भारत पर्थ में पहला एकदिवसीय मैच 309 रन का लक्ष्य देने के बाद भी हार गया . भारत ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए , रोहित शर्मा ने ऑस्ट्रेलिया में अब अब तक की सबसे अच्छी 171 रनों की नाबाद पारी खेली, उसके साथ कोहली ने भी शानदार 91 रनों की पारी खेली.

शिखर धवन बिलकुल भी लय में नहीं दिखे, और एक ख़राब शॉट खेलकर 22 गेंदों में 9 रन बनाकर आउट हुए . भारत ने श्रृंखला के पहले मैच में बल्ले से शानदार शुरुआत की मगर इस मैच में चिंता की बात भारत की गेंदबाज़ी रही . बरिंदर सरन ने पहले ही एकदिवसीय में बहुत प्रभावशाली गेंदबाज़ी करते हुए 56 रन देकर 3 अहम विकेट लिये .
भुवनेश्वर कुमार और उमेश यादव ने अच्छी गेंदबाज़ी की मगर विकेट लेने ने असफल रहे .
भारतीय गेंदबाज़ी की जान कहे जाने वाली जोड़ी रविचन्द्र आश्विन और रविंदर जडेजा ने ऑस्ट्रेलिया बल्लेबाज़ी पर ना कोई दवाब बना पाये, और साथ ही बहुत ज्यादा रन लुटाये जिस कारण कप्तान स्मिथ और बैली ने 242 रनों की साझेदारी बना डाली.

कल ब्रिसबेन में दूसरा एकदिवसीय मैच खेला जाना है, और भारत को इस मैच को जितने के लिए ये बदलाव करने पड़ सकते है –

ख़राब बल्लेबाज़ी से जूझ रहे शिखर धवन को थोडा और समय पिच पर बिताना होगा . रोहित शर्मा ने यह दिखा दिया है, कि उन्हें क्यों वनडे का एक शानदार खिलाड़ी कहा जाता है .अब समय आ गया है, जब आश्विन और जडेजा में से किसी के स्थान पर गुरकीरत सिंह मान और ऋषि धवन को एक मौका देना चाहिए. ब्रिसबेन की पिच की तेज गेंदबाजो की मददगार होती है . भारत को एक ऐसे आल-राउंडर की जरुरत है जो तेज गति की गेंदबाजी के साथ बल्लेबाज़ी भी अच्छी कर सके, इसके रूप में ऋषि धवन एक अच्छे विकल्प हो सकते है . ऋषि धवन घेरुलू क्रिकेट में अच्छे प्रदर्शन की दम पर भारतीय टीम में चुने गए है .

ऑस्ट्रेलिया श्रृंखला में 1-0 से पिछड़ी हुयी है, और श्रृंखला का दूसरा मैच कल ब्रिसबेन में खेला जाना है, जहाँ का इतिहास बताता है, कि पिच पर उछाल होगा , भारत तेज गेंदबाज़ी में एक बदलाव कर सकती है, चोट से फिर उभरने के बाद इशांत शर्मा भी एक विकल्प है, शर्मा को भुवनेश्वर के स्थान पर टीम में जगह दी जा सकती है .

पहले वनडे में फिंच और वार्नर को सस्ते में आउट करने के बाद भारतीय टीम लयहीन दिखी. कल ब्रिसबेन में भारत को श्रृंखला बराबर करने ने लिए आक्रामक खेल का प्रदर्शन करना होगा, और ऑस्ट्रेलिया पर दबाव बनाना होगा जिससे भारत को मैच जीतने में मदद मिलेगी .

पर्थ वनडे में भारत की मुख्य समस्या बीच के ओवेरो में स्पिनर के द्वारा रन लुटाने की रही. आश्विन दुसरे वनडे में अंतिम एकादश में नज़र आ सकते है, मगर जडेजा के स्थान पर ऋषि धवन या गुरकीरत को जगह मिल सकती है.   

  

  • SHARE
    sportzwiki हिंदी सभी प्रकार के स्पोर्ट्स की सभी खबरे सबसे पहले पाठकों तक पहुँचाने के लिए प्रतिबद्ध है. हमारी कोशिस यही रहती है, कि हम लोगो को सभी प्रकार की खबरे सबसे पहले प्रदान करे.

    Related Articles

    तबरेज शम्सी के लिए विराट कोहली का विकेट बना खास, आज से पहले किसी...

    एक दौर था जब इंटरनेशनल क्रिकेट में भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर का विकेट हर किसी गेंदबाज के लिए एक बड़ा सपना हुआ...

    युवराज ने डिविलियर्स को जन्मदिन की बधाई देते हुए कह दिया कुछ ऐसा लोगो...

    क्रिकेट जगत के सबसे धाकड़ बल्लेबाज एबी डीविलियर्स ने अपना जन्मदिन 17 फरवरी को मनाया। 34 वर्ष के हो चुके ए बी डीविलियर्स के...

    ऑस्ट्रेलियाई टीम की इस महान क्रिकेटर ने किया संन्यास का ऐलान, अब नहीं खेलेगी...

    ऑस्ट्रेलिया की महिला क्रिकेट टीम की उप कप्तान एलेक्स ब्लैकवेल ने सोमवार को सिडनी में अपने शानदार 15 साल के अन्तर्राष्ट्रीय और 17 साल...

    इंटरनेशनल क्रिकेट में 382 दिन बाद उतरा ये दिग्गज खिलाड़ी, पकड़े 3 अविश्वसनीय कैच,...

    किसी खिलाड़ी के लिए अपनी राष्ट्रीय टीम से बाहर होने के बाद एक बार फिर से वापसी करना आसान नहीं होता। लेकिन जब किसी...

    सुरेश रैना ने कल साउथ अफ्रीका के खिलाफ पहले ही टी-20 में किया कुछ...

    भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच पहला टी20 मैच जोहांसबर्ग में खेला गया है, जिसमें भारतीय टीम के शानदार प्रदर्शन करते हुए मेजबान टीम...