उमर गुल ने इंग्लैंड कों दी चेतावनी, कहा किसी भी टीम कों हराने का मद्दा रखता है पाकिस्तान - Sportzwiki
क्रिकेट

उमर गुल ने इंग्लैंड कों दी चेतावनी, कहा किसी भी टीम कों हराने का मद्दा रखता है पाकिस्तान

  • पाकिस्तान के तेज़ गेंदबाज़ उमर गुल टीम में 16 महीनो बाद वापसी कर रहे है, और अपनी वापसी से पहले ही उन्होंने इंग्लैंड के बल्लेबाजों को सचेत कर दिया है, कि उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन आना अभी बाकी है.

    33 वर्षीय गुल ने कहा कि वो पाकिस्तान की मौजूदा एकदिवसीय रैंकिंग में सुधार चाहते है, ताकि उन्हें 2019 विश्वकप के लिए क्वालीफाइंग मैच न खेलने पड़े. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान अच्छा प्रदर्शन करेगी और अपनी रैंकिंग में सुधार करेगी.

    यह भी पढ़े: पाकिस्तान टीम में लौटे गुल

    “मुझे पूरा यकीन है कि हम अपनी रैंकिंग में कट ऑफ तारिख से पहले सुधार कर लेंगे. हमारे पास बहुत से प्रतिभाशाली खिलाड़ी है जिन्हें बस सही राह दिखाने की ज़रूरत है, हमे बस ज़रा सा अपने खेल में बदलाव करने की ज़रूरत है और हम लगातार मैच जीत सकते है.”

     

    डान न्यूज़ से बात करते हुए गुल ने कहा कि “मुझे पता है हम वापसी कर सकते है जैसे कि हमने टेस्ट मैचों में करके दिखाया. हमे बस खुद पर भरोसा दिखाना होगा और फिर ये टीम किसी भी टीम को हराने का हुनर रखती है. क्योंकि हम भी अपनी विपक्षी टीम जितना जीतने का हुनर रखते है.”

    यह भी पढ़े: इंग्लैंड के लिए खेलने के अलावा और कोई रास्ता नहीं :जुनैद खान

    उन्होंने आगे कहा,

    “हमे सतर्क रहने की ज़रूरत होगी क्योंकि इंग्लैंड एक बहुत अच्छी एकदिवसीय टीम है और अपने घर पर वो और भी अच्छा खेलते है. उन्हें हराना हमारे लिए एक चुनौती होगी लेकिन हम भी किसी भी टीम को कही भी हराने का माद्दा रखते है.”

     

    टीम में अपनी वापसी को लेकर गुल का कहना था, कि उन्होंने वापसी के लिए काफी मेहनत की है जिसे सेलेक्टर्स ने सराहा है.

    यह भी पढ़े: सीरीज जीतने के बाद पाकिस्तानी कप्तान का टेस्ट नम्बर 1 रैंकिंग कों लेकर भावुक बयान

    “जब पिछले साल अप्रैल में मुझे टीम से निकाला गया था मैंने तभी से सोच लिया था कि अगर मुझे टीम में वापसी करनी है, तो मुझे अपनी फॉर्म और फिटनेस दोनों को नई ऊंचाई पर ले कर जाना होगा तभी सेलेक्टर्स मेरी ओर ध्यान देंगे. मैं घरेलु क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन कर रहा था और हाल ही में हुए रमादान कप में प्लेयर ऑफ़ द सीरीज़ भी चुना गया. इसके बाद लाहौर में  स्पोर्ट्स कैंप में जैसे ही मैंने फिटनेस टेस्ट पास किया सेलेक्टर्स ने मुझे इंग्लैंड दौरे के लिए चुन लिया.”

     

    जब उमर गुल से पूछा गया कि क्या उन्हें इस बात की नाराज़गी है, कि बांग्लादेश 2015 के दौरे के बाद से उनके अच्छे प्रदर्शन के बाद भी उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया था.

    यह भी पढ़े: लंदन टेस्ट : पाकिस्तान 10 विकेट से जीता, ड्रॉ कराई श्रृंखला

    इस पर गुल का कहना था, कि

     

    ” हर खिलाड़ी को निराशा होती है खासकर जब आप घरेलू क्रिकेट में अच्छा करे और फिर भी नज़रंदाज़ कर दिए जाये. मैंने डान न्यूज़ से पहले भी कहा था ,कि कैसे पिछले सेलेक्टर्स को मुझ पर संदेह था और कैसे उन्होंने किसी भी खिलाड़ी का ठीक से इस्तेमाल नहीं किया. मैंने मौजूदा सेलेक्टर्स के बारे में भी बोला लेकिन सिर्फ आर्मी फिटनेस कैंप को ले कर, जहाँ मुझे खुद को साबित करने का मौका मिला. मैंने जब कराची में गेंदबाज़ी की तब मुझे लगा कि मेरी लय वापस आ गयी है ,और शायद सेलेक्टर्स ने भी यह बात देखी तभी टीम में मेरी वापसी हुई है.”

     

    उमर गुल ने 126 एकदिवसीय मैचों में 171 विकेट लिए है. गुल ने अपने आख़िरी इंग्लैंड दौरे पर ही अपने करियर का सर्वश्रेष्ट प्रदर्शन दिया था जब उन्होंने 42 रन देकर 6 विकेट लिए थे.

    यह भी पढ़े: अब भारत और पाकिस्तान के बीच नंबर एक की जंग

    sw
    Top