पीटर नेविल की चतुराई या खेल भावना का मजाक. - Sportzwiki
क्रिकेट

पीटर नेविल की चतुराई या खेल भावना का मजाक.

  • श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया के बीच चल रहे आखिरी टेस्ट मैच के चौथे दिन श्रीलंकन टीम 44/1 पर थी और दिमुथ करुनारतने क्रीज़ पर थे. बीच में एक बार करुनारतने ने पैर हवा में लहराया तबसे विकेटकीपर पीटर नेविल नज़र गडाए खड़े थे की कब वे क्रीज़ छोड़ें,और उनके क्रीज़ छोड़ते ही उन्होंने गिल्लियां बिखेर दी.उसके बाद थर्ड अंपायर के फैसले के बाद उन्हें आउट करार दिया गया.

    Criccbuz को दिए इंटरव्यू में पीटर नेविल ने बताया कि,

    यह भी पढ़े: श्रीलंका ने ऑस्ट्रेलिया को 3-0 से हराकर रचा इतिहास

     

    “मैंने सोचा की वो अपने पैर क्रीज़ के बाहर कर रहे है और उन्होंने ऐसा किया भी.आप ऐसा टेलीविज़न फुटेज में देख सकते है,मै अपने हाथ में गेंद लेकर उनके बहार जाने का वेट कर रहा हूँ,और मेरी टाइमिंग बहुत ही सही थी जिसके वजह से उनका विकेट हमे मिल गया.”

     

    इसके बाद उन्होंने कहा की,“कई लोग कह रहे है की ये खेल भावना के खिलाफ है तो मई यह कहूँगा कि नियम के अनुसार उन्हें क्रीज़ छोड़ के नही जाना चाइये अगर वो स्टंपिंग नही होना चाहते तो ये सब तभी कारगर हो पाया जब मैंने टाइम के सही समय प्रबंधन से उनकी गिल्लियां बिखेर दी.”

    अपनी बातो को आगे बढ़ाते हुए पीटर नेविल ने पत्रकारों को बताया की,“मै ऐसा घरेलू क्रिकेट में कर चुका हूँ.एक बार ब्रैड हाडिन शॉट खेलने के बाद हवा में उचल गये और यह कारनामा क्रिच्कत में हजारो बार हुआ होगा जैसा मैंने वहां किया था आज भी वैसा करके उन्हें आउट किया.और ऐसा करना किसी भी तरीके से गलत नही है और ऐसे मौके क्रिकेट में कभी कभी मिलते है और जब मुझे मिले तो मैंने इसका फायदा उठाया.और अंत में कहना है कि आप किसी कीमत पर क्रिकेट के खेल भावना के विरुद्ध नही जा सकते.”

    यह सवाल बड़ा ही साफ़ है –

    (1). क्या इन सब के लिए भी ICC के पास नियम है और यह खेल भावना के अनुसार हुआ?

    (2). जैसा कि पीटर नेविल ने कहा की वो घरेलु क्रिकेट में ऐसा करते रहे है तो  क्या वह इसे घरेलु क्रिकेट समझते हैं.?

    (3). तीसरा सवाल की क्या जिस देश ने ऐडम गिल्च्रिस्ट जैसा महान विकेटकीपर दिया है वो इसे अपमानित कर रहे हैं.?

    यह भी पढ़े: ऑस्ट्रेलिया की हार ने भारत को सौंपा नंबर 1 का ताज

    sw

    Most Popular

    Top