क्रिकेट इतिहास में अपने रिकॉर्ड के लिए खेलने वाले 5 खिलाड़ी - Sportzwiki
क्रिकेट

क्रिकेट इतिहास में अपने रिकॉर्ड के लिए खेलने वाले 5 खिलाड़ी

  • क्रिकेट में काफी बार खिलाड़ियों पर ऐसे आरोप लगे है, जिसकी वजह से उन्हें काफी बार यह सुनना पड़ा है, कि वो खुद के लिए खेलते है, उन्हें देश से कोई मतलब नहीं है, वो सिर्फ अपना रिकॉर्ड बनाने के लिए खेलते है. ऐसे ही सचिन के उपर भी कई बार लोगो ने आरोप लगाये है, कि वो खुद के लिए खेलते है, और इसीलिए जैसे ही उनके 80 से अधिक रन बन जाते है, वो धीरे धीरे खेलना शुरू कर देते है.

    यहाँ हम कुछ ऐसे ही खिलाड़ियों के बारे में चर्चा कर रहे है, जो अपने लिए कुछ मैच खेले:

    5. डेविड वॉर्नर के 140 गेंदों में 100 रन 2012 के सीबी सीरीज फाइनल में

    क्या आपने सोचा है, की डेविड वॉर्नर शतक लगाए और वो भी 100 से कम की स्ट्राईक रेट से. ये हुआ और वो भी फाइनल में. 2012 की सीबी सीरीज के दुसरे फाइनल में. इसके पहले मैच में उन्होंने 163 रन बनाए थे और सिर्फ चौके और छक्के लगाने में विश्वास रखते है. अॉस्ट्रेलिया ने उम्मीद से परे 6 विकेट खोकर 271 रन बनाए. लेकिन दिलशान का शतक, और संगाकारा और महेला के अर्धशतकों के बदौलत श्रीलंका ने ये मैच 8 विकेट से जीता, और अॉस्ट्रेलिया के हार का कारण वॉर्नर की धीमी पारी रही.

    4. सचिन तेंदुलकर का 100वा अंतरराष्ट्रीय शतक

    सभी लोग इस क्षण की प्रतिक्षा कर रहे थे, और ये शतक जब बना तब उस मैच में भारत को बांग्लादेश से हार मिली. ये शतक 2012 के एशिया कप में सचिन ने लगाया था, लेकिन 147 गेंदों में सिर्फ 114 रन उन्होंने बनाए थे. और भारत का स्कोर 289 रन हुआ. लेकिन बांग्लादेश ने ये मैच 5 विकेट से जीता. सचिन के उपर काफी दबाव था, और उन्होंने इस मैच में शतक लगाया. ओर जो जो लोग ये बोलते थे की जब सचिन शतक लगाते है तब भारत हारता है, उनको और मौका मिला उनके खिलाफ बोलने का.

    3. माईकल वेन्डोर्ट की 117 गेंदों में 48 रन की पारी

    माईकल श्रीलंका के लिए सिर्फ एक ही वनडे खेले, और उसके बाद उन्हें कभी मौका नहीं मिला. अॉस्ट्रेलिया ने 318 रन बनाए और श्रीलंका को बडा लक्ष्य दिया. लेकिन माईकल ने 117 गेंदों में 48 रन बनाए, और 35 ओवर तक खेले. और वे इतना धीमा खेले की श्रीलंका 116 रन से हारा.

    2. जैक कैलिस के विश्वकप 2007 में अॉस्ट्रेलिया के खिलाफ 63 गेंदों में 48 रन

    2007 के विश्वकप में सिर्फ अफ्रिका ही थी जो अॉस्ट्रेलिया को टक्कर देती थी. लेकिन एक मैच में कैलिस ही अफ्रिका की हार का कारण बने. अॉस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 377 रन बनाए. अफ्रिका ने भी एक समय में 20 ओवर में 160 रन बना डाले थे. फिर कैलिस की वजह से अफ्रिका इस लक्ष्य का पिछा नहीं कर पाए, और कैलिस ने सिर्फ 48 बनाए वो भी 63 गेंदों में.

    1. गवास्कर की 174 गेंदों में 36 रन

    क्रिकेट के पहले विश्वकप में गवास्कर  ने ऐसी पारी खेली थी, जो कोई नहीं देखना चाहता. इंग्लैंड ने 60 ओवर में 334 रन बनाए. उस लक्ष्य का पिछा करते हुए गावस्कर ने 174 गेंदों में 36 रन बनाए. और भारत को हार मिली. इस पारी को गावस्कर ने भी अपने करियर की सबसे खराब पारी बताई थी.

    sw
    Click to comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Top