कभी-कभी क्रिकेट में एक पारी एक शतक से भी अधिक मूल्यवान होती है. लोग हमेशा रिकार्ड्स की तरफ देखते हैं कि किसने शतक लगाया ,कितने रन बनाये कितने चौके छक्के जड़े लेकिन जैसा कि हम पहले भाग 1 में बात करचुके हैं भारतीय बल्लेबाजों द्वारा खेली गयी एक शतक से भी ज्यादा कीमती टॉप पारियों की, इसी को आगे बढ़ाते हुए पेश है भाग 2

5. सचिन तेंदुलकर 91 ( 121) बनाम ऑस्ट्रेलिया ( दूसरा फाइनल , 2008 सीबी सीरीज) :
सीबी सीरीज के दूसरे फाइनल में महेंद्र सिंह धोनी ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने का फैसला किया. सचिन ने रॉबिन उथप्पा के साथ 20 ओवर में 94 रन के रूप में भारत के लिए सावधानी से शुरूआत की. रोबिन के आउट होने के बाद गंभीर मैदान में उतरे. सचिन ने सिंगल्स और डबल रन लेने के साथ पारी को स्थिर किया और दूसरे छोर से माइकल क्लार्क और एंड्रयू साइमंड्स पर हमला करने के लिए युवराज सिंह और महेंद्र सिंह धोनी के लिए रास्ता आसान किया. जस तरह से सचिन ने एक साथ टीम की पारी खेली वह तरीका काफी असाधारण था. इस पारी को महान बनाने में एक बात और है और वो ये कि सचिन ने ऑस्ट्रेलियाई टीम के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों ( ब्रेट ली, नाथन ब्रेकन ) का सामना किया. और एक बार ये काम पूरा कर लिया समझो टीम का आधा काम हो गया. और भारत सीबी सीरीज जीत सुरक्षित करने के लिए शेष हिस्सा गेंदबाजों ने अच्छी तरह से कवर किया था.

4. सचिन तेंदुलकर 82 ( 49) बनाम न्यूजीलैंड (1994 भारत के न्यूजीलैंड के दौरे के दौरान ) :
यह पहली बार था कि सचिन तेंदुलकर ने भारत के लिए पारी की शुरुवात की. नियमित सलामी बल्लेबाज नवजोत सिंह सिद्धू घायल हो गए थे और टीम में कोई और एक पारी का आगाज करने के लिए सहमत नहीं था. सचिन ने शुरुआत की और न्यूज़ीलैंड की गेंदबाज़ी को जवाब देते हुए 82 की अपनी पारी में 15 चौके और 2 छक्के जड़े. वाकई एक अद्भुत पारी खेली थी सचिन ने . यहाँ तक कि मैच के बाद खुद सचिन ने कहा था कि ” यह पारी एक सपने की तरह थी और ऐसी पारी जीवन में एक बार होती है.”

3. वीरेंद्र सहवाग 99 * ( 100) बनाम श्रीलंका (त्रिकोणीय सीरीज , श्रीलंका, 2010) :
170 के स्कोर पर श्रीलंका के आउट होजाने के बाद भारतीय टीम 22 ओवर में 91/4 पर संघर्ष कर रही थी. भारत के लिए जीत सील करने के लिए महेंद्र सिंह धोनी के साथ सेहवाग ने 14 ओवर के अंदर 80 रन जोड़े. मैच में केवल सेहवाग वह बल्लेबाज थे जो क्रीज पर सहज दिखे. और अपने 99 रनों में से उन्होंने 56 रन तो चौके और छक्के जड़कर बनाए थे.

2. महेंद्र सिंह धोनी 91 * (79) बनाम श्रीलंका (आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2011 फाइनल) :
आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2011 फाइनल के दौरान धोनी ने शानदार पारी खेली.20 ओवर के अंदर गौतम गंभीर के साथ उन्होंने एक 109 रन की साझेदारी खेली और फिर युवराज के साथ भारत की जीत में बढ़िया भूमिका निभाई और भारत को 28 साल बाद विश्व विजेता बनाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया. फाइनल में 275 ले लक्ष्य का पीछा करने का दबाव हमेशा बहुत ज्यादा होता है लेकिन धोनी ने जिस तरह से एक उच्च दबाव में मैच में अपनी पारी खेली वह वाकई लाजवाब थी.

1. मोहम्मद कैफ 87 * ( 75) बनाम इंग्लैंड ( नेटवेस्ट ट्राफी 2002 फाइनल) :
326 रन का पीछा करने में भारत 24 ओवर में 146/5 पर संघर्ष कर रहा था. और फिर मोहम्मद कैफ ने युवराज सिंह के साथ मिलकर 17.4 ओवर में 121 रन बटोरे. युवराज के आउट होने पर भारत को अब भी 59 रन की जरूरत थी. लेकिन कैफ ने अपना शानदार प्रदर्ष नकार भारत की जीत सुनिश्चित की. यह भारतीय क्रिकेट के इतिहास में सबसे आश्चर्यजनक जीत में से एक थी और इसका क्रेडिट अंत तक बने रहने के लिए कैफ को जाता है.

  • SHARE
    sportzwiki हिंदी सभी प्रकार के स्पोर्ट्स की सभी खबरे सबसे पहले पाठकों तक पहुँचाने के लिए प्रतिबद्ध है. हमारी कोशिस यही रहती है, कि हम लोगो को सभी प्रकार की खबरे सबसे पहले प्रदान करे.

    Related Articles

    राहुल या फिर रहाणे: आखिर कौन सलामी बल्लेबाज बन सकता है भारतीय टीम के...

    मौजूदा समय में टीम इण्डिया में गलाकाॅट प्रतिस्पर्धा चल रही है।अगर कोई भी एक खिलाड़ी अपनी फाॅर्म या फिटनेस को बरकरार नहीं रख पाता...

    विराट और धोनी को नहीं बल्कि इन दो भारतीय खिलाड़ियों को स्टीवन स्मिथ ने...

    चेन्नई में हुए पहले वनडे मैच के बाद अब दुसरे वनडे मैच के लिए भारत और ऑस्ट्रेलिया की टीमें अब कोलकता पहुच गई है...

    ऑस्ट्रेलिया के कप्तान ने अपने 100वें वनडे मैच पर कही ये बात

    ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीवन स्मिथ ने अपने करियर की शुरुआत एक लेग स्पिनर की तौर पर की थी. आज वो अपने करियर में अपना...

    ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दुसरे वनडे से पहले भिड़ी विराट और धोनी की टीम, जाने...

    पहले वनडे में आसानी से ऑस्ट्रेलियाई टीम पर की जीत दर्ज के बाद आत्मविश्वास से लबरेज भारतीय टीम कोलकता के ईडन गार्डन मैदान में...

    स्टेन अब बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट से भी हुए बाहर, दक्षिण अफ्रीकी टीम पर...

    साउथ अफ्रीकी तेज़ गेंदबाज डेल स्टेन का बदकिस्मत साथ नही छोड़ रही. अब उनका बांग्लादेश के साथ 28 सितम्बर से होने वाले टेस्ट मैच...