भारतीय टीम और श्रीलंकाई टीम के बीच 16 नवंबर से होने वाली तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए आज 23 अक्टूबर सोमवार को भारतीय टीम का चयन कर लिया गया है.

भारतीय टेस्ट टीम में चयनकर्ताओ ने कई बड़े चौकाने वाले फैसले लिए है और आज हम आपको अपने इस खास लेख पर इस टेस्ट सीरीज के चयन में पांच सबसे बड़े चौकाने वाले फैसलो के बारे में ही बताएंगे.

अभिनव मुकुंद को बाहर करना

भारतीय टीम ने अपनी अंतिम टेस्ट सीरीज श्रीलंका के खिलाफ ही जुलाई अगस्त में खेली थी और इस सीरीज में भारतीय टीम में अभिनव मुकुंद भी शामिल थे और उन्हें जब इस सीरीज का पहला टेस्ट मैच खेलने को मिला, तो उन्होंने इस पहले टेस्ट मैच की दूसरी पारी में शानदार 81 रन की पारी खेली थी.

लेकिन इसके बाद उन्हें सीरीज के अगले दो टेस्ट मैच खेलने को नहीं मिले और अब जब भारतीय टीम की अगली टेस्ट सीरीज शुरू होने वाली है, तो मुकुंद को उनकी शानदार पारी के बावजूद टीम से बाहर कर दिया गया है.

कोहली को आराम ना देना 

भारतीय टीम जब श्रीलंका गई थी, तो काफी आसानी से भारतीय टीम ने श्रीलंकाई टीम को 3-0 से टेस्ट सीरीज हरा दी थी. ऐसे में जब श्रीलंकाई टीम भारत टेस्ट सीरीज खेलने आ रही थी, तो हर किसी को उम्मीद थी, कि श्रीलंकाई टीम की हलियाँ फॉर्म को देखते हुए भारतीय कप्तान विराट कोहली को आराम दिया जायेगा, क्योंकि विराट कोहली पिछले कई सीरीज से लगातार खेले जा रहे है.

विराट कोहली को आराम करने का मौका भी नहीं मिल पा रहा है, लेकिन सभी की उम्मीदों के विपरीत चयनकर्ताओ ने विराट कोहली को इस आसान टेस्ट सीरीज के लिए भी आराम नहीं दिया है.

अश्विन-जडेजा की वापसी 

भारतीय टेस्ट टीम के चयन में जो सबसे बड़ी चौकाने वाली बात निकली वह भारतीय टीम की स्पिन जोड़ी रविचंद्रन अश्विन और रविन्द्र जडेजा की वापसी है.

वनडे और टी20 टीम से बार-बार नजरंदाज किये जा रहे अश्विन-जडेजा की स्पिन जोड़ी की काफी लम्बे समय बाद भारतीय टीम में वापसी हो गई है.

कोई अतिरिक्त विकेटकीपर नहीं 

भारतीय टेस्ट टीम के चयन में यह भी एक काफी चौकने वाली बात है, कि अफ्रीका दौरे से पहले भारतीय टीम में कोई अतिरिक्त विकेटकीपर नहीं रखा है.

भारतीय टीम को जनवरी में साउथ अफ्रीका का दौरा करना है. वहां भारतीय टीम को एक अतिरिक्त विकेटकीपर की दरकरार होगी, लेकिन भारतीय चयनकर्ताओ ने टीम में रिद्धिमान साहा के रूप में एक ही विशेषज्ञ विकेटकीपर रखा है.

जसप्रीत बुमराह को टेस्ट टीम से एक बार फिर नजरंदाज करना 

वर्तमान समय पर भारतीय टीम का कोई सबसे अच्छा तेज गेंदबाज है, तो वह जसप्रीत बुमराह है. जसप्रीत बुमराह की वनडे और टी20 मैचों की शानदार फॉर्म को देखते हुए अटकले लगाई जा रही थी, कि चयनकर्ता उन्हें श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट टीम में भी मौका देंगे, लेकिन चयनकर्ताओ ने सभी को चौकाते हुए एकबार फिर जसप्रीत बुमराह को टेस्ट टीम से बाहर ही रखा है.

  • SHARE

    Related Articles

    INDvSL: तीसरे वनडे के लिए भारतीय टीम घोषित, 1 बदलाव के बाद इन 11...

    भारत और श्रीलंका के बीच खेले जाने वाले तीन वनडे मैचों की सीरीज का निर्णायक मुकाबला रविवार,यानि 17 दिसंबर को विशाखापट्टनम के क्रिकेट स्टेडियम खेला...

    FACT: WWE दिग्गज रेस्लरो का कर रही है अपमान, जानबूझकर हरा रही है हर...

    WWE हमेशा ही अपने दिग्गज रेस्लरो को सम्मान देने के लिए जानी जाती है लेकिन मौजूदा समय में WWE कई ऐसे गलत काम कर...

    चार दिवसीय टेस्ट मैच में दिखेगा कई अनोखे नियम, 26 दिसंबर को होगा साउथ...

    जिम्बाब्वे और साउथ अफ्रीका के बीच खेले जाने वाले चार दिवसीय टेस्ट मैच में क्रिकेट प्रशंसकों को नए नियम देखने को मिल सकते हैं। अभी...

    बड़ी खबर : चयनकर्ताओं ने 20 दिसंबर से शुरू होने वाली भारत-श्रीलंका टी20 सीरीज...

    भारतीय टीम और श्रीलंकाई टीम के बीच वनडे सीरीज के बाद 20 दिसंबर से तीन मैचों की टी20 सीरीज खेली जायेगी. जिसके लिए भारतीय...

    आज भी लोगो के सिर चढ़कर बोल रहा है सहवाग का जादू मैदान पर...

    भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेन्द्र सहवाग ने अपने करियर के दौरान दर्शकों का जमकर मनोरंजन किया है। वीरेन्द्र सहवाग की बल्लेबाजी...