मौजूदा समय में टीम इण्डिया में गलाकाॅट प्रतिस्पर्धा चल रही है।अगर कोई भी एक खिलाड़ी अपनी फाॅर्म या फिटनेस को बरकरार नहीं रख पाता है तो उसकी जगह कई अन्य क्रिकेटर जगह बनाने के लिए आतुर रहते है।

ऐसा ही कुछ हालिया समय में भारतीय टीम के दो शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों के साथ हो रहा है, जिसमें अगर एक टीम इण्डिया में जगह बनाता है तो अन्य को बाहर बैठना पड़ सकता है। हम बात कर रहे हैं, दिग्गज बल्लेबाज अंजिक्य रहाणे और के एल राहुल की।

आईये आज हम आपको भारतीय बल्लेबाज अंजिक्य रहाणे और के एल राहुल के प्रदर्शन की तुलना करते हुए बताएगें कि कौन सा बल्लेबाज ओपनर के तौर पर भारतीय टीम के लिए ‘तुरूप का इक्का’ साबित होता है और कौन नहीं।

रहाणें में है खास दम-

बात अगर अंजिक्य रहाणे के अर्न्तराष्ट्रीय कैरियर पर की जाए तो शीर्ष क्रम के इस बल्लेबाज ने कई बार शानदार बल्लेबाजी करके टीम इण्डिया को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभायी।

अगर रहाणे के वनडे कैरियर पर बात की जाए तो इस भारतीय क्रिकेटर ने कुल 80 इंटरनेशल वनडे मैच खेलकर 33.98 के औसत से कुल 2,583 रन अपने नाम दर्ज किये हैं, जिसमें 3 शतकीय और 19 अर्धशतकीय पारी भी शामिल है।

वहीं अगर अंजिक्य रहाणे के टेस्ट कैरियर पर नजर डाला जाए तो कुल 40 अर्न्तराष्ट्रीय टेस्ट मैच खेलकर 47.16 के शानदार औसत से कुल 2,809 रन बना चुके हैं, जिसमें 9 शतकीय और 12 अर्धशतकीय पारी भी शामिल है।

राहुल मेंं भी जबरदस्त क्षमता

25 वर्षीय के एल राहुल भारतीय टीम में शीर्ष बल्लेबाज की भूमिका में रहते है, उन्होंने अपने अर्न्तराष्ट्रीय टेस्ट कैरियर में कुल 19 टेस्ट मैच खेलकर 46.27 के जबरदस्त औसत से 1,342 रन बना चुके है। इसके अलावा उन्होंने 4 शतकीय और 9 अर्धशतकीय पारी भी खेली।

दिग्गज बल्लेबाज के एल राहुल ने अपने वनडे कैरियर में कुल 10 टेस्ट खेलकर 35.42 के औसत से कुल 2,48 रन बना चुके है, जिसमें 1 शतक और 1 ही अर्धशतकीय पारी भी शामिल है।

कौन बन सकता है ‘तुरूप का इक्का’

आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ गुरूवार, 21 सिंतबर को खेले जाने वाले दूसरे वनडे मैच पर नजर डाले तो राहुल और रहाणें दोनों में ही टीम इण्डिया को अपनी बल्लेबाजी के दम पर अकेले ही जीत दिलाने का माद्दा रखते हैं।

फिर भी अगर दोनों के रिकाॅर्ड पर गौर किया जाए तो इस लिहाज से रहाणें आगे निकल जाते हैं। वहीं मौजूदा प्रदर्शन पर नजर डाला जाए, तो पहले वनडे मैच में फ्लाॅप हो चुके बल्लेबाज रहाणे की जगह दूसरे वनडे मैच में के एल राहुल को टीम इण्डिया में अवसर देना चाहिए।

खैर यह बात तो भविष्य के गर्त में ही छुपा है कि किस को टीम में जगह मिलती है और कौन होता है निराश.

  • SHARE

    Related Articles

    आस्ट्रेलियन ओपन : बेड्रिच प्री-क्वार्टर फाइनल में पहुंचे

    मेलबर्न, 20 जनवरी; चेक गणराज्य के थॉमस बेड्रिच शनिवार को अर्जेटीना के जुआन मार्टिन डेल पोटरो को हराते हुए साल के पहले ग्रैंड स्लैम आस्ट्रेलियन...

    आईएसएल-4 : दिल्ली के खिलाफ जमशेदपुर को रहना होगा सावधान

    जमशेदपुर, 20 जनवरी; जमशेदपुर एफसी हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के चौथे सीजन में अपने पदार्पण का भरपूर आनंद ले रही है। इस टीम ने...

    आस्ट्रेलियन ओपन : चुंग ने ज्वेरेव को चौंकाया, अंतिम-16 में पहुंचे

    मेलबर्न, 20 जनवरी; दक्षिण कोरिया के हेयोन चुंग ने शनिवार को चौथी सीड जर्मनी के एलेक्सजेंडर ज्वेरेव को हराते हुए साल के पहले ग्रैंड स्लैम...

    इस पूर्व क्रिकेटर ने कोहली से लेकर अश्विन को बताया टीम इण्डिया का तुरुप...

    भारतीय क्रिकेट टीम मौजूदा समय में साउथ अफ्रीका के दौरे पर है,जहां पर मेजबान टीम के खिलाफ तीन टेस्ट मैचों की सीरीज खेली जा...

    TOP 5: रॉयल रम्बल के पांच ऐसे शानदार रिकॉर्ड जो इस बार टूट सकते...

    इस बार की रोयल रम्बल 28 जनवरी को होने वाली है जिसमे कई बड़े मुकाबले देखने को मिलेंगे. इस आर्टिकल में जानिये उन रिकार्ड्स...