5 बार विश्वचैम्पियन और 2014 एसियन गेम में स्वर्ण पदक जितने वाली भारत की महिला मुक्केबाज मैरीकॉम ने ओलम्पिक 2016 के बाद बॉक्सिंग से अलविदा कहने का मन बना लिया है, 2 मार्च 2014 को IIT दिल्ली में आयोजित बॉक्स – आउट अभियान अभियान से यह खबर सामने आयी है.

मैरीकॉम ने कहा वो रिटायर्मेंट के बाद अपने घरेलू शहर मणिपुर में अपने बॉक्सिंग एकेडमी का संचालन करेंगी, उन्होंने कहा उनका लक्ष्य सिर्फ मणिपुर से ही नहीं बल्कि पुरे भारत से बॉक्सर पैदा करने का है.

यहाँ एमसी मैरीकॉम के कैरियर की उल्लेखनीय उपलब्धियों में से कुछ पर नजर डाली गयी हैं:
1.सिर्फ 18 वर्ष की उम्र में उन्होंने विश्व एमेच्योर मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में रजत पदक जीता.
2.2002 में अंताल्या विश्व एमेच्योर मुक्केबाजी चैंपियनशिप के 45 किलोग्राम वर्ग में उन्होंने पहला स्थान प्राप्त किया.
3.उन्होंने लंदन में आयोजित 2012 के समर ओलंपिक में कांस्य पदक जीता.
4.उन्होंने लगातार 2011 में एशियाई महिला कप और 2012 में एशियाई महिला चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीता.
5.2007 में कुछ शानदार प्रदर्शन के बाद, इंटरनेशनल एमेच्योर बॉक्सिंग एसोसिएशन ( IABA ) ने मैरीकॉम को “मैग्निफिसेंट मैरी” के उपनाम से उन्हें सम्मानित किया.

 

 

  • SHARE

    Related Articles

    भविष्यवाणी: प्रसिद्ध ज्योतिषी ने किया भविष्यवाणी जाने कितनी सफल होगी विराट-अनुष्का की शादी

    भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली और अनुष्का शर्मा की शादी की चर्चा इन दिनों आम है. खबरों के मुताबिक एक दूसरे को लगभग...

    बर्थ डे से एक दिन पहले ये किसके लिए शर्टलेस हुए युवराज सिंह, पत्नी...

    भारतीय क्रिकेट इतिहास के सबसे बड़े फाइटर सिक्सर किंग युवराज सिंह इन दिनों भारतीय टीम से बाहर हैं। युवराज सिंह लगातार भारतीय टीम में...

    धर्मशाला में मिली शर्मनाक हार के बाद इन 2 बड़े बदलाव के साथ उतरेगी...

    धर्मशाला में हुए पहले वनडे मैच में भारतीय टीम को श्रीलंका के हाथों 7 विकेट से एक शर्मनाक हार झेलनी पड़ी. इस शर्मनाक हार...

    स्पेनिश लीग : बार्सिलोना ने विलारियल को दी मात

    विला रियल (स्पेन), 11 दिसम्बर; बार्सिलोना ने स्पेनिश लीग के 15वें दौर में खेले गए मैच में विलारियल को 2-0 से मात दी। समाचार एजेंसी...

    जर्मन लीग : पीटरसन की हैट्रिक से फ्रीबर्ग ने कोलोग्ने को हराया

    बर्लिन, 11 दिसंबर; नील पीटरसन की हैट्रिक के दम पर जर्मन लीग के 15वें दौर में खेले गए एक मैच में फ्रीबर्ग ने कोलोग्ने को...