आज भारत और पाकिस्तान के बिच 3 टी-20 मैचो की सीरीज का अंतिम मैच कोलकाता में खेला जाने वाला है. भारत वैसे भी ये सीरीज हार चूका है, और आज सिर्फ सम्मान बचाने के लिए उतरेगा. पिछले दोनों मैचो में भारत की हार का कारण खराब टीम चुनना रहा, पहले मैच में बल्लेबाजो ने अच्छा प्रदर्शन किया तो गेंदबाजो ने निराश किया, जबकि दुसरे मैच में बल्लेबाजो ने निराश किया और मैच पूरी तरह से एकतरफा रहा.

आज अगर भारत को ये मैच जितना है, तो इसके लिए भारत को टीम में बदलाव करना पड़ेगा, साथ ही कुछ अन्य पहलुओ पर भी ध्यान देने की जरूरत है, देखे ये मैच जितने के लिए भारत को क्या करना होगा:

1. बल्लेबाजी में बदलाव: पिछले दोनों टी-20 मैच में अम्बाती रायडू पूरी तरह से नाकाम साबित हुए है, दोनों मैचो में रायडू बिना खाता खोले पवेलियन लौटे, और दुसरे मैच में जिस तरह से वो बल्लेबाजी कर रहे थे, उस हिसाब से उन्हें टेस्ट मैच खेलना चाहिए, न कि टी-20 रायडू फुल टॉस गेंद को पूल करने कली कोशिस में लगे थे, जबकि वो उस पर आसानी से बड़ा शॉट खेल सकते थे, ऐसे में रायडू की जगह आईपीएल में अपना जलवा दिखा चुके अंजिक्य रहाने को टीम में जगह मिलनी चाहिए.

2. रन आउट से बचना होगा: भारत अपने इस गलती को दुसरे मैच में भी दोहराया, पहले मैच में भारत को रन आउट की वजह से हार का मुह देखना पड़ा था, पहले मैच में जहाँ रायडू और कोहली रन आउट हुए वहीं दुसरे मैच में एक बार फिर कोहली और रोहित शर्मा आउट हुए, जिसकी वजह से भारतीय शीर्ष क्रम पूरी तरह से लडखडा गया, और इसका प्रभाव मिडिल क्रम पर भी पड़ा, जिसकी वजह से टीम मात्र 92 रनों के मामूली स्कोर पर सिमट गयी.

 

3.गेंदबाजी में बदलाव: भारत की सबसे बड़ी समस्या इस सीरीज में गेंदबाजी बन कर सामने आई है, दोनों मैचो में भारतीय गेंदबाज पूरी तरह से नाकामयाब साबित हुए है, सिर्फ अश्विन ही अकेले ऐसे गेंदबाज है, जिन्होंने शानदार तरह से अपनी भूमिका निभाई है, हरभजन रन रोकने में तो कामयाब रहे लेकिन विकेट लेने में वो बिलकुल नाकामयाब है, लेकिन अक्षर पटेल, मोहित शर्मा और भुवनेश्वर कुमार कुछ भी करने में सफल नहीं रहे, ऐसे में अक्षर की जगह मिश्रा को टीम में जगह मिलनी चाहिए, जबकि भुवनेश्वर और मोहित को हटाना मुश्किल है, क्यूंकि इस सीरीज में भारत के पास इनसे अच्छे गेंदबाज नहीं है.

4.साउथ अफ्रीकन बल्लेबाजो को रन बनाने से रोकना होगा: पिछले दोनों मैचो में भारतीय टीम साउथ अफ्रीकन बल्लेबाजो को रोकने में बिलकुल नाकामयाब रही  है, डिविलियर्स, अमला और ड्यूमनी ने भारतीय गेंदबाजो की दोनों मैचो में जमकर क्लास ली है, ऐसे में भारतीय कप्तान को इन बल्लेबाजो की कमजोरियों पर ध्यान देकर उसके हिसाब से रणनीति बनाकर इन्हें रन बनाने से रोकना होगा. इसके ;लिए भारतीय गेंदबाजो को कुछ अलग करने की जरूरत है, और अश्विन के साथ मिलकर शानदार गेंदबाजी करनी होगी.

5.फील्डिंग: पिछले मैच में साउथ अफ्रीका ने जिस तरह की फील्डिंग की उसके सामने भारतीय टीम कही भी नहीं टिकती, भारतीय टीम एक भी रन आउट करने में सफल नहीं हो सकी, जबकि साउथ अफ्रीका ने हर बार भारतीय बल्लेबाजो की गलतियों को फायदा उठाया, और रन आउट कर उन्हें पवेलियन की राह दिखाई, ताहिर ने शानदार गेंदबाजी के साथ शानदार फील्डिंग कर भारतीय टीम के लगभग 10 रन रोके, आज वैसा ही कुछ भारतीय टीम को करने की जरूरत है.

  • SHARE

    Related Articles

    बैडमिंटन : हांगकांग ओपन के दूसरे दौर में सायना, बाहर हुए कश्यप, सौरभ

    कॉव्लून (हांगकांग), 22 नवंबर; भारत की अग्रणी महिला बैडमिंटन खिलाड़ी सायना नेहवाल ने अच्छी शुरुआत करते हुए बुधवार को हांगकांग ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के दूसरे...

    आई-लीग : चेन्नई सिटी, गोकुलम एफसी ने बदले घरेलू स्थल

    नई दिल्ली,22नवंबर; आई-लीग क्लब चेन्नई सिटी और गोकुलम एफसी ने 25 नवंबर से शुरू हो रहे नए सीजन के लिए अपने घरेलू स्थल बदल दिए...

    आईएसएल-4 : दिल्ली के सामने, पुणे की रिकार्ड सुधारने की कोशिश

    पुणे, 22 नवंबर; हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के इतिहास में दिल्ली डायनामोज के सामने सिर्फ एक बार जीत दर्ज करने वाली एफसी पुणे सिटी...

    PHOTOS: हाल ही में स्मैकडाउन की डीवाओं को पीटने वाली ये हैं एनजो अमोरे...

    इस बार की स्मैकडाउन में तीन डीवाओं ने डेब्यू किया जिसमे एक नाम है लिव मॉर्गन का, वे एनजो अमोरे की गर्लफ्रेंड हैं. यहाँ...

    WWE NEWS: रोमन रेन्स के इंटरकांटिनेंटल चैंपियन बनने की वजह का हुआ खुलासा जिसे...

    इस हफ्ते हुई रॉ के मेन इवेंट मैच में रोमन रेन्स ने मिज़ को हारकर इंटरकांटिनेंटल चैंपियनशिप जीत ली और जीतते ही उन्होंने अपना...