नर्वस नाइन्टीज ये हर बल्लेबाज के लिए काफी महत्वपूर्ण समय होता है, अब तक 33 बल्लेबाज इसका शिकार हुए है. लेकिन ऐसे काफी बल्लेबाज है जो उस वक्त आऊट नहीं हुए है. काफी बडे नाम इसका शिकार हुए है, जैसे सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड, स्टिल वॉ, विरेंद्र सहवाग, ब्रायन लारा, मैथ्यू हेडन, गोर्डन ग्रिनिज, लेकिन तीन ऐसे महान खिलाडी है जो इसका शिकार नहीं हुए, डॉन ब्रैडमन, कुमार संगाकारा, और युनिस खान.

अभी तिसरे दुसरे ऐशेज में कुक 96 रन पर आऊट हुए, और अपनी 28वी सेंचुरी से वंचित रह गये. नाईन्टीज में वे सातवीं बार आऊट हुए. और उनका सातवी बार आऊट होना ये नववें सबसे ज्यादा बार है. क्रिकेट में 202 बार ऐसा हुआ है.

सचिन, द्रविड और वॉ तीनों दस दस बार 90  या उससे अधिक स्कोर पर आऊट हुए है, जो सबसे ज्यादा है.

202 बार खिलाडी उस समय आऊट हुआ है, काफी बल्लेबाज चौका लगाकर इसे पुरा करते है, लेकिन दबाव ज्यादा होने की वजह से बल्लेबाज आऊट हो जाता है.

अगर ऐसा नहीं हुआ होता, तो वॉ के 42 शतक होते, और सचिन के रिकॉर्ड 61 शतक होते.

और अगर कैलिस के पांच बार ऐसा नहीं हुआ होता, तो उनके नाम 50 शतक होते.

टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा बार 90 या उससे अधिक रन पर आऊट होने वाले खिलाडी:

स्टिव वॉ (अॉस्ट्रेलिया): 168 मैचों में 10 बार

राहुल द्रविड (भारत): 164 मैचों में 10 बार

सचिन तेंदुलकर (भारत): 200 मैचों में 10 बार

माईकल स्लेटर (अॉस्ट्रेलिया): 74 मैचों में 9 बार

एल्विन कालीचरन (वेस्टइंडीज): 66 मैचों में 8 बार

एबी डिविलियर्स (दक्षिण अफ्रीका): 98 मैचों में 8 बार

इंजमाम उल हक (पाकिस्तान): 120 मैचों में 8 बार

मैथ्यू हेडन (अॉस्ट्रेलिया): 103 मैचों में 7 बार

एलिस्टर कुक (इंग्लैंड): 116 मैचों में 7 बार

क्लेम हिल (अॉस्ट्रेलिया): 49 मैचों में 6 बार

रोहन कन्हाई (वेस्टइंडीज): 79 मैचों में 6 बार

हर्शेल गिब्स (दक्षिण अफ्रिका): 90 मैचों में 6 बार

गोर्डन ग्रिनिज (वेस्टइंडीज): 108 मैचों में 6 बार

स्टिफन फ्लेमिंग (न्यूजीलैंड): 111 मैचों में 6 बार

जेफ्री बॉयकट (इंग्लैंड): 108 मैचों में 6 बार

ब्रायन लारा (वेस्टइंडीज): 131 मैचों में 6 बार

महेला जयवर्धने (श्रीलंका): 149 मैचों में 6 बार

शिवनारायण चंद्रपॉल (वेस्टइंडीज): 164 मैचों में 6 बार

रिकी पोंटिंग(अॉस्ट्रेलिया): 168 मैचों में 6 बार

एंन्जेलो मैथ्यूज (श्रीलंका): 49 मैचों में 5 बार

केन बेरिंगटन (इंग्लैंड): 82 मैचों में  5 बार

तिलकरत्ने दिलशान  (श्रीलंका): 83 मैचों में 5 बार

माईकल हसी (अॉस्ट्रेलिया): 79 मैचों में 5 बार

महेंद्र सिंह धोनी (भारत): 90 मैचों में 5 बार

गैरी सोबर्स (वेस्टइंडीज): 93 मैचों में 5 बार

विरेंद्र सहवाग (भारत): 104 मैचों में 5 बार

केविन पीटरसन (इंग्लैंड): 104 मैचों में 5 बार

डेविड बुन (अॉस्ट्रेलिया): 107 मैचों में 5 बार

माईकल क्लार्क (अॉस्ट्रेलिया): 112 मैचों में 5 बार

माईक एथरटन (इंग्लैंड): 115 मैचों में 5 बार

सुनिल गावस्कर (भारत): 125 मैचों में 5 बार

जैक कैलिस (दक्षिण अफ्रिका): 166 मैचों में 5 बार

  • SHARE

    I am sagar an ardent fan of cricket. I want to become a cricket writer, i always suport virat kohli and ms dhoni in every international match, but not in ipl in ipl i always chear for mumbai indian and rohit sharma.

    Related Articles

    किसने क्या कहा: भारतीय टीम के तेज गेंदबाजो की मोहम्मद कैफ से लेकर वीरेंद्र...

    भारत और श्रीलंका के बीच पहला टेस्ट मैच ड्रा हो गया हैं. इस मैच के बाद श्रीलंका के खेमे में जरुर राहत की साँस...

    वीडियो: डिकवेला की इस हरकत पर भड़क उठी टीम इंडिया..आग बबूला हुए मोहम्मद शमी...

    भारत और श्रीलंका के बीच कोलकाता में खेला गया पहला टेस्ट बेहद रोमांचक मोड़ पर जा कर ड्रा समाप्त हुआ. एक समय बैकफुट पर...

    वीडियो- विराट कोहली की लापरवाही से मैच के दौरान घटी ये अजीब घटना,...

    भारत और श्रीलंका के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का कोलकाता में खेला जा रहा पहला टेस्ट मैच रोचक मोड़ पर पहुंच गया।...

    कोलकाता टेस्ट : जीत के करीब पहुंचकर भी दूर रह गया भारत

    कोलकाता, 20 नवंबर; भारत और श्रीलंका की क्रिकेट टीमों के बीच ईडन गार्डन्स स्टेडियम में खेला गया पहला टेस्ट मैच सोमवार को बेनतीजा समाप्त हुआ।...

    पूर्व विंबलडन चैम्पियन जाना नोवोत्ना का निधन

    प्राग, 20 नवंबर; पूर्व विंबलडन चैम्पियन जाना नोवोत्ना का सोमवार को चेक गणराज्य स्थित उनके घर में निधन हो गया। लंबे समय से कैंसर के...