भारतीय टीम के प्रतिभाशाली सलामी बल्लेबाज़ रोहित शर्मा सिमित ओवरों के क्रिकेट में मौजूदा समय में भारत के सबसे सफल बल्लेबाजों में से एक है, लेकिन रोहित अपनी सिमित ओवरों के क्रिकेट की फॉर्म को टेस्ट क्रिकेट में कायम रखने में पूरी तरह से नाकाम रहे हैं. 29 वर्ष के रोहित शर्मा ने अब तक 31 टेस्ट पारियों में 32.62 की औसत से रन बनाये है, जिस दौरान रोहित ने केवल 2 शतक लगाए हैं, जोकि उनकी प्रतिभा के अनुसार बेहद कम हैं.

यह भी पढ़े: शादी के बाद खराब हो गया इन भारतीय खिलाड़ियों का प्रदर्शन

टेस्ट मे लगातार नाकामी के कारण रोहित शर्मा आलोचकों के निशाने पर बने रहते हैं, लेकिन मुंबई के इस बल्लेबाज़ ने आलोचनाओ पर ध्यान देना बंद कर दिया है, रोहित ने कहा वो इस तरह की आलोचनाओ से बिलकुल भी चिंतित नहीं है.

बीसीसीआई की ऑफिसियल वेबसाइट के माध्यम से रोहित शर्मा ने कहा “इस तरह की आलोचना से आप खेलना बंद नहीं कर सकते, इस तरह की चीजो का मुझ पर कोई असर नहीं पड़ता. मैं इस तरह की परिस्तिथि में पहले भी रहा हूँ. यह मुझे परेशान नहीं करती, मै आखिर क्यों इस तरह की आलोचनाओ पर ध्यान दूँ. मैं वर्तमान में जीता हूँ, भविष्य में क्या होगा ये मैं नहीं जानता हूँ”.

रोहित शर्मा स्वभाव से आक्रामक बल्लेबाज़ है, जोकि अपनी आक्रामक बल्लेबाजी से गेंदबाजो पर दवाब बनाये रखते हैं. कुछ लोगो कों लगता है कि रोहित को अपनी इस सोच को टेस्ट में बदलना चाहिए, लेकिन रोहित फिलहाल अपने स्वाभाविक खेल में कोई बदलाव के मुड में नहीं हैं.

रोहित शर्मा ने कहा “मैंरा स्वाभाविक खेल आक्रमण करना हैं, और गेंदबाजो पर दवाब बनाना चाहे मै पहली गेंद खेल रहा हूँ या आखिरी. मैं जानता हूँ परिस्थितिया अलग होगी, लेकिन यह पक्का है कि मैं स्वाभाविक खेल में कोई बदलाव नहीं करूँगा. मैं हूँ, जो मैं हूँ.  मैं जानता हूँ टेस्ट क्रिकेट एकदिवसीय क्रिकेट की तरह नहीं खेला जाता, लेकिन हमारे सामने कई उदहारण रहे है, जो एक जैसी शैली से टेस्ट और एकदिवसीय क्रिकेट दोनों खेले हैं”.

यह भी पढ़े: ….जब सचिन ने गुस्से में इस ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज को कहा, तुम्हारे भाई ने भारत को 5 साल पीछे लाकर खड़ा कर दिया

मौजूदा समय में ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज़ डेविड वार्नर इसी तरह की खिलाड़ी है, जो टेस्ट और एकदिवसीय में एक जैसे आक्रामक शैली से क्रिकेट खेलते हैं. भारत के सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग के खेलने का अंदाज सभी क्रिकेट प्रसंशको कों पहले से ही पता है.

रोहित शर्मा फिलहाल वेस्ट इंडीज दौरे पर गयी भारत की टीम के सदस्य हैं. 4 मैचो की टेस्ट सीरीज के पहले 2 मैचो में रोहित शर्मा को खेलने का मौका नहीं मिला. कप्तान विराट कोहली ने रोहित शर्मा को तीसरे टेस्ट में मौका दिया, लेकिन वह 9 और 41 रनों की छोटी पारिया ही खेल पायें. चौथे टेस्ट मैच में रोहित शर्मा का खेलना लगभग तय है, देखना यह होगा कि रोहित अपनी प्रतिभा के अनुसार प्रदर्शन कर पाते है या नहीं?

यह भी पढ़े: वीरेंद्र सहवाग कों मिली क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया में यह महत्वपूर्ण जिम्मेदारी……

  • SHARE

    I am Gautam Kumar a Cricket Adict, Always Willing to Write Cricket Article. Virat and Rohit are My Favourite Indian Player.

    Related Articles

    द. अफ्रीका दौरे से पहले बीसीसीआई ने लिया अहम फैसला, जिसके बाद भारत का...

    कोलकाता, 18 नवंबर; भारतीय क्रिकेट टीम अगले साल दक्षिण अफ्रीका जाने से पहले बेंगलुरू स्थित नेशनल क्रिकेट अकादमी (एनसीए) कंडीशनिंग कैम्प में हिस्सा ले सकती...

    दिमित्रोव, गोफिन ने एटीपी फाइनल्स के सेमीफाइनल में

    लंदन, 18 नवंबर; बुल्गारिया के ग्रिगोर दिमित्रोव ने पाब्लो कैरिनो बुस्टा को यहां करीब एक घंटे तक चले मुकाबले में 6-1, 6-1 से हराकर एटीपी...

    रणजी ट्रॉफी : ईशांत शर्मा की अगुआई में दिल्ली ने मुंबई का किया पत्ता...

    नई दिल्ली, 18 नवंबर; कप्तान ईशांत शर्मा की आगुआई में मेजबान दिल्ली ने पालम ग्राउंड पर खेले जा रहे रणजी ट्रॉफी के ग्रुप-ए के मैच...

    TOP 5: ये हैं सरवाइवर सीरीज के वो पांच मैच जिन्हें फैन्स आजतक नहीं...

    इस आर्टिकल में जानिये सरवाइवर सीरीज के इतिहास में पांच सबसे अच्छे मुकाबलो के बारे में जिन्हें फैन्स आज भी याद कर खुश हो...

    भारत के गेंदबाजी कोच खुद और कोच शास्त्री को नहीं बल्कि इन्हें दिया भारत...

    भारतीय टीम पिछले कई महीनों से बेहतरीन प्रदर्शन कर रही है. भारत का यदि इतिहास उठा कर देखें, तो भारतीय टीम अपनी बल्लेबाजी के...