क्रिकेट डेस्क। एशिया कप में भारत के हाथों मिली करारी हार से पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर और प्रशंसक बहुत नाराज हैं। शनिवार रात मीरपुर में उनके खिलाडि़यों ने जिस प्रकार का प्रदर्शन किया उसको लेकर उनके अंदर काफी गुस्सा हैं। ज्यादतर पूर्व क्रिकेटरों ने इस प्रदर्शन के लिए शाहिद आफरीदी को जिम्मेदार ठहराया है। प्रशंसकों के गुस्से का आलम तो यह है कई लोगों ने अपने घरों के टीवी सेट तक तोड़ डाले हैं।

पाकिस्तान की इस हार पर पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर सिकंदर बख्त ने जियो न्यूज़ चैनल पर कहा कि “बहाने बनाना बंद करो और क्रिकेट खेलो, तुम लोग बच्चे नहीं हो।”

बख्त ने यह कहते हुए पाकिस्तानी कप्तान शाहिद आफरीदी का मजाक उड़ाया कि “अरे भाई क्रिकेट तो खेलो और प्रदर्शन करो और खेलते रहो मत रिटायर हो लेकिन प्रदर्शन तो करो।”

वहीं दूसरी ओर मोहम्मद युसुफ का इस हार पर कहना था कि पाकिस्तानी बल्लेबाजो को भारतीय बल्लेबाज विराट कोहली से सीख लेनी चाहिए। युसुफ बोले “मेरे ख्याल से विराट कोहली ने दिखाया कि इस प्रकार की पिचों पर कैसे बल्लेबाजी करनी चाहिए। मुझे बताओं वो कौन सी अच्छी गेंद थी जिसपर हमारे बल्लेबाज आउट हुए हैं। हमारे बल्लेबाज सिर्फ बल्लेबाजी पिच पर ही खेल सकते हैं।”

अंत में वो बोले कि मेरे ख्याल से विराट कोहली सबसे अच्छा उदाहरण हैं, कि कैसे प्रतिभा, स्वभाव और तकनीक को सफलता पूर्वक हर परि‍स्थिति में अपने अनुरूप किया जा सकता है।

इसके साथ ही युसुफ ने इस हार के लिए कोचिंग स्टाफ को जिम्मेदार ठहराने वाले आरोपों को नकार दिया। उन्होंने कहा कि “कोई कुछ नहीं कर सकता चाहे वह टॉप कोचिंग स्टाफ ही क्यों न हो जब तक कि खिलाड़ी अपनी गलतियों से सीखते नहीं हैं।”

एक अन्य पूर्व क्रिकेटर राशिद लतीफ का कहना था कि “यह केवल हार की बात नहीं है, लेकिन हम किस प्रकार से हार रहे हैं इस पर ध्यान देना होगा। वो बोले एक गेंदबाज ने अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन हमारे बल्लेबाज बुरी तरह से फ्लॉप रहे और विकेट के बीच में दौड़ में तो और भी बुरा हाल है।”

टेस्ट कप्तान  मिस्बाह उल हक का कहना था कि “यह पिच 150 या 160 के स्कोर वाली नहीं थी, लेकिन फिर भी हमें अपने गेंदबाजों को एक ऐसा लक्ष्य जरूर देना चाहिए था, जिससे वो सही से मुकाबला कर सकते। हमारे गेंदबाजों ने बढि़या वापसी की है।”
इसके साथ ही मिस्बाह ने विराट की तारीफ करते हुए कहा कि “विराट ने बिल्‍कुल सही कहा है कि टी-20 टेस्ट क्रिकेट का ही विस्तार है, और इसमें आपको अच्छी गेंद और गेंदबाजों को इज्जत देनी चाहिए और परिस्थितियों के हिसाब से खेलना चाहिए।”

पूर्व लेग स्पिनर अब्दुल कादिर पाकिस्तान की टी-20 में भारत से लगातार हार से काफी गुस्से में दिखे। उन्होंने कहा कि “कोई भी भारत से एक हार से ज्यादा बर्दास्त नहीं कर सकता है। हमारे खिलाडि़यों को अपने मोजे ऊपर खींचने की जरूरत है।”

  • SHARE
    sportzwiki हिंदी सभी प्रकार के स्पोर्ट्स की सभी खबरे सबसे पहले पाठकों तक पहुँचाने के लिए प्रतिबद्ध है. हमारी कोशिस यही रहती है, कि हम लोगो को सभी प्रकार की खबरे सबसे पहले प्रदान करे.

    Related Articles

    राहुल या फिर रहाणे: आखिर कौन सलामी बल्लेबाज बन सकता है भारतीय टीम के...

    मौजूदा समय में टीम इण्डिया में गलाकाॅट प्रतिस्पर्धा चल रही है।अगर कोई भी एक खिलाड़ी अपनी फाॅर्म या फिटनेस को बरकरार नहीं रख पाता...

    विराट और धोनी को नहीं बल्कि इन दो भारतीय खिलाड़ियों को स्टीवन स्मिथ ने...

    चेन्नई में हुए पहले वनडे मैच के बाद अब दुसरे वनडे मैच के लिए भारत और ऑस्ट्रेलिया की टीमें अब कोलकता पहुच गई है...

    ऑस्ट्रेलिया के कप्तान ने अपने 100वें वनडे मैच पर कही ये बात

    ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीवन स्मिथ ने अपने करियर की शुरुआत एक लेग स्पिनर की तौर पर की थी. आज वो अपने करियर में अपना...

    ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दुसरे वनडे से पहले भिड़ी विराट और धोनी की टीम, जाने...

    पहले वनडे में आसानी से ऑस्ट्रेलियाई टीम पर की जीत दर्ज के बाद आत्मविश्वास से लबरेज भारतीय टीम कोलकता के ईडन गार्डन मैदान में...

    स्टेन अब बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट से भी हुए बाहर, दक्षिण अफ्रीकी टीम पर...

    साउथ अफ्रीकी तेज़ गेंदबाज डेल स्टेन का बदकिस्मत साथ नही छोड़ रही. अब उनका बांग्लादेश के साथ 28 सितम्बर से होने वाले टेस्ट मैच...