क्रिकेट में अंपायर की भूमिका बहुत ही महत्वपूर्ण होती है, क्रिकेट का पूरा खेल सिर्फ अंपायर की भूमिका पर ही निर्भर करता है. आज हम वर्तमान के टॉप-5 अंपायर पर एक नजर डालते है.
1.बिली बोडेन: बिली न्यूज़ीलैंड से है, उन्होंने अपने पहले इंटरनेशनल अंपायरिंग कैरियर की शुरुआत 1995 में श्रीलंका और न्यूज़ीलैंड के बिच हुए मैच से की थी, ये अपने अनोखे संकेत की वजह से ज्यादा ही प्रसिद्ध रहे है. आईसीसी ने 2003 में इन्हें एलिट पैनेल में शामिल किया, अभी तक इन्होने 2000 से 2014 के बिच 81टेस्ट, 191 वनडे(1995-2014) और 21 टी-20 मैच (2005-14) तक अम्पायरिंग की है, इनके नाम 142 प्रथम श्रेणी और 284 A श्रेणी मैचो में अम्पायरिंग करने का रिकॉर्ड दर्ज है.


2.स्टीव डेविस: डेविस को आईसीसी ने अप्रैल 2008 में एलिट पैनल में शामिल किया, इन्होने 27 नवम्बर से 1 दिसम्बर 1997 के बिच पहले टेस्ट में अम्पायरिंग की, 9 मार्च 2011 में भारत और हालैंड के बिच मैच में इन्होने 100 वनडे मैचो में अम्प्यारिंग करने का रिकॉर्ड दर्ज कराया. इन्होने अब तक 128 वनडे और 54 टेस्ट (1997-2014) और 26 टी-20 (2007-14) मैचो में अब तक अम्पायरिंग की है.


3.अलीम डार: ये पाकिस्तान के प्रथम श्रेणी के रिटायर्ड क्रिकेटर है, इन्होने 16 फरवरी 2000 में श्रीलंका और पाकिस्तान के बिच मैच में अपने अम्पायरिंग कैरियर की शुरुआत की, ये आईसीसी एलिट पैनल के सदस्य है, इनके नाम 5 एशेज टेस्ट मैचो के साथ 2007 में श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया के बिच विश्वकप में अम्पायरिंग करने का रिकॉर्ड दर्ज है, इन्होने अब तक 93 टेस्ट मैच (2003-14), 165 वनडे (2000-14) और 35 टी-20 (2009-14) में अम्पायरिंग की है. इन्होने 2009, 2010 और 2011 में लगातार 3 बार अम्पायर ऑफ़ द इयर का ख़िताब जीता है.

 

4.पॉल रिफेल: इन्होने ऑस्ट्रेलिया के लिए 1992 से 1999 के बिच 35 टेस्ट और 92 वनडे मैच खेले है. ये वर्तमान में आईसीसी एलिट पैनल के सदस्य है, इन्होने 6 फरवरी 2009 को ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड के बिच मैच से अपने कैरियर की शुरुआत की, इन्होने अब तक 13 टेस्ट मैच (2012-14), 37 वनडे (2009-14) और 13 टी-20 (2009-14) मैचो में अम्पायरिंग की है, 1999 में ये ऑस्ट्रेलिया के विश्वकप विजेता टीम के सदस्य थे.

 

 

5.रिचर्ड केटलबर्ग: रिचर्ड वर्तमान में एलिट पैनल में सबसे कम उम्र के अम्पायर है, इन्होने 2011 में 4 विश्वकप मैचो में अम्पायरिंग की जिसके बाद इन्हें मई 2011 में आईसीसी की एलिट पैनल में स्थानांतरित किया गया, इन्होने 2010-2014 के बिच 24 टेस्ट मैचो में, 2009-14 के बिच 49 वनडे और 17 टी-20 मैचो में अम्पायरिंग की है.

  • SHARE
    sportzwiki हिंदी सभी प्रकार के स्पोर्ट्स की सभी खबरे सबसे पहले पाठकों तक पहुँचाने के लिए प्रतिबद्ध है. हमारी कोशिस यही रहती है, कि हम लोगो को सभी प्रकार की खबरे सबसे पहले प्रदान करे.

    Related Articles

    भारतीय टीम को मिला एक और तेज गेंदबाज घरेलू टूर्नामेंट में इसके सामने बल्लेबाजी...

    भारत ने तीसरे टेस्ट मैच से पहले दो और गेंदबाजों को नेट गेंदबाज के रूप में बुलाया है.टीम मैनजमेंट ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ...
    Delhi Test: Dhawan celebrates with half centuries, India leads by 355 runs

    शिखर धवन ने साउथ अफ्रीका से मिली सीरीज हार के बाद आज कहा कुछ...

    भारत और साउथ अफ्रीका के बीच खेली जा रही टेस्ट सीरीज में अफ्रीका ने 2-0 की अजेय बढ़त ली है.ऐसे में जहाँ साउथ अफ्रीका...

    IPL 2018: जोंटी रोड्स को हटा इस दिग्गज को बनाया मुंबई इंडियंस ने अपना...

    आईपीएल 11 को लेकर सभी टीमों ने अपनी तैयारी करना शुरू कर दिया है. जहाँ टीमें अब खिलाडियों के साथ-साथ सपोर्टिंग स्टाफ का भी...

    विराट कोहली के सबसे करीबी दोस्त हरभजन सिंह ने विराट की अफ्रीका में मिली...

    साउथ अफ्रीका से मिली हार पर अब हरभजन सिंह की प्रतिक्रिया सामने आई है। हरभजन सिंह ने भी कहा कि ये भारतीय टीम की...

    साउथ अफ्रीका के तेज गेंदबाज कगिसो रबाडा ने दिया तीसरे टेस्ट से पहले कोहली...

    साउथ अफ्रीका के तेज गेंदबाज कगिसो रबाडा ने 24 जनवरी से होने वाले तीसरे टेस्ट मैच से पहले एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की है. जिसमे...