच से पहले भी दिखी शास्त्री की दादागिरी, अफ्रीका में भी लगा दी...

    भारतीय टीम और साउथ अफ्रीका टीम के बीच अब तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का तीसरा व अंतिम टेस्ट मैच 24 जनवरी बुधवार से...

    OMG: WWE के इस मामले में भारत बना नंबर वन देश, अमेरिका, रूस और...

    WWE के लिए भारत हमेशा से ही एक बड़ा मार्केट रहा है और यही कारण है कि आये दिन उनके रेस्लर भारत का दौरा...

    इन दो दिग्गजों ने की विकेटकीपर कोच की मांग, अब जल्द मिल सकता है...

    भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद से भारतीय टीम को टेस्ट क्रिकेट में एक...