बुधवार को दम्बुल्ला में 5 मैचो की सीरीज के चौथे मैच में 6 विकेट की जीत के साथ ऑस्ट्रेलिया ने सीरीज में 3-1 की अजय बढ़त बना ली हैं. मैच में टॉस जीतकर श्रीलंका के कप्तान ने बल्लेबाजी चुनी और श्रीलंका टीम केवल 212 रनों पर आल-आउट गई.

जिसके जवाब में, ऑस्ट्रेलिया ने शानदार तरीके से लक्ष्य हासिल कर लिया, ऑस्ट्रेलिया ने 213 रनों का लक्ष्य 4 विकेट खोकर 31 ओवर में हासिल कर लिया. ऑस्ट्रेलिया ने चौथा एकदिवसीय 6 विकेट से जीता, साथ ही 114 गेंद शेष रही.

चौथे मैच में जीत के साथ ऑस्ट्रेलिया 5 मेचो की सीरीज में 3-1 से आगे हो गई है.

यह भी पढ़े: डेल स्टेन दोबारा बने टेस्ट के नंबर 1 गेंदबाज़, लेकिन अश्विन के प्रसंशको के लिए बुरी खबर

संक्षिप्त स्कोर: श्रीलंका- 212 आल-आउट (धनंजय दी सिल्वा 76, एंजेलो मैथ्यूज 40, जॉन हास्टिंग 6/45)

ऑस्ट्रेलिया : 217-4, 31 ओवरों में (जॉर्ज बेली 90 नाबाद, आरोन फिंच 55, सचित पथिराना 3/37)

परिणाम : ऑस्ट्रेलिया ने मैच 6 विकेटो से जीता

श्रीलंका बनाम ऑस्ट्रेलिया मैच में बने कुछ महत्वपूर्ण रिकार्ड्स पर एक नज़र :-

1) श्रीलंका के लिए चौथे एकदिवसीय मैच में पदार्पण करने वाले अविष्का फ़र्नांडो शून्य पर आउट हुए. अविष्का श्रीलंका के तीसरे सलामी बल्लेबाज़ और ओवरआल श्रीलंका के 18वे खिलाड़ी है, जो अपने पदार्पण मैच में शून्य पर आउट हुए हैं.

2) ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज़ जॉन हास्टिंग ने मैच में शानदार गेंदबाजी करते हुए (10-0-45-6) शानदार प्रदर्शन किया. 6/45 किसी भी ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज़ का श्रीलंका के विरुद्ध दूसरा सबसे अच्छा प्रदर्शन हैं, इस पहले 10 अगस्त 2011 को पल्लेकेल एकदिवसीय में तेज गेंदबाज़ मिचेल जॉनसन ने 6/31 का प्रदर्शन किया था.

यह भी पढ़े: धोनी ने लगाया था अम्पायरों पर फ्लोरिडा में मैच रद्द करने का आरोप, अब आईसीसी ने दिया बड़ा बयान

3) ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज़ आरोन फिंच ने मैच 18 गेंदों पर अर्द्धशतक पूरा किया, जोकि संयुक्त रूप से किसी भी ऑस्ट्रेलियन बल्लेबाज़ द्वारा लगाया गया सबसे तेज अर्द्धशतक हैं. इस से पहले साइमन ओ’डोंनल्ल (2मई 1990, शारजाह में, श्रीलंका के विरुद्ध) और ग्लेंन मैक्सवेल (2 नवंबर 2013, बैंगलोर में, भारत के विरुद्ध) भी 18 गेंदों पर अर्द्धशतक लगा चुके हैं.

4) ऑस्ट्रेलिया ने मैच 114 गेंद शेष और 6 विकेट से जीता. 200 से ज्यादा का लक्ष्य हासिल करते हुए, एकदिवसीय क्रिकेट की ये संयुक्य रूप से 7वी सबसे बड़ी जीत (बची हुए गेंद के अनुसार) हैं. एकदिवसीय क्रिकेट इतिहास में ऑस्ट्रेलिया के लिए यह दूसरी सबसे बड़ी जीत (बची हुए गेंद के अनुसार) हैं.

यह भी पढ़े: युवराज सिंह और हरभजन सिंह ने किया मजाक, तो सौरव गांगुली ने कर लिया कप्तानी छोड़ने का फैसला

200 रनों से ज्यादा लक्ष्य हासिल करते हुए, ऑस्ट्रेलिया ने  सबसे बड़ी 11 अप्रैल 2011 को बांग्लादेश के विरुद्ध ढाका के मैदान पर हासिल की थी, ऑस्ट्रेलिया ने यह मैच 144 गेंद शेष रहते जीता था.

5) 114 गेंदे शेष रहते हुए श्रीलंका के विरुद्ध ऑस्ट्रेलिया की ये चौथी सबसे बड़ी जीत हैं.

  • SHARE
    I am Gautam Kumar a Cricket Adict, Always Willing to Write Cricket Article. Virat and Rohit are My Favourite Indian Player.

    Related Articles

    PHOTO: ये हैं WWE की सबसे अनदेखी तस्वीरे, अंडरटेकर कर रहे हैं बेहद ही...

    WWE की रेस्लिंग की वजह से उन्हें पूरी दुनिया से प्यार मिलता है और उनसे जुड़ी हर खबर को जानने के लिए बेकरार रहते...

    सुनील गावस्कर ने कप्तान कोहली को लेकर कह डाली ये बात जो धोनी के...

    भारतीय टीम द्वारा मेहमान आॅस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के खिलाफ खेले गए सीरीज के दूसरे वनडे मैच में 50 रनों के अऩ्तर से जीत हासिल...

    पाक नहीं आ रहा है अपने नापाक इरादों से बाज अब भारत के खिलाफ...

    दुनिया भर के क्रिकेट प्रेमियों को अगर वर्तमान में सबसे ज्यादा क्रिकेट की किन्ही दो टीमों के बीच दिपक्षीय सीरीज का इंतेजार है, तो...

    VIDEO: जब स्टोन कोल्ड ने आज के सबसे ताकतवर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को लगाया...

    WWE में कई बार ऐसी चीजे हो जाती हैं जिसकी फैन्स को बिलकुल भी उम्मीद नहीं होती, डोनाल्ड ट्रम्प का WWE से जुड़ना और...

    INDvAUS: इंदौर में होने वाले तीसरे वनडे से पहले प्रसंशको के लिए आई बुरी...

    बारिश की आशंकाओं के बीच कलकत्ता के ईडेन गार्डन स्टेडियम में खेला गया दूसरे वनडे के बाद क्रिकेट प्रशंसकों के लिए एक और बुरी...