भारतीय महान बल्लेबाज़ राहुल द्रविड़ ने हाल में एक टीवी शो के दौरान खुलासा किया, कि कब उन्हें सबसे पहले ‘द वॉल’ नाम से पुकारा गया था. कट्टर तकनीक, संयम से कई घंटे तक क्रीज़ पर जमे रहने के लिए मशहुर राहुल अपने करियर के दौरान ‘द वॉल’ निकनेम से जाने गए.
अपनी मजबूत तकनीक के कारण गेंदबाजों को विकेट के लिए तरसाने वालें द्रविड़ ने टेस्ट क्रिकेट इतिहास में सबसे ज्यादा गेंदे खेली हैं.
टीवी शो ‘व्हाट द डक’ में विक्रम से बात करते हुए द्रविड़ ने खुलासा किया कि

“‘द वॉल’ सिर्फ एक तरह का सम्मान प्रदान करना नहीं है बल्कि यह मेरी कार्य-प्रणाली भी है.”

‘व्हाट द डक’ के होस्ट विक्रम ने द्रविड़ से पूछा कि कब उन्हें सर्वप्रथम ‘द वॉल’ से पुकारा गया था, 43 वर्ष के पूर्व महान बल्लेबाज़ द्रविड़ ने जवाब देते हुए कहा

“पहली बार का मुझे ठीक-ठीक याद नहीं लेकिन मुझे पता जब मेरी थोड़ी फॉर्म में वापसी हुई तब यह नाम पड़ा. मुझे लगता है कि ये मेरी लम्बी पारी के कारण हुआ, शायद मेरी पारी बोरिंग थी लेकिन मैंने तब हैडलाइन देखी थी ‘द वॉल”.

आगे द्रविड़ ने कहा

“मुझे लगता है बाद में, यह मेरे करियर की परछाई बन गयी. सच में मैंने सोचा कि न्यूज़पेपर ऑफिस में डेस्क पर बैठे लड़के और लड़कियां कितनी बुद्धिमान हैं. वास्तव में भविष्य में देखे तो यह जल्दबाजी में लिया हुआ फैसला रहा.लेकिन आज हम देखे तो ‘द वॉल नाम एक सकारात्मक भावना हैं”.

लेकिन हम भविष्य की हैडलाइन को बदल भी सकते है, जो यह हो सकती है  ‘द वॉल के टुकड़े-टुकड़े या ‘द वॉल में दरार, या ‘द वॉल गिर गयी. जैसे कि यह हुआ, जब मैंने सोचा पिच ख़राब है, बाद में, मैं देखता हूँ यह दूसरी न्यूज़पेपर की हैडलाइन बन गयी है. इसलिए मैं मुझे लगता है कि न्यूज़पेपर ऑफिस में जो बैठे लोग बहुत बुद्धिमान हैं”.

दायें हाथ के पूर्व महान बल्लेबाज़ राहुल द्रविड़ ने वर्ष 1996 में  श्रीलंका के विरुद्ध एकदिवसीय क्रिकेट से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया. द्रविड़ ने भारत के 164 टेस्ट मैचो में 52 की औसत से 13000 से अधिक रन बनायें है, जिस दौरान द्रविड़ ने टेस्ट क्रिकेट में 36 शतक भी जड़े.
एकदिवसीय क्रिकेट में भी द्रविड़ के नाम 10000 से अधिक रन हैं.

  • SHARE

    I am Gautam Kumar a Cricket Adict, Always Willing to Write Cricket Article. Virat and Rohit are My Favourite Indian Player.

    Related Articles

    VIDEO: WWE के मालिक विन्स मैकमोहन ने पार की बेशर्मी की सारी हदे, इस...

    विन्स मैकमोहन आज के समय में जितने दिमाग वाले लगते हैं एक समय में उतने ही कम अक्ल वाले काम किया करते थे. आज...

    आखिरकार क्यों महेंद्र सिंह धोनी अपने ही सगे भाई नरेंद्र सिंह धोनी के साथ...

    भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और मौजूदा बल्लेबाज-विकेटकीपर महेन्द्र सिंह की भारत के साथ पूरे दुनिया में लाखों दिवाने मौजूद है। क्रिकेट जगत...

    बांग्लादेश प्रीमियर लीग में एक बार फिर से आया गेल और मैक्कलम नाम का...

    इस समय बांग्लादेश में बांग्लादेश प्रीमियर लीग खेली जा रही हैं. इस दौरान दुनिया के सबसे खतरनाक बल्लेबाज़ क्रिस गेल और ब्रैंडन मैक्कलम एक साथ...

    रियो के राज्यपाल बन सकते हैं महान वालीबाल कोच

    रियो डि जेनेरो, 21 नवंबर; ओलंपिक में छह स्वर्ण पदक जीतने वाले विश्व के सबसे सफल वॉलीबॉल कोच बर्नाडरे 'बर्नार्डिन्हो' रेजेंडे ने माना कि वह...

    अपने करियर के अंतिम पड़ाव पर खड़े है ये 5 भारतीय खिलाड़ी किसी भी...

    भारतीय क्रिकेट टीम के लिए एक युवा क्रिकेटर हमेशा ही खेलने का सपना देखता है। ये खिलाड़ी भारतीय टीम में जगह भी बनाते हैं...