RCB vs MI: 'हमारे लिए हर मैच करो या मरो के समान' - Sportzwiki
इंटरव्यूज

RCB vs MI: ‘हमारे लिए हर मैच करो या मरो के समान’

  • मुंबई इंडियंस ने बुधवार को आईपीएल-9 में रॉयल चैलेंजर्स बंगलोर (आरसीबी) पर 6 विकेट से शानदार जीत दर्ज की। आरसीबी ने केएल राहुल के नाबाद 68 रनों की मदद से 4 विकेट पर 151 रन बनाए। जवाब में मुंबई ने अंबाती रायडू (44) और किरेन पोलार्ड (35 नाबाद) की शानदार बल्लेबाजी से 8 गेंद शेष रहते 4 विकेट खोकर लक्ष्य हासिल किया। इस जीत के बाद मुंबई इंडियंस 11 मैचों से 12 अंकों के साथ तालिका में चौथे स्थान पर पहुंच गया। आरसीबी 10 मैचों से 8 अंकों के साथ छठे स्थान पर है। आइए नजर डालते हैं कि मैच के बाद किसने क्‍या कहा-

    हमारे लिए हर मैच करो या मरो के समान
    मैच के बाद विराट ने बोले- अब हमारे लिए हर मैच करो या मरो के समान हो गया है। यह स्थिति बहुत चुनौतीपूर्ण है और मुझे इन परिस्थितियों में मजा आता है। अब हम किसी प्रकार की ढिलाई नहीं बरत सकते है। विपरित परिस्थितियों में खिलाड़ी के असली चरित्र की पहचान होती है।

    कोहली ने कहा कि उनकी टीम 15 ओवरों तक मैच में नहीं थी, लेकिन केएल राहुल और सचिन बेबी ने टीम की कुछ हद तक वापसी करवाई। इसके बावजूद टीम के करीब 20 रन कम बने थे, स्कोर इतना नहीं था कि गेंदबाज टीम को जीत दिलवा सके।

    उन्होंने कहा- मैंने खिलाड़‍ियों से कहा था जीत-हार चल सकती है, लेकिन उन्हें फील्ड में 120 प्रतिशत प्रदर्शन करना है और इस मैच के दौरान जोरदार फील्डिंग देखने को मिली। टीम के फील्डिंग के प्रदर्शन पर उन्हें गर्व है। वैसे मुंबई टीम जीत की हकदार थी, उन्होंने पिच को सही पहचाना। उनके गेंदबाजों ने उम्दा प्रदर्शन भी किया।

    हमने योजना का सही क्रियान्वयन किया : रोहित
    मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने इस बात पर ‍खुशी जताई कि टीम ने योजना का मैदान का सही ढंग से क्रियान्वयन किया।

    उन्होंन कहा- यह मैच टीम के लिए बहुत महत्वपूर्ण था और हमने अच्छी गेंदबाजी की, उम्दा फील्डिंग की। बल्लेबाजी में अच्छी शुरुआत के बाद पारी लड़खड़ाई थी, लेकिन मुझे विश्वास था कि किरेन पोलार्ड और जोस बटलर स्थिति संभाल लेंगे। पिच सूखी थी और गेंद नीची रह रही थी, इसलिए मैंने गेंदबाजी में लगातार परिवर्तन किया ताकि वे हमारे गेंदबाजों के अभ्यस्त नहीं हो जाए।

    मुंबई के लिए सपना पूरा होने जैसा: ‘मैन ऑफ द मैच’ करुणाल पांड्या
    अपने शानदार प्रदर्शन के कारण बाद ‘मैन ऑफ द मैच’ चुने गए करुणाल पांडया का कहना था कि ‘ मैं बस बहुत तेज गेंद डालने की कोशिश कर रहा था। विकेट काफी धीमा था और मैं किसी तरह इससे तारतम्‍य बनाने में लगा हुआ था। सामान्‍यतौर पर बंगलुरू ग्राउंड पर अधिक स्‍कारे बनता है और मैं भी कुछ ऐसी ही उम्‍मीद कर रहा था, लेकिन कुछ गेंद डालने के बाद मेरे दिमाग में एक आइडिया आया कि मैं अपनी तेज गेंदबाजी में बदलाव लाता रहूं।’

    करुणाल ने बताया कि- ‘जब वह आईपीएल नहीं खेलते थे तो मुंबई इंडियंस मेरी ड्रीम टीम थी आज इसका हिस्‍सा बनना मेरे लिए गर्व की बात हैं।’

    sw

    Most Popular

    Top