भारतीय टीम का क्वार्टर-फाइनल से आगे जाना मुश्किल हैं: इरापल्ली प्रसन्ना - Sportzwiki
क्रिकेट

भारतीय टीम का क्वार्टर-फाइनल से आगे जाना मुश्किल हैं: इरापल्ली प्रसन्ना

  • भारत के पूर्व स्पिनर इरापल्ली प्रसन्ना को लगता है की मौजूदा बॉलिंग लाइन-उप के साथ इस बार आईसीसी विश्वकप 2015 में टीम इंडिया का क्वार्टर-फाइनल से आगे जाना मुश्किल है। प्रसन्ना का कहना है कि हमारी टीम में प्रभावी लेग स्पिनर की कमी है, इसका परिणाम हम पिछले मैचो में देख चुके हैं।

    उन्होंने बिस्तृत रूप में बोलते हुए कहा, ‘’ हमारी बल्लेबाजी, तेज गेंदबाजी के सामने टिकती नही, और हमारी तेज़ गेंदबाज़ी भी कुछ खास नहीं है। हमने स्पिनर्स को खो दिया है और तेज़ गेंदबाज़ भी कुछ असरदार नहीं । हम लोग असमंजस में है, हो सकता है आप टी 20 और वनडे जीत हासिल कर लो, किन्तु आप को टेस्ट में जीतने के लिए 20 विकटो की जरुरत है।उन्होंने ने खामियों पर ध्यान केन्द्रित करते हुए कहा, ‘’ आज हमारे स्पिनर्स असमंजश में है। उन्हें ये नही मालूम कि विकेट चटकाए या रन कम करे। पहले तो कप्तान को आगे बढ़ कर  स्पिनर्स का अमर्थान करना होगा। और फिर हमें यह जानना होगा की हम स्पिन बॉलिंग को कैसे व्यवस्थित कर सकते है। उदाहरण के तौर पर, आर आश्विन जो एकाएक स्ट्राइकर से स्टॉक बालर में बदल गए। इस स्थिति में हम कैसे उम्मीद कर सकते है की स्पिनर्स फोर फ्रंट पर आएंगे ? टीम मैनेजमेंट को ये समझना होगा की स्पिन बॉलिंग हमारी ताकत है।‘’

    आश्विन द्वारा अनुरूप को सुम्झाते हुए उन्होंने कहा ‘’उनको कप्तान की इच्छा अनुसार स्टॉक बालर बनना पड़ा। आप इनसे और क्या करने की उम्मीद करते है ? जो भी इनके विकेट मिले है वो बल्लेबाज़ द्वारा जल्दी रन बनाने की वजह से। आश्चर्य की बात है कि इन्होने सिडनी में गेंद को नहीं घुमाय, जहापर भारतीय स्पिनर्स ने हमेशा बाल घुमाये थे।‘’ कुछ वनडे में हार मिलना कोई बड़ी बात नहीं, पर गेंदबाजो पर भरोसा ना कर उनको गलत फॉर्मेट में खिलाना एक चिंता कि बात है । इस तरह से यह साफ़ हो गया की हमे अगामी विष्वकप में भारतीय टीम से कुछ चमत्कार की आशा नहीं करनी चाहिए । कोई हमारे सक्षम प्रशासकों को जगाने की कोशिश करें इससे पहले की काफी दर हो जाए। 

    sw
    Click to comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Most Popular

    Top