सॉरी, पाकिस्तान में कोई प्रतिभा नहीं, मैं कई खिलाड़ियों से बेहतर हूँ: शाहिद अफरीदी - Sportzwiki
इंटरव्यूज

सॉरी, पाकिस्तान में कोई प्रतिभा नहीं, मैं कई खिलाड़ियों से बेहतर हूँ: शाहिद अफरीदी

  • पाकिस्तान के दिग्गज आल-राउंडर शाहिद अफरीदी ने कहा कि पाकिस्तान में प्रतिभाशाली खिलाड़ी नहीं है, और मैं क्रिकेट खेलता रहना चाहता हूँ.

    36 वर्षीय आल-राउंडर ने विश्वकप 2015 के बाद टेस्ट और एकदिवसीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया था. एशिया कप 2016 और टी-ट्वेंटी विश्वकप 2016 में अफरीदी पाकिस्तान टीम के कप्तान थे, जिस दौरान पाकिस्तान ने बेहद निराशाजनक प्रदर्शन किया था. जिसके बाद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने अफरीदी को कप्तानी से बर्खास्त कर दिया था. और ऐसा माना जा रहा था, कि अब अफरीदी खुद की इज्जत बचाते हुए खुद क्रिकेट से संयास की घोषणा कर देंगे.

    लेकिन बाद में अफरीदी ने अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट से संयास की खबर को पूरी तरह से नाकार दिया था.

    पाकिस्तान के विवादित आल-राउंडर ने कहा उनके दिमाग में संयास की बात इसलिए नहीं आती क्योंकि पाकिस्तान में प्रतिभाशाली खिलाड़ियों की कमी हैं.

    बीबीसी उर्दू से बात करते हुए अफरीदी ने कहा पाकिस्तान में इस वक़्त कोई प्रतिभा नहीं है, हमारे देश में उस तरह के खिलाड़ी नहीं है जिनकी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में जरुरत हैं”.

    आगे अफरीदी ने कहा “मैं ज़्य़ादा नहीं बोल सकता क्योंकि अभी मेरा बोर्ड के साथ कॉन्ट्रैक्ट हैं, ऐसा ना हो कल मेरे घर पर एक नोटिस मिले. मैं आपको बाकि सब तब बताऊंगा(किस तरह टीम में खिलाडी को चुना जाता हैं) , जिस दिन मेरे संन्यास का दिन होगा”.

    टी-ट्वेंटी विश्वकप से बाहर होने के बाद अफरीदी को काफी आलोचनाओ का सामना करना पड़ा था, कुछ पूर्व खिलाड़ियों ने अफरीदी को टीम पर बोझ बनने तक के आरोप लगा दिया थे.

    अफरीदी ने कहा “मुझे नहीं लगता कि मैं कभी टीम पर बोझ था या बनूंगा,  हमेशा मैंने सम्मान के लिए खेला और गर्व के साथ एकदिवसीय और टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लिया. मैंने सोचा था पाकिस्तान को एक अच्छी टीम बनाकर सन्यास ले लूंगा लेकिन मुझे नहीं लगता कि ये सही मौक़ा है, अभी जो खिलाड़ी खेल रहे हैं, उनसे कहीं बेहतर मैं हूं”

    “मैं कई खिलाड़ियों से काफी बेहतर हूँ. मैंने इन्ज़ी भाई (मुख्य चयनकर्ता इंजमाम-उल-हक़) को भी कहा है कि पहले उन्हें मौक़ा दे दीजिए और जब आपको लगे कि टीम को मेरी ज़रूरत है, मैं उपलब्ध रहूंगा”

    अफरीदी ने आमिर के अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी का समर्थन किया है और कहा है कि इंग्लैंड के खिलाड़ी और मीडिया आमिर से डरे हुए है, इसलिए वह आमिर को टारगेट कर रहे हैं. 23 वर्षीय मोहम्मद आमिर ने स्पॉट-फिक्सिंग कांड के बाद अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी की है और इंग्लैंड दौरे पर पाकिस्तान टीम के तेज गेंदबाजो की कामन आमिर के हाथ हैं.

    अफरीदी ने कहा “यह गोरो की पुरानी चाल हैं, जिससे वे डरते है, वे उस पर दवाब बनाने की कोशिस करते हैं, जिसमे मीडिया भी शामिल होती हैं. आमिर दिमागी तौर पर बेहद मजबूत हैं. मैं उम्मीद करता हूँ वह उम्मीदों पर खरा उतरेंगे.”

    अफरीदी के इंटरव्यू का वीडियो यहाँ  देखे:-

    sw

    Most Popular

    Top