हाल फ़िलहाल में यह पहली बार नहीं है जब कोई मैच बारिश की वजह से धुल गया हो. चाहे टेस्ट मैच हो या एकदिवसीय मैच कई मैच हाल ही में बारिश की भेंट चढ़ गए.

टीम इंडिया जब वेस्टइंडीज़ के दौरे पर चार मैचों की टेस्ट श्रृंखला खेलने गयी तो चार में से दो मैच बारिश के कारण पुरे नहीं हो सके. और बारिश ने टीम इंडिया का पीछा अमेरिका में भी नहीं छोड़ा, पहला ट्वेंटी-ट्वेंटी मैच हारने के बाद, दुसरे मैच में भारत एक मज़बूत स्थिति में था तभी बारिश ने मैच में खलल डाल दी.

यह भी पढ़े : आईसीसी से आई भारतीय टीम के लिए बुरी खबर, टी-20 रैंकिंग में नीचे खिसकी

टीम इंडिया के पास एक सुनहरा मौका था कि वो पिछले मैच की हार का गम मिटा सके लेकिन अम्पायरों ने अपर्याप्त उपकरण ना होने के कारण मैच को रद्द करने का फैसला लिया जबकि बारिश रुकने के बाद सूरज खिला हुआ था.

अम्पायरों के इस निर्णय पर भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अपनी नाराज़गी ज़ाहिर की है. धोनी ने कहा कि वो इससे ख़राब परिस्थितियों में भी क्रिकेट खेल चुके है.

यह भी पढ़े : पिंक बॉल से क्रिकेट खेलना होगा रोमांचक : गौतम गंभीर

धोनी ने मैच के बाद बताया कि

“अंपायर ने हमे बताया कि मैदान पर प्रयाप्त उपकरण मौजूद नहीं है, इसलिए  हम खेल को आगे नहीं बढ़ा सकते और मैच को रद्द कर दिया. मैच होगा या नहीं इस बात का निर्णय अंपायर को लेना होता है लेकिन मैंने लगभग 10 साल से ज्यादा का अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेला है और इससे कई गुना ख़राब परिस्थितियों में भी हमने मैच पुरे खेले है”

टीम इंडिया के कप्तान ने 2011 की इंग्लैंड सीरीज़ की बात की जिसमे सभी टेस्ट मैच हारने के बाद जब भारतीय टीम एकदिवसीय मैच खेलने आई तो सभी मैचों में बारिश ने बाधा डाली लेकिन सभी मैच खेले गए. इस श्रृंखला की बात करते हुए धोनी ने कहा कि

“अगर मुझे याद है तो 2011 में, इंग्लैंड सीरीज़ के सभी मैचों में बारिश हो रही थी, वो तो ऐसा था जैसे हम लोग बारिश में ही क्रिकेट खेल रहे हों. मुझे लगता है परिस्थितियां ….(उसके बाद भारतीय कप्तान रुके), आख़िर में फैसला अंपायर के हाथ में होता है, अगर वो कहते है खेलो तो हम खेलते है अगर वो कहते है किखेल के लिए परिस्थितियां ठीक नहीं है तो ठीक नहीं होगी.

यह भी पढ़े : दूसरा टी-20 : भारत के सामने 144 रनों का लक्ष्य , रद्द हुआ मैच

बारिश के बाद मैं और ब्रावो एक जगह खड़े थे जहाँ से गेंदबाजों का रनअप बहुत दूर था. उनकी टीम में कोई शोएब अख्तर नहीं था जो इतना बड़ा रनअप लेकर गेंदबाज़ी करे, तो मुझे लगता है चिंता करने की इतनी कोई बात नहीं थी.

  • SHARE

    सभी खेलों में दिलचस्पी है लेकिन सबसे पसंदीदा खेल क्रिकेट, पसंदीदा खिलाड़ी विराट कोहली और नोवाक जोकोविच.

    Related Articles

    अगरकर, मो. कैफ सहित इन 10 खिलाड़ियों ने धर्म की सीमाएं तोड़कर की दुसरे...

    कई ऐसे क्रिकेटर्स हैं, जो हिंदू हैं लेकिन उन्होंने शादी मुस्लिम लड़की से की हैं. तो कई ऐसे भी क्रिकेटर्स हैं जो मुसलमान हैं,...

    वनडे क्रिकेट में सबसे अधिक चौके लगाने वाले टॉप 8 बल्लेबाजो में 3 भारतीय...

    वनडे क्रिकेट की बात करे, तो वनडे क्रिकेट में चौके और छक्के हमेशा सबसे ज्यादा लगते हैं. क्रिकेट का कोई भी फ़ॉर्मेट हो उसमे...

    टी10 टूर्नामेंट : सहवाग की टीम मराठा अरेबियंस ने पंजाबी लैजेंड्स को हरा सेमीफाइनल...

    टी10 टूर्नामेंट में आज शुक्रवार को दिन का तीसरा मैच व टूर्नामेंट का 9वां मैच वीरेंद्र सहवाग की कप्तानी वाली मराठा अरेबियंस और मिस्बाह...

    ये है वो 10 टीम जिनके नाम है अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन...

    क्रिकेट एक ऐसा खेल है, जो लोकप्रिय होने के साथ साथ काफी खेला भी जाता है. लगभग हर टीम के सालभर में कई दूसरे...

    सैंड आर्टिस्ट सुदर्शन पटनायक ने रेत से ये कलाकृति बना दिया विराट-अनुष्का को शादी...

    विराट कोहली और अनुष्का शर्मा ने अपने शादी की घोषणा ट्वीटर के माध्यम से की। इटली के टस्कनी शहर में हुई इस शादी की...